लंदन में बस स्टॉप पर खड़ी थी अनीता, जलाल उसे तब तक चाकू मारता रहा जब तक वो मर नहीं गई, वजह हैरान करने वाली

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

London News: इंग्लैंड की राजधानी लंदन में एक और छुरेबाजी की घटना हुई है. लंदन में रहने वाली और इंग्लैंड नेशनल हेल्थ सर्विस में काम करने वाली भारतीय महिला अनीता मुखी की सरेआम बस स्टॉप पर हत्या कर दी गई. ये घटना 9 मई 2024 को एजवेयर इलाके में हुई. हत्या के आरोप में  पुलिस ने 22 साल के जलाल देबेला को गिरफ्तार कर लिया है. मगर लंदन जैसे सुरक्षित शहर के बीचों बीच अनीता की हत्या की वजह बेहद हैरान करने वाली है.

लंदन में भारतीय मूल की महिला की हत्या

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, अनिता मुखी पार्ट टाइम मेडिकल सेक्रेटरी के रूप में काम करती थीं. जब जलाल ने उसकी हत्या की तब वह बर्न्ट ओक ब्रॉडवे बस स्टॉप पर थीं. जलाल ने पहले तो उसपर हमला किया और उसका हैंडबैग छीनने की कोशिश की लेकिन अनीता उससे लड़ती रहीं, जब जलाल को लगा कि वह इतनी आसानी से हार मानने वाली नहीं है तो उसने उसका गला घोंटकर उसे मारने की कोशिश की. इसके बावजूद जब जलाल उसका हैंडबैग छीनने में कामयाब नहीं हो पाया तो उसने अनीता पर एक के बाद एक चाकू से कई वार किये. ज्यादा खून बह जाने से अनीता की मौके पर ही मौत हो गई. जलाल बस इसी के बाद मौके से फरार हो गया.

चाकुओं से ताबड़तोड़ वार, गई जान

अनिता मुखी की हत्या के बाद पुलिस ने जलाल को गिरफ्तार कर लिया. शनिवार को उसे लंदन के ओल्ड बेली कोर्ट में पेश किया गया, जहां से उसे हिरासत में भेज दिया गया. उसे मंगलवार को फिर से अदालत में पेश किया गया और उस पर हत्या के साथ-साथ घातक हथियार रखने का आरोप लगाया गया. अब अगली सुनवाई अगस्त में होगी. मगर इस घटना ने इंग्लैंड और वेल्स में चाकूबाजी के बढ़ते मामलों को लेकर लोगों की चिंता बढ़ा दी है। साल 2023 में लंदन मेट्रोपॉलिटन पुलिस ने 14,577 चाकूबाजी के मामले दर्ज किए जो पिछले सालों के मुकाबले काफी ज्यादा हैं. 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT