Ankita Bhandari Hatyakand
Ankita Bhandari Hatyakand

Ankita Murder : अंकिता हत्याकांड के आरोपियों को लोगों ने इतना पीटा कि एक-एक कपड़े फट गए, देखें VIDEO

Ankita Bhandari Hatyakand : अंकिता भंडारी हत्याकांड के तीनों आरोपियों की लोगों ने जमकर पिटाई की. इसमें आरोपियों के एक-एक कपड़े फट गए. देखिए अंकिता के कातिलों की पिटाई का देखें वीडियो.

Ankita Bhandari Murder Case : 19 साल की अंकिता भंडारी के कातिल आरोपियों को पब्लिक ने पुलिस के सामने उनकी गाड़ी में ही खूब पीटा. आरोपियों के कपड़े तक फाड़ दिए. ये पिटाई अंकिता भंडारी मर्डर (Ankita Murder) के मुख्य आरोपी पुलकित आर्य और इसके दोनों सहयोगी अंकित और सौरभ भास्कर की हुई. तीनों को जब पुलिस कोर्ट ले जा रही थी तभी बैराज पुल के पास सैकड़ों की संख्या में लोगों ने इन्हें घेर लिया. इसके बाद आरोपियों की बल-भर कुटाई की. इस पिटाई में आरोपियों के बदन पर पड़े एक-एक कपड़े फट गए.

पब्लिक की पिटाई से आरोपियों के फटे एक-एक कपड़े
पब्लिक की पिटाई से आरोपियों के फटे एक-एक कपड़े

लोगों ने कहा कि अब अंकिता बेटी तो वापस नहीं आएगी. ये आरोपी भी बड़े पिता की औलाद हैं. सजा कब मिलेगी. पता नहीं. लेकिन इन्हें सबक सिखाना जरूरी है. वहीं, इस घटना के तीनों आरोपियों को कोर्ट में पेश करने के बाद पुलिस को 14 दिनों की कस्टडी मिल गई. अब पुलिस तीनों से पूछताछ के आधार पर इनकी निशानदेही से अंकिता की लाश बरामद करेगी. हालांकि, 18 सितंबर की रात में अंकिता को नहर में धक्का देने के बाद से लाश मिली नहीं है. अब अंकिता की तलाशी के लिए स्टेट डिजास्टर रेस्क्यू फोर्स की मदद ली जा रही है.  

बीजेपी नेता का बेटा पुलकित पहले भी रह चुका है विवादों में 

 Ankita Murder Case : अंकिता भंडारी हत्याकांड का मुख्य आरोपी पुलकित आर्य उत्तराखंड के पूर्व राज्य मंत्री और बीजेपी नेता विनोद आर्य का बेटा है. पुलकित का वनंत्रा रिजॉर्ट है. इस समय विनोद आर्य भाजपा के ओबीसी मोर्चा की राष्ट्रीय कार्यकारिणी के सदस्य हैं. खुद विनोद आर्य ने इस पूरी घटना पर कहा है कि यौन उत्पीड़न करने वाली बात पूरी तरह से झूठ है. लेकिन ये जरूर कहा कि अगर वो गलत है तो उसे जरूर सजा मिलनी चाहिए. इससे पहले, पुलकित आर्य एक बार यूपी के विवादित नेता अमरमणि त्रिपाठी के साथ उत्तरकाशी के प्रतिबंधित एरिया में घुस गया और था और विवाद किया था. 

पिटाई से आरोपियों का हुआ ये हाल
पिटाई से आरोपियों का हुआ ये हाल

मंत्रीजी को स्पेशल चाय, लड़की को बाहर टहलाती रही पुलिस

 Ankita Bhandari Murder Mystery : इस पूरे मामले को लेकर पिछले कुछ दिनों से सोशल मीडिया पर लोग लगातार पोस्ट कर रहे हैं. स्थानीय पत्रकारों ने दावा किया कि अंकिता के पिता थाने के बाहर चक्कर काट रहे थे. वहीं, मामला तूल पकड़ने पर जब आरोपी पुलकित के पिता थाने आए तो उन्हें पुलिस ने सम्मान के साथ बैठाकर स्पेशल चाय पिलाई. ऐसे में आखिर कैसे मिल सकता है इंसाफ. अब इस मामले को लेकर सोशल मीडिया पर लगातार पोस्ट किए गए तब कार्रवाई की गई.

 आखिरी कॉल और वॉट्सऐप चैट में अंकिता से गलत होने का खुला राज

 Ankita Bhandari Last Call and Chat : सोशल मीडिया पर अंकिता की आखिरी कॉल और एक वॉट्सऐप चैट भी वायरल हो रहा है. जिसमें कॉल पर अंकिता रो रही है. रोते हुए बता रही है कि उसने गलत किया. फिर जो 18 सितंबर की चैट है उसमें लिखा है कि उसने मुझे  KISS करने की कोशिश की. दूसरा पूछता है कि किसने. पुलकित ने. तो हां में जवाब देते हुए कहती है कि वो समझता क्या है अपने आप को. इस चैट और आखिरी कॉल से पता चलता है कि अंकिता के साथ गलत हुआ था कि जिसकी वजह से हत्या होने की आशंका है.  

