Ghaziabad Crime: आधी रात को बंद घरों में डकैती डालने वाले बांग्लादेशी गैंग का पर्दाफ़ाश, चार गिरफ़्तार

Ghaziabad News: गाजियाबाद पुलिस ने खुलासा किया है कि ये गैंग एक महीने में की बीस वारदातों को अंजाम दे चुका है, गिरोह के सरगना ने 40 से ज्यादा बड़े क्राइम किए हैं।
गिरफ्त में बांग्लादेशी गैंग
गिरफ्त में बांग्लादेशी गैंग

Ghaziabad Crime News: गाजियाबाद पुलिस ने बंद घरों के ताले तोड़कर चोरी करने वाले चार बांग्लादेशी (Bangladeshi) चोरों को गिरफ्तार (Arrested) किया है। इस गैंग (Gang) के सदस्य दिल्ली-एनसीआर (Delhi-NCR) में रेलवे लाइन (Rail Line) के आसपास बसी हुई कॉलोनी (Colony) में रेकी करते थे और चोरी (Theft) की बड़ी वारदातों को अंजाम देते थे। इन आरोपियों ने पिछले 1 महीने के अंदर बापू धाम मधुबन, कविनगर, मसूरी और लोनी इलाके में 20 से ज्यादा वारदातों को अंजाम दिया। 

पुलिस ने इनके कब्जे से सोने चांदी के जेवरात, सवा लाख रुपए कैश और कुंडी ताला काटने के औजार भी बरामद किए हैं। इस गैंग में दो सर्राफ़ भी शामिल है जो फरार बताए जा रहे हैं यह सर्राफ बदमाशों से लूट का सामान खरीदा करते थे। हैरानी की बात यह इस गैंग ने खुलासा किया है कि एक रात में इस गैंग ने लगातार तीन चोरी की वारदातों को अंजाम दिया था।  

जिसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे की मदद से इनकी पहचान शुरू की। इन आरोपियों की पहचान मुगल शेर, आफताब, करीम और मुरसलीन के तौर पर हुई है। मुग़लशेर इस गैंग का सरगना है। आमतौर पर किसी को खबर ना हो इसलिए यह नंगे पैर चोरी की वारदातों को अंजाम दिया करते थे। इस गैंग ने राजस्थान दिल्ली हरियाणा उत्तर प्रदेश के कई इलाकों में बड़ी चोरी और लूट की वारदातों को अंजाम दिया है।

इस गैंग के दो सदस्य और भी हैं जो अभी फरार हैं। जिनके लिए लगातार छापेमारी की जा रही है। बीते दिनों से लगातार कविनगर, मसूरी, बापूधाम और लोनी इलाके में लगातार लूट और चोरी की वारदातें हो रही थी। जिसके बाद पुलिस ने सीसीटीवी कैमरे और टेक्निकल सर्विलांस के तहत जांच शुरू की तो यह चेहरे सीसीटीवी कैमरे की जद में नजर आए जिसके बाद इनका आईडेंटिफिकेशन करके पुलिस ने इनकी तलाश शुरू कर दी थी।

पुलिस अफसरों के मुताबिक इस गैंग का सरगना मुगलशेर खूंखार अपराधी है इसके ऊपर राजस्थान गाजियाबाद दिल्ली में 40 से ज्यादा मुकदमे दर्ज है। आफताब पर 25 मुकदमे, करीम पर 19 और मुरसलीन  पर 17 अपराधिक मामले दर्ज हैं। जानकारी के मुताबिक इस गैंग के सदस्य मूल रूप से बांग्लादेश के रहने वाले हैं कई अरसे पहले दिल्ली में आकर बस गए थे।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in