महिला सिपाही के साथ पकड़ाए थे डीएसपी, होटल के रूम में थे दोनों, हुई ऐसी कार्रवाई, कोई सोच भी नहीं सकता

ADVERTISEMENT

महिला सिपाही के साथ पकड़ाए थे डीएसपी
महिला सिपाही के साथ पकड़ाए थे डीएसपी
social share
google news

UP News: आमतौर पर नौकरी में प्रमोशन होता है, लेकिन उत्तर प्रदेश के उन्नाव में एक पुलिस अधिकारी का डिमोशन हो गया है. यहां के तत्कालीन डिप्टी एसपी कृपा शंकर कनौजिया को उनकी हरकतों और पुलिस की छवि धूमिल करने के आरोप में डिप्टी एसपी से सीधे कांस्टेबल बना दिया गया है. यह कदम उनकी अनुचित गतिविधियों के चलते उठाया गया, जिससे पुलिस विभाग की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा था.

रिपोर्ट के अनुसार, कृपा शंकर कनौजिया ने 6 जुलाई 2021 को उन्नाव के एसपी से पारिवारिक कारणों से छुट्टी मांगी थी. इसके बाद, वह जुलाई 2021 से लापता हो गए थे. बाद में पता चला कि छुट्टी मंजूर होने के बाद, वे अपने घर जाने के बजाय कहीं और चले गए थे. इससे उनकी गैर-हाजिरी के कारण विभाग में चिंता उत्पन्न हुई थी.

महिला सिपाही के साथ पकड़ाए थे डीएसपी

सीओ कृपा शंकर कनौजिया को एक महिला सिपाही के साथ होटल में पकड़ा गया था. रिपोर्ट के मुताबिक, उन्होंने कानपुर के एक होटल में चेकइन किया था और उनके साथ एक महिला सिपाही भी थी. इस दौरान कृपा शंकर ने अपने निजी और सरकारी, दोनों मोबाइल नंबर बंद कर दिए थे. जब सीओ का नंबर बंद आया तो उनकी परेशान पत्नी ने जानकारी हासिल करने की कोशिश की. उन्हें पता चला कि उनके पति छुट्टी लेकर घर के लिए निकले थे, लेकिन पहुंचे नहीं। तब उनकी पत्नी ने एसपी उन्नाव को फोन करके मदद मांगी थी.

ADVERTISEMENT

होटल के रूम में थे दोनों

पत्नी की शिकायत के बाद, एसपी उन्नाव ने सीओ कृपा शंकर का पता लगाने के लिए सर्विलांस टीम को काम पर लगाया। इस जांच के दौरान पता चला कि कृपा शंकर कनौजिया का मोबाइल नेटवर्क कानपुर के एक होटल में आकर बंद हुआ था. उन्नाव पुलिस ने कानपुर के उस होटल में जाकर जांच की, जहां कृपा शंकर की लोकेशन मिली थी। पुलिसकर्मियों ने जांच में पाया कि कृपा शंकर और महिला सिपाही एक साथ होटल में मौजूद थे. सीसीटीवी कैमरे में भी दोनों की एंट्री कैद हो गई थी, जिसे सबूत के तौर पर पुलिस ने अपने साथ ले लिया था.

मामला सामने आने के बाद राज्य सरकार ने कृपा शंकर कनौजिया को सिपाही बनाने की सिफारिश की. एडीजी प्रशासन ने सीओ कृपा शंकर कनौजिया को सिपाही बनाने का आदेश जारी कर दिया। बीघापुर के सीओ रहे कृपा शंकर को अब सिपाही बना दिया गया है और उनकी नई तैनाती गोरखपुर की 26वीं पीएसी वाहिनी में की गई है. यह कार्रवाई पुलिस विभाग की अनुशासनहीनता पर सख्ती दिखाने और उसकी प्रतिष्ठा बनाए रखने के लिए की गई है.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...