एक और रिश्ते के ख़ून की सिसकती कहानी : तीसरे पति और सौतेली बेटी में क़त्ल वाला इश्क़

Shams ki jubani : ये घटना है कर्नाटक के बेंगलुरु की. यहां के इलेक्ट्रॉनिक सिटी एरिया में 27 दिसंबर को कार सवार महिला की खौफनाक तरीके से हत्या कर दी गई थी.

Murder Mystery News : ये घटना है कर्नाटक के बेंगलुरु की. यहां के इलेक्ट्रॉनिक सिटी एरिया में 27 दिसंबर को कार सवार महिला की खौफनाक तरीके से हत्या कर दी गई थी. उस पर धारदार हथियार से हमला किया गया था. इस घटना की जांच में पता चला था कि मरने वाली महिला अर्चना थी. इस घटना के मुख्य चश्मदीद और अर्चना के पहले पति से हुआ बेटा ही होता है.

इसके अलावा वहां से मिले सीसीटीवी फुटेज से पता चलता है कि अर्चना पर हमला करने वाला कोई और नहीं बल्कि उसका पति नवीन था. जो सीसीटीवी फुटेज में कुल्हाड़ी से मारते हुए देखा गया था. इस वारदात में उसके साथ 5 और लोग शामिल होते हैं. वारदात के समय हमलावरों ने अर्चना के साथ उनके बेटे और कार ड्राइवर को भी मारने का प्रयास किया था.

लेकिन 16 साल का बेटा वहां से किसी तरह भाग निकला था वहीं ड्राइवर मामूली रूप से चोटिल हुआ था. इस घटना की सूचना के बाद पुलिस ने गंभीर रूप से घायल महिला को अस्पताल में भर्ती कराया था. लेकिन इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी. इसके बाद बेटे से पूछताछ के आधार पर पुलिस ने मामले की तफ्तीश की तब कई चौंकाने वाले खुलासे हुए.

Crime Story in hindi : इस पूरी घटना में पुलिस ने मुख्य आरोपी नवीन को हिरासत में लेकर पूछताछ की. तब ये भी पता चला कि पूरी साजिश में महिला अर्चना की सगी बेटी भी शामिल थी. उस बेटी का नाम युकिता रेड्डी है.

दरअसल, अर्चना की प्रॉपर्टी पर कब्जा करने के लिए नवीन ने उसकी बेटी को पहले अपने प्यार के जाल में फंसाया और उसके साथ अवैध संबंध बनाए. फिर प्रॉपर्टी पर कब्जाने के लिए युकिता की मदद से ही उसकी मां और भाई को मारकर पूरी प्रॉपर्टी कब्जाने की साजिश रच डाली.

पुलिस की जांच में पता चला कि अर्चना को पहले तलाक के बाद 15 करोड़ रुपये का मुआवजा मिला था. इस मुआवजे और अपने पिता की करीब 40 करोड़ की प्रॉपर्टी के साथ अर्चना ने रियल एस्टेट का बिजनेस शुरू किया था. इस बिजनेस में एक शख्स मदद करता है. फिर उसी से अर्चना दूसरी शादी कर लेती है. कई साल तक सबकुछ ठीक चलता है लेकिन फिर पैसों को लेकर विवाद शुरू हो जाता है.

इनकी कंपनी में ही नवीन काम कर रहा था. दोनों के विवाद के दौरान जब अर्चना परेशान होती थी तब नवीन उसकी मदद करता था. इस तरह दोनों अर्चना और नवीन में प्यार हो जाता है. वहीं, अर्चना ज्यादा विवाद बढ़ने पर दूसरे पति से भी तलाक ले लेती है और अपने दोनों बच्चों के साथ अलग हो जाती है. इसके बाद वो नवीन से तीसरी शादी कर लेती है. शुरू में इनके बीच सबकुछ ठीक होता है. दोनों बच्चों के साथ अर्चना और नवीन रहने लगते हैं.

<div class="paragraphs"><p>अपने परिवार व बेटे के साथ अर्चना</p></div>

अपने परिवार व बेटे के साथ अर्चना

तीसरी शादी और रिश्तों में उलझी मर्डर मिस्ट्री

Shams ki kahani : लेकिन शादी के कुछ साल बाद ही तीसरे पति यानी नवीन की नजर पत्नी की प्रॉपर्टी पर पड़ जाती है. वो उसे अपने नाम पर कराना चाहता है, लेकिन अर्चना ऐसा करने से मना कर देती है.

उसी बीच, नवीन बार-बार अर्चना से उसके पिता के नाम की 40 करोड़ की प्रॉपर्टी में अपना नाम भी जुड़वाना चाहता है. लेकिन इससे भी अर्चना मना कर देती है. इस तरह दोनों में मनमुटाव हो जाता है. इस बीच, बेटी युविका रेड्डी और नवीन दोनों एक दूसरे के करीब आ जाते हैं. वहीं, पति से अनबन होने के चलते अर्चना की दोस्ती भी एक जिम ट्रेनर से हो जाती है.

बताया जाता है कि इसी बीच, युविका और नवीन के रिश्तों के बारे में अर्चना को पता चलता है तो वो विरोध करती है. लेकिन बेटी ने मां की बातों को अनसुना कर दिया. इस वजह से नाराज होकर अर्चना ने नवीन और अपनी बेटी को घर से बाहर कर दिया. यही नहीं, दोनों को पैसे देने भी बंद कर दिए. इसके अलावा, अर्चना ने नवीन से तलाक लेने की अर्जी भी डाल दी.

वहीं, नवीन अपनी सौतेली बेटी के साथ लिव-इन में रहने लगा था. लेकिन कुछ समय बाद पैसों की दिक्कत होने लगी तो अर्चना से प्रॉपर्टी में अपना और युविका का हिस्सा मांगने लगा. लेकिन अर्चना ने सीधे मना कर दिया और तुरंत तलाक लेकर हमेशा के लिए अलग होने का फैसला भी दे दिया. ये बातें सुनकर ही नवीन ने हत्या की पूरी साजिश रच डाली.

बेटी के साथ साजिश रच कराया मां का मर्डर

इस पूरी हत्या को अंजाम देने के लिए नवीन ने पूरी साजिश रची और घटना का दिन 27 दिसंबर को चुना. क्योंकि उसी दिन अर्चना अपनी मां के घर जाकर वोट देने वाली थी. इसलिए अर्चना अपने 16 साल के बेटे और ड्राइवर के साथ कार से मां के पास जा रही थी.

उसी समय रास्ते में ही अर्चना की कार को जिगनी की तरफ जाने वाली रोड पर जबरन ओवरटेक करके रोक लिया गया. इसके बाद नवीन समेत 4 से 5 लोगों ने हमला कर दिया. बताया जा रहा है कि नवीन ने तभी हमला किया था.

उसी दौरान बेटा और ड्राइवर प्रमोद किसी तरह बचकर भाग निकले थे लेकिन अर्चना की इस घटना में घायल होने के बाद मौत हो गई. अब पुलिस ने मुख्य आरोपी नवीन, युविका और 3 अन्य लोगों को गिरफ्तार कर लिया है.

Related Stories

No stories found.