सोशल मीडिया पर महिलाओं से करता था दोस्ती, फिर ऐसा झांसा देकर करता था साइबर ठगी

साइबर क्राइम अपराधियों के ख़िलाफ़ जारी मुहिम के तहत साइबर क्राइम पुलिस ने एक ऐसे अपराधी को गिरफ़्तार करने में कामयाबी हासिल की है जो सोशल मीडिया पर दोस्ती करके लोगों को फ़र्ज़ी महंगे गिफ़्ट या डोनेशन के नाम पर चूना लगाता था।
सोशल मीडिया पर महिलाओं से करता था दोस्ती, फिर ऐसा झांसा देकर करता था साइबर ठगी
सांकेतिक तस्वीर

Cyber Crime News: नोएडा की साइबर पुलिस ने दिल्ली से एक अफ्रीकी मूल के शख्स को दिल्ली से गिरफ़्तार करने में सफलता प्राप्त की है।

असल में पुलिस को एक IT इंजीनियर की तरफ़ से शिकायत मिली थी कि इंस्टाग्राम पर दोस्ती करके पहले एक शख्स ने NGO के लिए फ़र्ज़ी महंगे गिफ़्ट और डोनेशन भेजे और उसके बाद कस्टम क्लियरेंस के नाम पर लाखों रुपयों की ठगी कर ली। इस शिकायत पर पुलिस ने जब कार्रवाई की तो उसने साइबर ठग को गिरफ़्तार कर लिया।

तफ़्तीश में ये भी खुलासा हुआ कि वो अपराधी अब तक सोशल मीडिया के ज़रिए कम से कम 15 महिलाओं को अपने जाल में फंसाकर एक करोड़ 60 लाख रुपये की ठगी कर चुका है। पुलिस ने उसके पास से पांच मोबाइल, एक लेपटॉप, एक टेबलेट, दो इंटरनेट डोंगल, एक वाईफाई राउटर समेत दो पासपोस्ट भी ज़ब्त किए हैं।

सोशल मीडिया को बनाया हथियार, महिलाओं को बनाया शिकार

Latest Cyber Crime: पुलिस की गिरफ़्त में आने के बाद जब उससे पूछताछ हुई तो उसने कई चौंकाने वाले खुलासे किए। पुलिस की तफ़्तीश में पता चला कि इस अपराधी ने सोशल मीडिया को अपना ठगी का सबसे मारक हथियार बना लिया था। वो सोशल मीडिया पर एक्टिव था और महिलाओं से दोस्ती गांठ लेता था। उसने पुलिस को ये भी बताया कि 12वीं तक की पढ़ाई करने वाला ये शख्स 2019 में टूरिस्ट वीज़ा पर भारत आया था। यहां पर उसने मानव बाल, अफ्रीकी फूड और रेडिमेड गारमेंट का कारोबार शुरू किया।

लेकिन कोरोना महामारी के दौरान लॉकडाउन लगने की वजह से उसका धंधा चौपट कर दिया। कमाई का ज़रिया बंद हो जाने के बाद इस शख्स ने सोशल मीडिया के ज़रिए लोगों को खासतौर पर महिलाओं को ठगने का सिलसिला शुरू किया।

सोशल मीडिया पर दोस्ती करने वाला साइबर अपराधियों का गिरोह

Noida Cyber Crime: साइबर थाना प्रभारी रीता यादव के मुताबिक साइबर अपराधियों का एक गिरोह है जो भारत में सोशल मीडिया के ज़रिए महिलाओं से दोस्ती गांठता और फिर उन्हें निजी तौर पर महंगे गिफ़्ट का लालच देकर उनसे कस्टम ड्यूटी के नाम पर ठगी करने लगा।

पुलिस ने उस अपराधी को गिरफ़्तार करने के बाद अब उससे उसके साथियों के बारे में पूछताछ कर रही है और उन्हें दबोचने की तैयारी में जुटी हुई है।

Related Stories

No stories found.