Chhatarpur Murder: केमिस्ट्री की टीचर बीवी ने डॉक्टर पति को सोते हुए दिया भयानक करंट

ऊपर वाले कमरे में ऐसा भी क्या हुआ की ममता ने डॉ. नीरज का क़त्ल कर दिया और कमरे में ख़ून के एक भी छीटें नहीं थे. आख़िर क्यों पति की लाश को घर में छोड़कर प्रोफेसर ममता को उस दिन छतरपुर से झांसी जाना पड़ा.
Crime News
Crime News

MP CRIME NEWS: मध्यप्रदेश का छतरपुर इलाका, साल 2021 और तारीख़ 1 मई. प्रोफेसर ममता पाठक ने थाना सिविल लाइन को सूचना दी. ममता ने कहा कि पति डॉ. नीरज पाठक 29 अप्रैल 2021 को ऊपर वाले कमरे में लेटे थे.

रात करीब 9 बजे मैं उन्हें खाना खाने के लिए कमरे में बुलाने पहुंची. पति पलंग पर लेटे थे, लेकिन मेरी बातों पर कोई रिप्लाई नहीं कर रहे थे. मैंने पास जाकर देखा तो वो मरे पड़े थे. उन्हें 7-8 दिन से बुखार आ रहा था, मुझे और मेरे बेटे को भी बुखार आ रहा था, इस कारण मैं 30 अप्रैल 2021 को सुबह बेटे नितीश के साथ इलाज कराने झांसी चली गई थी. रात को लौटी तो आपको सारी बात बता रही हूं.

साल 2021 का बात तो हो गई. लेकिन अब बात साल 2022 की. तो इसी साल हाल ही में प्रोफेसर पत्नी को अपने ही पति डॉ. नीरज पाठक का क़त्ल करने के मामले में कोर्ट ने उम्रकैद की सज़ा सुना दी है. साथ ही कोर्ट ने 10 हजार का जुर्माना भी लगा दिया.

लेकिन ऊपर वाले कमरे में ऐसा भी क्या हुआ की ममता ने डॉ. नीरज का क़त्ल कर दिया और कमरे में ख़ून के एक भी छीटें नहीं थे. आख़िर क्यों पति की लाश को घर में छोड़कर प्रोफेसर ममता को उस दिन छतरपुर से झांसी जाना पड़ा.

इस पूरी कहानी या कहें क़त्ल की साज़िश की प्लीनिंग आज से 20 साल पहले से शुरू हुई. इसे जानने और समझने के लिए देखें पूरा वीडियो.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in