Justice for Ankita Bhandari
Justice for Ankita Bhandari

रिजॉर्ट कर्मचारी अलग-अलग बयान दे रहे थे, तभी हुआ शक

 Ankita Murder Kahani : अंकिता के गायब होने के बाद रिजॉर्ट के कर्मचारी अलग-अलग बयान दे रहे थे. इसके बाद मामला तूल पकड़ा तब उत्तराखंड पुलिस ने आरोपियों में रिसॉर्ट मालिक पुलकित आर्य, मैनेजर सौरभ भास्कर और असिस्टेंट मैनेजर अंकित गुप्ता को अरेस्ट कर लिया गया. वहीं, इस केस को लेकर यहां के सीएम पुष्कर धामी ने कहा है कि मामले में सख्त कार्रवाई की जाएगी.

वहीं, राज्य के डीजीपी अशोक कुमार (DGP Ashok Kumar) का कहना है कि मामले की जानकारी मिलते ही पुलिस ने एक्शन लिया. उन्होंने बताया कि लक्ष्मणझूला थाने के पास ही एक प्राइवेट रिजॉर्ट है. उसमें श्रीकोट गांव की लड़की काम करती थी. वो 5 दिनों से लापता थी. पहले ये केस राजस्व पुलिस में गुमशुदगी का दर्ज हुआ था. उसके बाद लक्ष्मण थाने में ट्रांसफर हुआ और फिर 24 घंटे में ही तीनों आरोपी की गिरफ्तारी कर ली गई. हालांकि, लड़की की अभी लाश नहीं मिली है. उसकी तलाश की जा रही है. वहीं, इस घटना के तीनों आरोपियों को पुलिस लेकर जब कोर्ट जा रही थी तब गुस्से में लोगों ने रास्ते को जाम कर दिया. महिलाओं ने वीडियो बनाने पर भी गुस्सा जताया.

अंकिता से जबरन देह व्यापार कराना चाहता था रिजॉर्ट मालिक

Ankita Bhandari Murder Story : पौड़ी गढ़वाल में अंकिता भंडारी मर्डर के पीछे की कहानी बेहद सनसनीखेज है. असल में पूर्व मंत्री और बीजेपी नेता (BJP Leader) का बेटा अंकिता को गलत धंधे में ढकेलना चाहता था. इसके लिए वो लगातार उस पर दबाव बना रहा था. पुलिस का दावा है कि मुख्य आरोपी पुलिकत आर्य और इसके साथी अंकित और सौरभ पुष्कर ने जुर्म कबूल कर लिया है.

पुलिस सूत्रों के अनुसार, इनका दावा है कि अंकिता को देह व्यापार के धंधे में धकेलना चाहते थे. दैनिक जागरण की रिपोर्ट के अनुसार, रिजॉर्ट मालिक पुलकित चाहता था कि अंकिता रिजॉर्ट में आने वाले कस्टमर को खुश करे. उनके साथ रिलेशन भई बनाए. लेकिन उसने ऐसा करने से सीधे मना कर दिया था. इसी बात को लेकर 18 सितंबर को विवाद भी हो गया था.

जिसके बाद तीन लोगों के मिलकर उसे धक्का देकर चीला शक्ति नहर में गिरा दिया था. इसके बाद तीनों वापस रिजॉर्ट लौट आए थे. पुलिस की जांच में सीसीटीवी में दिखा की जब रिजॉर्ट से एक स्कूटी और एक बाइक पर अंकिता समेत 4 लोग बाहर निकले थे. लेकिन देर रात में लौटे सिर्फ 3 ही थे. अंकिता नहीं लौटी थी. तभी ये समझ आ गया कि अंकिता के साथ अनहोनी हो चुकी है. लेकिन तीनों आरोपी पहले पुलिस को इधर-उधर भटकाते रहे.

 

अंकिता ने कहा, रिजॉर्ट की सच्चाई सबको बताऊंगी तो पुलकित ने नहर में दिया धक्का

Ankita ka Murder kaise hua :18 सितंबर की शाम को चारों एक बाइक और स्कूटी से रिजॉर्ट से निकले थे. इसके बाद सभी बैराज होते हुए एम्स के पास पहुंचे. इसके बाद पुलकित अंधेरे में रुका तो अन्य लोग भी रुक गए. उसके बाद तीनों ने शराब पी. मोमो खाए. इसके बाद अंकिता से पुलकित बात करने लगा. उसे समझाने लगा. वो कह रहा था कि अंकिता अपने साथियों के बीच हमें बदनाम करती है. दूसरों को कहती है कि उसे कस्टमर से रिलेशन बनाने के लिए दबाव बनाया जाता है. इसी बात को लेकर अंकिता गुस्सा हो गई. अंकिता ने कहा कि मैं रिजॉर्ट की पूरी सच्चाई सबको बता दूंगी.

इतना कहकर गुस्से में अंकिता ने पुलकित का मोबाइल छीन लिया और नहर में फेंक दिया. इसके बाद पुलकित भी गुस्से में हाथापाई करने लगा और अंकिता को धक्का देकर नहर में गिरा दिया. इसके बाद तीनों वहां से रिजॉर्ट लौट आए. वहां पर शैफ मनवीर ने जब पूछा कि अंकिता कहां है तो इन लोगों ने कह दिया कि वो हमारे साथ गई ही नहीं थी. अगली सुबह दावा किया गया कि अंकिता और पुलकित दोनों हरिद्वार चले गए. लेकिन सोशल मीडिया पर लगातार सवाल उठाए जाने के बाद पुलिस ने तीनों आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया लेकिन अंकिता की लाश की अभी भी तलाश की जा रही है.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in