Sidhu Moosewala : सिद्धू मर्डर केस में मुखबिरी करने वाला केकड़ा क्या चीज है, तसल्ली से जान लीजिए

Sidhu Moosewala Murder Mukhbiri : सिद्धू मूसेवाला (Sidhu death) मर्डर में केकड़ा (Kekda) अरेस्ट. ये केकड़ा हरियाणा का रहने वाला है तो फिर मूसेवाला के घर क्यों आया. जानें केकड़ा के मुखबिरी की पूरी खबर
Sidhu Moosewala : सिद्धू मर्डर केस में मुखबिरी करने वाला केकड़ा क्या चीज है, तसल्ली से जान लीजिए
CCTV of Kekda

Sidhu Moosewala Murder Informer Kekda Inside Story : पंजाब के मशहूर सिंगर सिद्धू मूसेवाला (Sidhu Moosewala death) की हत्या में जिस केकड़ा (Who is Kekda) की चर्चा हो रही है. वो आखिर है कौन. आखिर केकड़ा ने कैसे मर्डर (Murder) से पहले रेकी की. ऐसा क्या हुआ कि उस पर मुखबिरी (Mukhbiri) का शक जताया गया है. जानते हैं इस रिपोर्ट से...

Sidhu Moosawala Muder Case 8 shooters photos
Sidhu Moosawala Muder Case 8 shooters photos Photo Credit : Aajtak

केकड़ा का असली नाम है संदीप

who is Kekda in Sidhu Moosewala Case: सिद्धू मूसेवाला का मर्डर 29 मई की शाम को हुआ था. इस हत्या को अंजाम देने में जबर्दस्त रेकी हुई थी. ये रेकी भी अनोखे तरीके से हुई थी. रेकी करने वाला कौन था. इसी की तलाश में पंजाब पुलिस ने केकड़ा को धर दबोच लिया. अब ये केकड़ा है कौन. असल में इसका नाम संदीप है. वो हरियाणा के सिरसा के कालांवाली कस्बे का रहने वाला है.

सिद्धू मूसेवाला के गांव यानी मूसा गांव में इस संदीप उर्फ केकड़ा की रिश्तेदारी है. इस वजह से वो अक्सर पंजाब के मूसा गांव में आता-रहता था. ये भी पता चला है कि केकड़ा को जानकारी थी कि सिद्धू मूसेवाला की हवेली में किसी बाहरी फैंस को जाने की इजाजत नहीं थी.

मूसेवाला के घर के बाहर पेड़ के नीचे फैंस लेते थे सेल्फी

कहा जाता है कि भले ही फैंस को सुरक्षा के लिहाज से घर में आने नहीं दिया जाता था लेकिन घर के बाहर एक पेड़ है वहीं पर फैंस पर दरियादिली दिखाई जाती थी. उस पेड़ के नीचे ही फैंस पहुंचते थे. इसी जगह पर सिद्धू मूसेवाला आते थे और फैंस उनके साथ सेल्फी लेते थे. इस पेड़ के नीचे आए फैंस को मूसेवाला के घर की तरफ से चाय जरूर पिलाई जाती थी.

ऐसे में कहा जाता था कि सिद्धू मूसेवाली की ये दरियादिली ही थी कि भले ही फैंस को सुरक्षा के मद्देनजर घर में आने की इजातत नहीं थी लेकिन सेल्फी वाले प्वाइंट पर चाय जरूर पिलाई जाती थी. 29 मई यानी सिद्धू मूसेवाला की हत्या की वजह बनी थी.

उस दिन सेल्फी लेने के दौरान का एक सीसीटीवी फुटेज मिला. उसी सीसीटीवी में केकड़ा उर्फ संदीप नजर आया. इस बारे में सिद्धू मूसेवाला के परिवार ने भी शक जताया कि सेल्फी लेने वाले फैंस में भी शूटर या उनके मुखबिर हो सकते हैं. क्योंकि वहां कुछ संदिग्ध जैसे लोग दिखे थे.

इसी के बाद पुलिस ने उस सेल्फी वाले सीसीटीवी फुटेज की जांच शुरू की. जिसके बाद पुलिस को संदीप उर्फ केकड़ा संदिग्ध नजर आया. क्योंकि वो स्थानीय निवासी नहीं था. और इससे पहले भी कई बार मूसा गांव आ चुका था. जांच में ये भी पता चला कि सिद्धू मूसेवाला के मर्डर वाले दिन केकड़ा करीब 45 मिनट तक वहां रुका रहा था.

बाकायदा उसने चाय पी थी. इसके बाद सिद्धू मूसेवाला के साथ सेल्फी भी ली थी. ऐसे में यही शक है कि सेल्फी के बहाने ही उसने ये देख लिया कि मूसेवाला के साथ कोई सिक्योरिटी गार्ड नहीं हैं. और ना ही कोई गनर है. इसके अलावा मूसेवाला के पास बुलेटप्रूफ गाड़ी भी नहीं है. बल्कि वो थार जीप से जा रहे हैं. इसी के बाद उसने शूटर्स को जानकारी दे दी. हालांकि, इसके पीछे की पूरी कहानी अभी पुलिस पता कर रही है.

CCTV में कैसे दिखा केकड़ा

पुलिस की जांच में सिद्धू मूसेवाला की हत्या से करीब 15 मिनट पहले का एक सीसीटीवी फुटेज मिला है. असल में मर्डर को 29 मई की शाम करीब 5:30 बजे अंजाम दिया गया. जबकि ये फुटेज ठीक 5:15 बजे के आसपास का है. इस सीसीटीवी फुटेज में जितने भी फैंस हैं उनमें एक केकड़ा ही संदिग्ध नजर आया. जिसके बाद पुलिस जांच में जुट गई.

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in