Video: फरार लेडी डॉन का CCTV फुटेज आया सामने, 38 गोलियां मरवाकर करवाई थी हत्या, राजौरी गार्डन हत्याकांड में है आरोपी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Delhi Burger King Shooting Case: दिल्ली में बर्गर किंग आउटलेट पर गोलीबारी में मारे गए 26 वर्षीय व्यक्ति को कथित तौर पर हनीट्रैप में फंसाने वाली महिला को गुरुवार को कटरा रेलवे स्टेशन पर देखा गया. अपने गिरोह के सदस्यों के बीच “लेडी डॉन” के नाम से मशहूर अनु को गुरुवार को सुरक्षा कैमरे की फुटेज में कटरा रेलवे स्टेशन पर अपना सामान ले जाते हुए देखा गया. उसने अपना चेहरा दुपट्टे से ढका हुआ था. मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, वह गुरुवार सुबह करीब 10 बजे मुंबई जाने वाली ट्रेन में सवार हुई.

जम्मू के रेलवे स्टेशन पर दिखी फरार लेडी डॉन

पुलिस को लेडी डॉन अन्नू का सीसीटीवी मिला है. सीसीटीवी में लेडी डॉन अन्नू जम्मू के कटरा रेलवे स्टेशन पर दिख रही है. वह मुंबई जाने वाली ट्रेन 12474 बॉम्बे स्वराज सुपरफास्ट में सवार हुई, यह ट्रेन 20 जून को सुबह 10:06 बजे कटरा रेलवे स्टेशन से रवाना हुई. पुलिस सूत्रों के मुताबिक 20 जून को सुबह 9:22 बजे लेडी डॉन अन्नू ने एक गेस्ट हाउस के वाईफाई का इस्तेमाल किया. इसके बाद वह जल्दबाजी में ट्रेन में चढ़ गई और आखिर में जनरल कोच में चढ़ गई। सीसीटीवी में अन्नू ट्रॉली बैग लेकर तेजी से रेलवे स्टेशन की ओर जाती दिख रही है.

गैंगस्टर के साथ बैठी लड़की कौन थी?  

पर सबसे ज्यादा हैरान करती है वो लड़की जो फुटेज में अमन जून के साथ टेबल पर बैठी नजर आ रही है. रेस्टोरेंट में गोलियां चलने के बाद जहां लोग बदहवासी में बाहर की ओर भागते हैं ये लड़की तब तक अपनी कुर्सी पर बैठी रहती है जब तक अमन गोलियां लगने के बाद उठ कर भागता नहीं है. इसके बाद वो शूटरों को उसके पीछे जाने का पूरा मौका देती है और सबसे आखिर में आउटलेट से बाहर निकलती है. दिलचस्प बात ये है कि वो लड़की जाते जाते अपने साथ अमन जून का मोबाइल फोन और आईडी कार्ड भी ले जाती है.यह लड़की कोई और नहीं बल्कि “लेडी डॉन” के नाम से मशहूर अनु है.

ADVERTISEMENT

भगोड़े गैंगस्टर हिमांशु भाऊ की करीबी सहयोगी

पुलिस सूत्रों का कहना है कि महिला - भगोड़े गैंगस्टर हिमांशु भाऊ की करीबी सहयोगी - राजौरी गार्डन में बर्गर किंग आउटलेट पर अमन जून को लुभाने के लिए बिछाए गए जाल का हिस्सा थी, जहां उसकी हत्या कर दी गई.

अनु हरियाणा के रोहतक की रहने वाली है और उसका आपराधिक रिकॉर्ड है. पुलिस ने कहा, “उसे पकड़ने के प्रयास जारी हैं.” एफआईआर में कहा गया है कि फास्ट फूड आउटलेट के अंदर अमन जून पर तीन अलग-अलग तरह की 38 गोलियां चलाई गईं. अलग-अलग गोलियों से पता चलता है कि दोनों शूटरों ने दो से ज़्यादा हथियारों का इस्तेमाल किया.

ADVERTISEMENT

फुटेज में क्या है?

पहले जारी किए गए एक दूसरे सिक्योरिटी कैमरे के फुटेज में, जब बंदूकधारियों ने गोलियां चलाईं, तब अनु अमन के साथ बैठी हुई दिख रही थी, सीसीटीवी फुटेज से पता चला कि अनु ने राजौरी गार्डन पहुँचने के लिए जीटीबी नगर मेट्रो स्टेशन से ट्रेन पकड़ी और हत्या के बाद वह राजौरी गार्डन से शकूरपुर मेट्रो स्टेशन पहुँची.

ADVERTISEMENT

अमन का शव बिलिंग काउंटर के पीछे मिला, जिससे पता चलता है कि जब हत्यारों ने गोलियां चलाईं, तो उसने भागने की कोशिश की. हिमांशु भाऊ ने सोशल मीडिया पोस्ट में हत्या की ज़िम्मेदारी ली है और इसे "बदला लेने वाली हत्या" कहा है।

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...