Horror Story in Hindi: एक ऐसा मोबाइल नंबर जिसे इस्तेमाल करने वाला नहीं बच पाता है ज़िंदा! अब तक की सबसे हैरान करने वाली खबर

हमारे समाज में बहुत सारे टोने टोटके हैं जो हमारी ज़िंदगियों में जाने-अनजाने असर डालते हैं। एक ऐसा ही मॉर्डन ज़माने का टोटका है बुल्गारिया का एक मोबाइल नंबर, ये मोबाइल नंबर इस कदर मनहूस है कि जिसने भी इसे इस्तेमाल किया वो मर गया।
Horror Story in Hindi: एक ऐसा मोबाइल नंबर जिसे इस्तेमाल करने वाला नहीं बच पाता है ज़िंदा! अब तक की सबसे हैरान करने वाली खबर
सांकेतिक फोटो

आम लोगों की ज़िंदगी में मोबाइल का इस्तेमाल पिछले कुछ 30 सालों में शुरु हुआ, लिहाज़ा इस हिसाब से ये नए ज़माने का टोटका है। टोटका ये है कि दुनिया में एक ऐसा मोबाइल नंबर है जो जिसके नाम भी एलॉट हुआ वो ज़िंदा बच नहीं पाया, उसकी मौत हो गई। इस मोबाइल नंबर के साथ इतनी घटनाएं हो चुकी हैं कि अब ये मोबाइल नंबर इस्तेमाल करने वालों के लिए मौत की गारंटी बन चुका है।

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो

अब इस मोबाइल नंबर के पीछे का राज़ क्या है ये तो नहीं पता, इसलिए मुमकिन है कि ये एक इत्तेफाक भी हो सकता है। मगर इत्तेफाक भी है तो भी ये बहुत जानलेवा इत्तेफाक है। क्योंकि एक दो नहीं तीन तीन लोग इस मोबाइल नंबर को इस्तेमाल करने के बाद मौत की नींद सो चुके हैं। आपको बता दें कि ये मोबाइल नंबर बुल्गारिया का है, जो 10-15 साल तक लोगों की जान के पीछे पड़ा रहा। इन तमाम घटनाओं के बाद लोगों ने इस नंबर को ही मनहूस मान लिया है।

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो

Viral News: सबसे पहले ये नंबर व्लादिमीर ग्राशनोव को अलॉट हुआ, जो एक नामी कंपनी के सीईओ थे, जिसके इस्तेमाल के सालभर में महज़ 48 साल की उम्र में कैंसर की वजह से उनकी मौत हो गई, उसके बाद ये नंबर दिमेत्रोव नाम के एक माफिया डीलर को अलॉट हुआ, कुछ ही वक्त के बाद उसका मर्डर हो गया था। फिर साल 2005 में ये नंबर बुल्गारिया के एक बिज़नेसमैन को मिला, उसका भी मर्डर हो गया। जिस मनहूस नंबर ने 3-3 लोगों की जान ले ली, वो नंबर सुनने में काफी VIP है, शायद इसीलिए लोग इसे अलॉट करा लेते थे।

सांकेतिक फोटो
सांकेतिक फोटो

ये नंबर था 0888888888, साल 2000 से 2005 के बीच इस नंबर की वजह से 3 लोगों की जान गई। हालांकि कंपनी ने इस नंबर के मनहूस घोषित होने पर भले को प्रतिक्रिया ना दी हो लेकिन उसने भी इसे सस्पेंड कर दिया गया है।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in