रिश्तों का खूनी चक्रव्यूह, सौतेली मां ने पकड़े पैर बाप ने काट दिया बेटी का गला, कातिल से करना चाहता था बेटी की शादी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

श्रेया भूषण की रिपोर्ट

Gonda: यूपी के गोंडा जिले के रहने वाले राजेश शुक्ला ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर अपनी ही 21 साल की बेटी श्वेता शुक्ला की हत्या कर दी। आरोपी पिता और सौतेली मां ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वो अपनी बेटी की शादी एक ऐसे आदमी से करवाना चाहते थे जिसकी पहले भी एक शादी हो चुकी थी। इतना ही नहीं इस शख्स पर दहेज हत्या का आरोप लगा था । यही वजह थी कि श्वेता ने ऐसे इंसान से शादी करने से इनकार कर दिया जो अपराधी था। इसलिए पति-पत्नी ने मिलकर अपनी बेटी की सोते समय गला रेत कर हत्या कर दी।

बेटी की गला रेतकर कर दी हत्या

दरअसल श्वेता शुक्ला 10 जून की रात सोने के लिए घर की छत पर गई थी। जहां से सोते समय उसके पिता और सौतेली मां छत पर पहुंच गए और श्वेता को छत से जबरन खींचकर कमरे में ले गए। जिसके बाद श्वेता के पिता ने उसका गला दबोच लिया। श्वेता दर्द से छटपटाने लगी और बचने की कोशिश करने लगी तभी उसकी सौतेली मां ने उसके पैर और हाथ पकड़ लिए। फिर पिता ने बड़ी बेरहमी से उसकी गला रेत कर हत्या कर दी। आरोपी राजेश ने बचने की पूरी प्लानिंग पहले से ही कर ली थी। हत्या के बाद राजेश और उसके बेटे दुख हरण शुक्ला ने श्वेता के शव को घर के दरवाजे पर फेंक दिया।

ADVERTISEMENT

पूरी प्लानिंग के साथ दिया हत्या को अंजाम

फिर बड़ी ही चालाकी से पुलिस को गुमराह करने के लिए पिता राजेश शुक्ला ने डायल 112 से पुलिस को सूचना दी। राजेश नें पुलिस को बताया कि उसे और बेटी श्वेता को उसी के भाइयों ने मारा है। पुलिस स्टेशन से महज कुछ दूरी पर हुई घटना के कारण से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। डायल 112 टीम के साथ स्थानीय पुलिस मौके पर पहुंची। मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा की श्वेता लहूलुहान हालत में थी। जिसके बाद उसे पुलिस ने श्वेता को अस्पताल पहुंचाया। जहां डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया था।

भाईयों को फंसाने की साजिश

मृतका के गले पर धारदार हथियार के निशान पाए गए थे। नातिन श्वेता की हत्या के मामले में पुलिस ने श्वेता के नाना बृजबिहारी मिश्र के बयान लिए तो पुलिस अफसर भी चौंक गए। श्वेता के नाना ने पुलिस को बताया कि उनके दामाद राजेश और उसकी दूसरी पत्नी ने ही श्वेता की हत्या की है। पुलिस को अपनी शिकायत में श्वेता के नाना ने कहा कि श्वेता के पिता राजेश शुक्ला ने ही कई साल पहले उनकी बेटी नीतू की हत्या की थी। जिसके बाद राजेश ने दूसरी महिला से शादी कर ली थी। लेकिन बेटी की हत्या की जानकारी उन्हे कई सालों बाद मिली थी।

ADVERTISEMENT

नाना ने लगाया दामाद पर गंभीर आरोप

उससे पहले बेटी की मौत को सामान्य मौत मानकर चुप बैठ गए थे। पूरे मामले की जानकारी होने पर नातिन के भविष्य के बारे में सोचकर उन्होने इस मामले की शिकायत दर्ज नहीं कराई थी। मृतका के नाना ने आरोप लगाते हुए कहा कि राजेश शुक्ला उसकी नातिन की शादी दहेज हत्या के आरोपी से करना चाहता था। लेकिन श्वेता ने उससे शादी करने से इनकार कर दिया था। इसीलिए राजेश ने अपनी पत्नी किरण के साथ मिलकर श्वेता की हत्या कर दी। हत्या के इस मामले में पुलिस ने श्वेता के बाप राजेश शुक्ला और सौतेली मां किरण शुक्ला को तुलसीरामपुरवा की पुलिया के पास से गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों की निशानदेही पर वो चाकू बरामद किया जिससे हत्या की गयी थी।

ADVERTISEMENT

पुलिस के पूछताछ में हुआ ये चौंकाने वाला खुलासा

पुलिस के पूछताछ में मृतका की सौतेली मां किरण ने बताया कि कई साल पहले श्वेता के मां का देहांत हो गया था। इसके बाद वह अपने पिता और सौतेली मां के साथ रहती थी। मृतका के पिता अपनी बेटी की शादी दहेज हत्या के आरोपी सुरेश शुक्ला के बेटे शिवम से करना चाहता था। वर्तमान समय में शिवम जेल में है। श्वेता ने शादी करने से इनकार कर दिया था। जिस पर राजेश को बहुत गुस्सा आया और उसने तय कर लिया की वो श्वेता को मौत के घाट उतार देगा। इसी बीच राजेश और उसके भाइयों में जमीन को बंटवारे को लेकर विवाद हो गया। राजेश इसी का फायदा उठाना चाहता था। लिहाजा दोनों ने पूरी प्लैनींग के साथ रात में सब्जी काटने वाले चाकू से गला रेत कर श्वेता की निर्मम हत्या कर दी। राजेश की साजिश थी कि श्वेता के कत्ल में भाईयों को फंसा देगा और खुद बच जाएगा।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT