'मुझे Pregnant करो, 1 लाख ले जाओ..', नौकरी का ऐसा ऑफर पहले नहीं सुना होगा, इस Job Offer से हिल गई पुलिस

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

न्यूज़ हाइलाइट्स

point

‘प्रेग्नेंट करो और पैसे कमाओ…’

point

नोखे जॉब ऑफर से हिल गई पुलिस

point

साइबर फ्रॉड का गजब मामला

Pregnant Job Fraud : 'हाई प्रोफाइल महिला को प्रेग्नेंट करना है. ये लड़की तलाकशुदा या बड़े-बड़े घरों की हाउसवाइफ होतीं हैं. वो प्रेग्नेंट नहीं हो पाती है. इसलिए हमारी एजेंसी से संपर्क करती हैं और हम आप जैसे कस्टमर से संपर्क करते हैं. अगर आप मैडम को प्रेग्नेंट करते हैं तो आपको 10 हजार रुपये मिलेंगे. अगर आप उनसे मिलते हैं और किसी भी वजह से प्रेग्नेंट नहीं भी कर पाते हैं तो आपको 5 हजार रुपये मिलेंगे..लेकिन इसके लिए बस आपको शुरुआत में 750 रुपये का रजिस्ट्रेशन चार्ज देना होगा. ऐसा इसलिए ताकि हम आपको सीरियस कस्टमर मानें और आगे की सर्विस मुहैया करा सकें.'

अब ये बातें जानकर एक से बढ़कर एक लोग झांसे में फंस जाते थे. ऑल इंडिया प्रेग्नेंट जॉब के नाम पर सैकड़ों लोगों से ठगी का एक बड़ा नेटवर्क सामने आया है. इस ठगी के नेटवर्क का बिहार के नवादा जिले की साइबर थाने की पुलिस ने खुलासा किया है. आखिर ये नेटवर्क कैसे चल रहा था. कैसे लोगों को झांसे में लिया जा रहा था. आइए जानते हैं पूरा मामला. 

मुझे प्रेग्नेंट करो, 10 हजार ले जाओ...

हरियाणा के मेवात में धोखाधड़ी के मामलों के लिए कुख्यात है, अब वहाँ ठगी का एक नया पैटर्न सामने आया है. केवाईसी, ओएलएक्स और टटलू के बाद, अब मेवात में एक अलग तरह का विज्ञापन देकर ठगी की घटनाओं को अंजाम दिया जा रहा है. नूह जिले की साइबर थाना पुलिस ने इस नए प्रकार की ठगी के तहत दो जालसाजों को गिरफ्तार किया है. इन जालसाजों ने सोशल मीडिया पर एक अजीब तरह का विज्ञापन देकर युवाओं को अपने जाल में फंसाने की कोशिश की. इस विज्ञापन को देखकर पुलिस भी हैरान रह गई और मामले की तह में जाने के बाद ठगी के इस नए पैटर्न का पता चला.

ADVERTISEMENT

साइबर फ्रॉड का गजब मामला

पुलिस के अनुसार, अब तक विभिन्न प्रकार की नौकरियों के लिए विज्ञापन देखे गए हैं, लेकिन पहली बार एक ऐसी नौकरी का विज्ञापन सामने आया है जो दिमाग को हिला दे. जालसाजों ने इस विज्ञापन में उन महिलाओं को प्रेग्नेंट करने के लिए ऑफर दिया था जिनकी शादी को बहुत समय हो गया था और उन्हें बच्चा नहीं हो रहा था. जालसाजों ने सोशल मीडिया पर सुंदर महिलाओं की फोटो डालते हुए यह ऑफर दिया कि जो भी इन महिलाओं को प्रेग्नेंट करेगा उसे 10 हजार रुपये का इनाम मिलेगा.

रजिस्ट्रेशन के साथ ठगी की शुरूआत

इस ठगी की शुरुआत रजिस्ट्रेशन के साथ होती थी. जालसाजों ने ऐसी शर्तें रखी थीं कि युवा आसानी से इस जाल में फंस जाते थे. जैसे ही लोग इस विज्ञापन को देखकर दिए गए नंबर पर फोन करते थे, जालसाज सुरक्षा और रजिस्ट्रेशन के नाम पर 750 रुपये की मांग करते थे. रजिस्ट्रेशन का झांसा देने के बाद, जालसाज विभिन्न तरीकों से युवाओं को उलझाकर लाखों रुपये तक निकलवा लेते थे. नूह साइबर थाना पुलिस ने इसी तरह की शिकायत मिलने पर दो जालसाजों को गिरफ्तार किया है.

ADVERTISEMENT

गिरफ्तार आरोपियों की पहचान पलवल के हथीन थानांतर्गत बुराका के रहने वाले एजाज और नूह जिले के पिनगवां निवासी इरशाद के रूप में हुई है. पुलिस ने आरोपियों के पास से दो मोबाइल फोन और चार सिमकार्ड बरामद किए हैं. इनमें से दो सिम कार्ड महाराष्ट्र से और दो असम के पते से खरीदी गई थीं. पुलिस ने चार से अधिक फेसबुक अकाउंट भी ट्रैक किए हैं. पुलिस के मुताबिक, हरियाणा में इस तरह की ठगी का यह पहला मामला है. पूछताछ में आरोपियों ने बताया कि वे करीब एक साल से इसी पैटर्न पर वारदातों को अंजाम दे रहे थे. अब तक दर्जनों लोग इनके जाल में फंस चुके हैं, हालांकि पहली बार किसी पीड़ित ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई है.

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT