Sidhu Moosewala : सुरक्षा में कमी होते ही कनाडा से गोल्डी ने फौजी से फोन पर कहा था अब कल ही होगा सिद्धू मूसेवाला का मर्डर

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Sidhu Moosewala Murder News : पंजाबी सिंगर सिद्धू मूसेवाला मर्डर केस में एक बड़ा खुलासा हुआ है. अब ये दावा है कि 28 मई को जब पंजाब सरकार (Punjab) ने सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moose wala) समेत तमाम लोगों की सिक्योरिटी (Security) घटाने का फैसला किया तभी मर्डर की स्क्रिप्ट फाइनल कर ली गई थी.

असल में सिक्योरिटी कम करने की जानकारी जैसे ही मीडिया में आई, उसके ठीक बाद कनाडा से गोल्डी बराड़ (Goldy Brar) ने शॉर्प शूटर प्रियव्रत फौजी (Priyavrata Fauji)को फोन किया था. फोन पर उसी ने बताया था कि सिद्धू मूसेवाला की सुरक्षा कम कर दी गई है. इसलिए जिसका इंतजार हम कई दिनों से कर रहे थे उसे अब कल ही यानी 29 मई को अंजाम देना होगा. यानी सिद्धू मूसेवाला की हत्या की पूरी साजिश पंजाब सरकार की तरफ से तमाम लोगों की सिक्योरिटी में कमी लाने की जानकारी मीडिया में आने के तुरंत बाद ही रची गई थी.

Sidhu Moosewala Case : मूसेवाला के शूटर्स को ढूंढ रही थी 5 राज्यों की पुलिस, शूटर कर रहे थे मस्ती, देखिए वीडियो

प्रियव्रत फौजी के फोन की जांच में हुआ खुलासा

ADVERTISEMENT

Sidhu Moosewala Murder Latest News : अब कनाडा से गोल्डी बराड़ का आदेश मिलते ही सारे गैंगस्टर सक्रिय हो गए. इसकी कमान खुद शार्प शूटर प्रियव्रत फौजी ने संभाली. इस बात का खुलासा दिल्ली पुलिस (Delhi Police) की जांच में हुआ है. असल में दिल्ली पुलिस ने गिरफ्तारी के बाद शूटर प्रियव्रत फौजी के फोन की कॉल रिकॉर्ड की जांच की है. जिसके बाद ये जानकारी सामने आई है.

इसके बाद रेकी करने के लिए तुरंत केकड़ा (Sandip Kekda) को अगले दिन यानी 29 मई को सिद्धू मूसेवाला के घर के बाहर लगा दिया गया. चूंकि गोल्डी बराड़ ने साफ कहा था कि अगले दिन ही सिद्धू मूसेवाला की हत्या करनी है.

ADVERTISEMENT

Sidhu Moosewala : सिद्धू मर्डर केस में मुखबिरी करने वाला केकड़ा क्या चीज है, तसल्ली से जान लीजिए

प्लान-A और प्लान-B के तहत बनाई थी हत्या की साजिश

ADVERTISEMENT

इसलिए गैंग्स्टर ने प्लान-A और प्लान-B दोनों तैयार कर लिया था. प्लान-ए में सिद्धू के घर से बाहर आने के बाद मारना था. अगर वो घर से बाहर नहीं आता तो पुलिस की खाकी वर्दी पहनकर घर में घुसकर हत्या करने की प्लान-बी वाली साजिश थी.

पहली साजिश को अंजाम देने के लिए संदीप केकड़ा और बलदेव निक्कू दोनों सिद्धू मूसेवाला के घर के बाहर फैंस बनकर खड़े हो गए थे. काफी इंतजार के बाद शाम को इत्तेफाक ही रहा कि सिद्धू मूसेवाला अपने सिर्फ दो दोस्तों के साथ बिना किसी गनर के घर से निकले.

दूसरा बड़ा इत्तेफाक ये रहा कि उस दिन बुलेटप्रूफ गाड़ी में भी नहीं थे. अब इस बात की केकड़ा ने सेल्फी लेते हुए पुख्ता सबूत के तौर पर गैंगस्टर को दिया और वीडियो कॉल पर लाइव दिखाया भी. इसके बाद ही प्रियव्रत फौजी और उसके साथियों ने दो गाड़ियों से घेराबंदी कर सिद्धू मूसेवाला को गोलियों से भून डाला था.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...