लिव-इन पार्टनर की हत्या कर चुपके से कर दिया अंतिम संस्कार, 1 कॉल से मिला क़ातिल का पता

Crime News in hindi : आरोपी संदीप ने बताया कि प्रीति से उसका हर दिन झगड़ा होता था. 15 अप्रैल को गुस्से में आकर उसने प्रीति की गला दबाकर हत्या कर दी. और उसका अंतिम संस्कार कर दिया.
लिव-इन पार्टनर की हत्या कर चुपके से कर दिया अंतिम संस्कार, 1 कॉल से मिला क़ातिल का पता

मर्डर 

Delhi Crime News : दिल्ली से मर्डर की एक सनसनीखेज खबर आई है. यहां लिव-इन पार्टनर में रहने वाली महिला की गला दबाकर हत्या कर दी गई. हत्या के बाद बिना किसी को बताए आरोपी युवक उसका अंतिम संस्कार भी करने लेकर चला गया. उसने मरने वाली महिला का अंतिम संस्कार कर भी दिया.

पुलिस को गुमराह करने के लिए लड़की के बारे में आरोपी ने कोई जानकारी नहीं दी. मामले की जांच के बाद दिल्ली पुलिस ने इस मामले में कत्ल का केस दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है. मरने वाली महिला पहले से शादीशुदा था. लेकिन एक साल से पति से अलग होकर लिव-इन पार्टनर के साथ रह रही थी. लड़की दिल्ली की रहने वाली थी लेकिन आरोपी उसे राजस्थान का बताकर पुलिस को चकमा दे रहा था.

इस घटना को लेकर शाहदरा के भोला नाथ नगर से 15 अप्रैल को एक शख्स ने पीसीआर कॉल किया था. पुलिस को बताया कि उसके पड़ोस में रहने वाली एक महिला प्रीति की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई है. मौके पर पहुंची पुलिस को पता लगा प्रीति का दोस्त संदीप अपने रिश्तेदारों के साथ महिला का अंतिम संस्कार करने ले गया है. पुलिस की टीम जब निगमबोध घाट पहुंची पता लगा कि प्रीति का अंतिम संस्कार हो चुका है।.

पुलिस को बताई मौत की अजीब कहानी

Murder News : इसके बाद पुलिस ने संदीप से पूछताछ की तो संदीप ने पुलिस से बताया कि प्रीति ने कभी भी अपने घर वालों के बारे में उसे नहीं बताया. संदीप ने कहा कि उसे बस इतना पता है कि प्रीति राजस्थान के जयपुर की रहने वाली है.

संदीप ने बताया कि 15 अप्रैल को प्रीति की तबीयत ठीक नहीं लग रही थी. जिसके बाद वह उसे पास के एक डॉक्टर के पास ले गया, और वहां से वह दवा लेकर आया. दवा खाने के बाद प्रीति को उल्टियां होने लगी और कुछ देर बाद उसकी मौत हो गई. जिसके बाद वह अपने घर वालों को बुलाया प्रीति का अंतिम संस्कार कर दिया.

15 अप्रैल को गला दबाकर प्रीति की हुई थी हत्या

Murder News : केस की जांच में जुटी पुलिस ने पड़ोसियों से पूछताछ की लेकिन प्रीति के बारे में किसी को कोई खास जानकारी नहीं थी. पुलिस को पता लगा कि संदीप के साथ पिछले 1 साल से किराए के मकान में रह रही थी.

इस बीच पुलिस टीम को 6 दिनों की जांच के बाद 21 अप्रैल को पता लगा कि प्रीति दिल्ली के ही नंद नगरी की रहने वाली है. पुलिस ने प्रीति के माता-पिता को थाने बुलाया और उनके बयान दर्ज किए. प्रीति के माता-पिता ने संदीप के खिलाफ पुलिस को लिखित शिकायत दी.

शिकायत मिलने के बाद पुलिस ने संदीप को हिरासत में लेकर पूछताछ की. पूछताछ में संदीप ने बताया कि प्रीति से उसका हर दिन झगड़ा होता था. 15 अप्रैल को गुस्से में आकर उसने प्रीति की गला दबाकर हत्या कर दी. और उसका अंतिम संस्कार कर दिया.

पुलिस ने इस मामले में एफआईआर दर्ज कर संदीप को गिरफ्तार कर लिया. 35 साल की प्रीति शादीशुदा थी लेकिन वह अपने पति से अलग हो गई थी. और पिछले 1 साल से संदीप के साथ रह रही थी. प्रीति के तीन बच्चे थे जिनमें से दो उसके पहले पति के साथ रहते थे जबकि एक प्रीति के साथ रह रहा था.

<div class="paragraphs"><p>मर्डर&nbsp;</p></div>
दृश्यम की एक-एक लाइन कॉपी कर ऐसे दिया गया इस डबल मर्डर की मिस्ट्री को अंजाम
<div class="paragraphs"><p>मर्डर&nbsp;</p></div>
एक होनहार फुटबॉलर की मर्डर मिस्ट्री, जिसके टैटू ने ही ब्लाइंड केस में कातिल का पता दे दिया

Related Stories

No stories found.