Delhi Crime News...दिल्ली के गोविंदपुरी थाना में ढिशूम-ढिशूम, डीसीपी ईशा पांडे ने नहीं दिया कोई जवाब!

Delhi SHO Fighting in Police Station : जिनको अपराधियों को पीटना चाहिए, वो खुद ही लड़ पडे़। ये वाक्या है दिल्ली के गोविंदपुरी थाना का, जहां एसएचओ साहब और सब इंस्पेक्टर आपस में ही भिड़ गए।
फाइल फोटो
फाइल फोटो

Delhi SHO Fighting in Police Station: 'आप मेरा समय खराब कर रहे हैं।' और इसके बाद शुरू हो गई ढिशूम-ढिशूम। ये वाक्या हैरान करता है। दिल्ली पुलिस के एक दबंग SHO और दबंग सब इंस्पेक्टर में बहस हो गई। बहस इस कदर बढ़ गई कि सब इंस्पेक्टर ने SHO साहब के दो लगा दिए। (Delhi Police ) SHO के हाथ में चोट लगी है। आरोप है कि SHO ने भी सब इंस्पेक्टर की पिटाई कर दी। जैसे ही ये मामला साउथ-ईस्ट ड्रिस्ट्रिक के सीनियर अफसरों के संज्ञान में आया। सब इंस्पेक्टर महेश चंद के खिलाफ विभागीय जांच के आदेश दे दिए गए। साथ में उन्हें सस्पेंड भी कर दिया गया।

dcp isha pandey
dcp isha pandey

पूरा मामला जानिए

ये वाक्या मंगलवार सुबह गोविंदपुरी थाने में हुआ। इंस्पेक्टर जगदीश और सब इंस्पेक्टर महेश चंद के बीच ये हाथापाई हुई। 2010 बैच के सब इंस्पेक्टर महेश चंद SHO के पास एक केस से संबंधित स्टेट्स रिपोर्ट में साइन करवाने के लिए पहुंचे। ये रिपोर्ट हाईकोर्ट में पेश होनी थी। एसएचओ ने इसमें कुछ गलतियां निकाली और ठीक से रिपोर्ट तैयार करने के लिए कहा। इस पर सब इंस्पेक्टर महेश ने कहा कि वो इस रिपोर्ट को Standing Counsel से चेक करवा चुके हैं। दोनों के बीच बहस हो गई। बहस हाथापाई तक पहुंच गई। ये सब कुछ हुआ थाने के अंदर। सोचिए दोनों इस कदर लड़े कि बाद में दोनों की डाक्टरी जांच भी हुई और वो भी एम्स अस्पताल में।

हालांकि कई अफसर इसे साधारण मामला मान रहे हैं और इसे तूल न देने की बात कह रहे हैं। लेकिन इस घटना ने कई सवाल जरूर खड़े कर दिए हैं।

मसलन,

इस प्रकरण में गलती किसकी है ?

पहले हाथापाई किसने शुरू की ?

क्या SHO द्वारा जातिसूचक शब्दों का इस्तेमाल किया गया ?

क्या दोनों के बीच कोई पुराना विवाद चल रहा था ?

क्या एसएचओ सब इंस्पेक्टर को परेशान करता था ?

क्यों सब इंस्पेक्टर ने आपा खोया ?

क्यों SHO ने आपा खोया ?

क्या ये लड़ाई EGO की ज्यादा लग रही है ?

क्या स्टाफ के सामने अपशब्द बोलने से SHO भड़के ?

क्या सब इंस्पेक्टर को उनकी सीनियोरिटी का ख्याल नहीं रखना चाहिए था ?

क्या SHO ने सब के सामने सब इंस्पेक्टर को जलील किया ?

पता चला है कि सब इंस्पेक्टर ने इस बाबत 100 नंबर पर काल भी किया था।

गोविंदपुरी थाने के एसएचओ पर गंभीर आरोप लगे हैं। गत दिनों उनके खिलाफ विजिलेंस ऑफिस में शिकायत की गई थी।

इस संबंध में CRIME TAK ने इलाके की साउथ ईस्ट डिस्ट्रिक की डीसीपी ईशा पांडे से बात करनी चाही, लेकिन उन्होंने फोन नहीं उठाया और न ही मैसेज का जवाब दिया।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in