सेना से रिटायर ससुर ने बहू को धारदार हथियार से काट डाला, वजह हैरान करने वाली है

ADVERTISEMENT

Crime Tak
Crime Tak
social share
google news

Crime News: पश्चिम बंगाल के हाबरा में दिवाली के मौके पर दिल दहला देने वाली घटना घटी. मामूली बात पर ससुर ने अपनी बहू की हत्या कर दी. पुलिस ने आरोपी ससुर को गिरफ्तार कर लिया है.

दरअसल, उत्तर 24 परगना जिले के हाबरा के श्रीनगर मठ इलाके में रहने वाले 75 साल के गोपाल विश्वास पकौड़े खाना चाहते थे. उनकी बहू मुक्ति विश्वास (उम्र-40 वर्ष) ने पकौड़े बनाए और उन्हें कोल्ड ड्रिंक के साथ परोसा, लेकिन इसके बावजूद अपने बेटे की अनुपस्थिति में उसने अपनी बहू की हत्या कर दी. आरोपी सेना से रिटायर है. पिता की इस हरकत पर बेटे ने कहा कि वह हमेशा गुस्से में रहते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक, बहू मुक्ति ने पकौड़े बनाकर अपने ससुर को दिए, जिसके बाद परिवार के अन्य सदस्यों ने भी खाना खाया और अपने-अपने कमरे में चले गए. मुक्ति भी कमरे में आराम कर रही थी और मोबाइल देख रही थी जबकि उसका बड़ा बेटा अपने कंप्यूटर पर कुछ कर रहा था. इसी बीच मुक्ति का छोटा बेटा दिवाली पर मोमबत्ती लाने की जिद करने लगा, जिसके बाद मुक्ति का पति देबू विश्वास मोमबत्ती खरीदने के लिए घर से बाहर चला गया. जब वह घर लौटा तो पत्नी के कमरे से आवाज आ रही थी. उसने कमरे में जाकर देखा तो उसके होश उड़ गए. उसकी पत्नी मुक्ति खून से लथपथ पड़ी थी. फिर वह मदद के लिए चिल्लाया और अपने बेटे को पड़ोसियों को बुलाने के लिए उनके घर भेजा.

ADVERTISEMENT

इसके बाद सभी लोग मुक्ति को हाबरा के सरकारी अस्पताल ले गये जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया. घटना की जानकारी पुलिस को भी दी गई. बाद में पुलिस ने हत्या के आरोपी ससुर गोपाल विश्वास को गिरफ्तार कर लिया. घटना के संबंध में स्थानीय लोगों ने बताया कि परिवार में कोई पारिवारिक कलह या संपत्ति विवाद नहीं था. अब गोपाल बिस्वास के बेटे देबू ने अपने पिता के लिए मौत की सजा की मांग की है क्योंकि उसकी वजह से ही उसकी मासूम पत्नी को अपनी जान गंवानी पड़ी. देबू के मुताबिक, उनके पिता बहुत जिद्दी थे, उनका मानना था कि वह जो कहें वही सही है, बाकी दुनिया गलत है.

अपने पिता की हरकतों के बारे में डूब ने कहा, 'मेरी पत्नी ने घर पर हिल्सा मछली और अन्य स्वादिष्ट व्यंजन बनाए थे लेकिन पिता ने हिल्सा मछली नहीं खाई बल्कि वह पकौड़े ढूंढते रहे. उनकी मांग पूरी करने के लिए मेरी पत्नी ने उन्हें पकौड़े बनाकर परोसे. .' इसके बाद जब वह बाजार से घर लौटा तो उसने अपनी पत्नी को कमरे में घायल अवस्था में देखा.

ADVERTISEMENT

देबू ने बताया कि, 'कुछ साल पहले मेरे पिता घर छोड़कर कहीं चले गए, कुछ महीने बाद वह घर लौटे और एक धारदार हथियार लेकर आए. उस हथियार के बारे में उसने उस समय बताया था कि इससे हरा नारियल काटा जाता था जिससे वह पानी पीता था, उसी से उसने अपनी निर्दोष पत्नी को भी काट डाला था. उनकी मौखिक शिकायत पर पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. हालाँकि, डेबी ने अभी तक कोई लिखित शिकायत दर्ज नहीं कराई है.

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT