आम आदमी पार्टी के विधायक के ठिकानों पर ACB की रेड, बिना लाइसेंस की विदेशी पिस्तौल बरामद

ACB Raid : आम आदमी पार्टी (AAP) के विधायक (MLA) अमानतुल्ला खान के पांच ठिकानों पर एंटी करप्शन ब्यूरो (ACB) ने छापा मारा जिसमें विदेशी पिस्तौल (Pistol) बरामद हुई, जिसका लाइसेंस (Licence) तक नहीं है।
अमानतुल्ला खान की फाइल तस्वीर
अमानतुल्ला खान की फाइल तस्वीर

ACB Raid : दिल्ली में आम आदमी पार्टी के विधायक अमानतुल्ला खान का नाम एक बार फिर सुर्खियों में आ गया है। एक बार फिर अमानतुल्ला खान पर मुसीबत का पहाड़ टूटा है क्योंकि शुक्रवार को आम आदमी पार्टी के विधायक के ठिकानों पर जब एंटी करप्शन ब्यूरो ने छापा मारा तो उनके ठिकाने से एक विदेशी पिस्तौल बरामद हुई है जिसका लाइसेंस तक नहीं है। इसके अलावा एसीबी की रेड में 12 लाख रुपये कैश भी बरामद हुए हैं जिसका हिसाब किताब अभी तक ढंग से नहीं मिला है।

बताया जा रहा है कि अमानतुल्ला खान के घर और दफ्तर समेत पांच अलग अलग जगहों पर एसीबी की रेड देर शाम तक जारी थी। जांच टीम ने अमानतुल्ला से पूछताछ के बाद ही छापा मारने की इस कार्रवाई को अंजाम दिया। बताया ये भी जा रहा हैकि दिल्ली वक़्क बोर्ड से जुड़े मामलों को लेकर ये छापामारी की जा रही है।

अमानतुल्ला खान के जमिया नगर, ओखला और गफूरनगर के अलग अलग पांच ठिकानों पर एक साथ छापा मारा गया। इसी छापे के दौरान एसीबी के अफसरों को ब्रेटा नाम की एक विदेशी पिस्तौल और कुछ कारतूस बरामद हुए हैं जिसका लाइसेंस अमानतुल्ला के पास नहीं है। य

एसीबी की रेड में बरामद पिस्तौल
एसीबी की रेड में बरामद पिस्तौल

कर्मचारियों की नियुक्तियों को लेकर लगा था ये आरोप

ACB Raid : इसी बीच अमानतुल्ला ने आरोप लगाया है कि ये छापा राजनीति के तहत डाला गया है। अमानतुल्ला ने कहा है कि असल में इन लोगों ने मुझे टारगेट कर रखा है। जब भी कोई वक्फ बोर्ड को लेकर किसी भी तरह सी शिकायत करता है तो ये लोग मुझे पूछताछ के लिए बुला लेते हैं।

अपनी सफाई देते हुए अमानतुल्ला ने कहा कि मैंने वक्फ बोर्ड के पास 125 स्थायी कर्मचारियों के लिए प्रस्ताव भेजा था लेकिन वो मंजूर नहीं हुआ। लिहाजा मुझे काम के लिए संविदा कर्मचारियों को नियुक्त किया और इस काम में सभी मानदंडों का पूरी तरह से पालन किया गया था। भर्ती समिति ने योग्यता के आधार पर नियुक्ति की है। ऐसे में यह बात कतई नहीं कही जा सकती है कि इस भर्ती में मेरे रिश्तेदारों को वरीयता दी गई।

अपने करीबियों को फायदा पहुँचाने का लगा है संगीन इल्जाम

ACB Raid : उधर एसीबी की तरफ से बताया गया है कि अमानतुल्ला खान पर वक़्फ बोर्ड के बैंक खातों में वित्तीय गड़बड़ी, वक्फ बोर्ड की संपत्तियों में किरायेदारी का निर्माण, वाहनों की खरीद में भ्रष्टाचार और दिल्ली वक़्फ बोर्ड में सेवा नियमों में उल्लंघन करते हुए 33 लोगों की अवैध नियुक्ति के आरोप लगाए गए हैं।

असल में इस संबंध में एसीबी ने जनवरी 2020 में भ्रष्टाचार निवारण अधिनियम और IPC की अलग अलग धाराओं में केस दर्ज किए गए हैं। आरोप ये भी है कि दिल्ली वक़्फ बोर्ड के चेयरमैन रहते हुए अमानतुल्ला खान ने अपने पद का दुरुपयोग करने और अपने ही करीबियों की नियुक्तियां के आरोप लगे हैं।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in