दादा और बाप के बाद बेटे का मर्डर, पाकिस्तान के खूंखार अंडरवर्ड डॉन की गोली मारकर हत्या, शादी समारोह में फायरिंग, अमीर बलाज टीपू की क्राइम कुंडली

ADVERTISEMENT

फाइल फोटो
फाइल फोटो
social share
google news

World News Pakistan: पाकिस्तान में पिछले कई महीनों से कत्लोगारत की कई घटनाओं में आतंकी नेटवर्क से जुड़े नेताओं की हत्या कर दी गई। इस बार पाकिस्तान के एक अंडरवर्ल्ड डॉन को गोलियों से भून दिया गया। अमीर बलाज टीपू लाहौर का नामी डॉन जिसे रविवार 18 फरवरी को कत्ल कर दिया गया।

लाहौर में अंडरवर्ल्ड डॉन की सरेआम हत्या

एजेंसी के अनुसार, बलाज को एक शादी के मौके पर गोलियों से भून दिया गया। गौरतलब है कि बलाज अरीफ अमीर उर्फ़ टीपू ट्रकवाले का बेटा है। पहले यह टीपू ट्रक चालक भी अपने सहयोगियों के साथ अल्लामा इक़बाल हवाई अड्डे पर गोलियों से मार गिराया गया था। मध्यवर्ती, पाकिस्तानी अख़बार 'डॉन' की रिपोर्ट के अनुसार, बलाज के ठाकुरदाओं का भी हिस्सा हिंसा में शामिल था।

शादी समारोह में हमलावर ने गोलियों से भूना

रिपोर्ट्स के अनुसार, बलाज और दो मेहमान शादी के मौके पर खड़े होकर बातचीत कर रहे थे। उस वक्त अज्ञात हमलावरों ने बलाज पर हमला किया। फायरिंग में बलाज और दो मेहमान वहीं जमीन पर गिर गए। उस समय बलाज के सुरक्षा गार्डों ने भी उस हमलावर पर गोलियां चलाईं। इस फायरिंग में हमलावर की भी मौके पर ही मौत हो गई। हमले के बाद बलाज को अस्पताल में ले जाया गया। हालांकि, डॉक्टरों के प्रयासों के बावजूद, बलाज को बचाया नहीं जा सका। एक पाकिस्तानी एजेंसी की मानें तो उसके पास 10 शेर और कुछ अन्य पालतू जानवर थे, जिन्हें उसने अपने डीरा में रखा था।

ADVERTISEMENT

जवाबी कार्यवाई में मारा गया हमलावर

पिछले कई वर्षों से, पाकिस्तान में कई भारत-विरोधी आतंकी नेताओं की हत्या की गई है। पिछले अक्टूबर को ही पाकिस्तान के उत्तर वाजीरिस्तान में अज्ञात हमलावरों ने गोलियों बरसाकर लश्कर-ए-जब्बार के संस्थापक दाऊद मलिक की हत्या की गई थी। पिछले 2 वर्षों में 17 भारत-विरोधी आतंकवादी नेताओं की पाकिस्तान में हत्या की जा चुकी है। पिछले साल की शुरुआत में ही मुफ़्ती क़ैसर फ़ारूक़ की हत्या की गई थी। उसके क़त्ल का वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। फ़ारूक़ को मदरसे में गोली मारी गई थी।

दादा और बाप के बाद अब बेटे का मर्डर

इसके अलावा, पाकिस्तान के सियालकोट में पिछले अक्टूबर को अज्ञात हमलेवालों द्वारा जनसैलाब मुक्तिवादी नेता शाहिद लतीफ की हत्या की। लतीफ पर आर्मी एयर बेस पठानकोट पर हमला की योजना बनाने का आरोप था। लतीफ एनआईए की सबसे वांटेड सूची में था। लेकिन वह पाकिस्तान में अपने दिन बिता रहा था। इससे पहले लश्कर ए मुजाहिदीन के नेता मौलाना ज़ियाउर रहमान की कराची में 12 सितंबर को हत्या की गई थी।

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT