शादियों के लिए जीप में बनाना था DJ, इसलिए कर दिया चचेरे भाई का कत्ल, गड्ढा खोदकर दफ्ना दी लाश

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

कौशांबी से अखिलेश कुमार की रिपोर्ट

Kaushambi: यूपी के कौशाम्बी जिले में 15 दिन पहले लापता हुए युवक की लाश एक गड्ढे से बरामद हुई है। धर्मवीर नाम का युवक घर से पिकअप गाड़ी लेकर जनरेटर लेने के लिए कानपुर के लिए निकला था। जब वह अगले दिन घर नही पंहुचा और साथ ही उसका मोबाइल भी बन्द हो गया। तभी परिजनों ने इसकी जानकारी पुलिस को दी। पुलिस में गुमशुदगी दर्ज कर तलाश शुरू कर दी। पुलिस ने धर्मवीर के चचेरे भाई को हिरासत में लिया और कड़ाई से पूछताछ की तो उसने अपना जुर्म कुबूल लिया।

लालच में चचेरे भाई ने की हत्या

दरअसल चचेरे भाई ने अपने दो अन्य साथियों के साथ मिल कर धर्मवीर की गला रेत कर हत्या की थी। कत्ल के बाद गड्ढा खोदकर उसको जमीन में दफना दिया। पुलिस ने ज़मीन से लाश निकाल कर उसे पोस्टमार्टम के भेज दिया है। वही घटना के खुलासे से परिजनों में कोहराम मच गया। पुलिस ने आरोपी चेचेरे भाई सहित तीन लोगों गिरफ्तार किया है। घटना करारी थाना क्षेत्र के अवाना आलमपुर गाँव की है। जहा अमुरा गाँव की रहने वाला धर्मवीर पिकअप चला कर अपना परिवार चलाता था। 29 मई को अवाना आलमपुर गाँव के रहने वाले चचेरे भाई जिसका अर्पित टेंट का कारोबारी है, उसे फ़ोन कर बुलाया और कहा कि कानपुर से एक जनरेटर लाना है।

ADVERTISEMENT

हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

जब वह अगले दिन धर्मवीर घर नहीं पहुचा तो परिजनों ने छानबीन शुरू की लेकिन उसका कोई पता नही चला सका। 2 जून को मृतक धर्मवीर के भाई ने इसकी जानकारी करारी पुलिस को दी। पुलिस ने गुमशुदगी दर्ज कर जांच शुरू कर दी। गुरुवार की सुबह पुलिस ने आरोपी अमरदीप उर्फ अर्पित को हिरासत में लेकर कड़ाई से पूछताछ किया तो आरोपी चचेरे भाई ने अपना जुर्म कबूल किया। पुलिस के पूछताछ में आरोपी ने बताया कि उसने अपने दो साथी गुड्डू सरोज और दीपक सरोज  के साथ मिलकर धारदार हथियार से गला रेत कर हत्या कर दी।

शादियों के लिए जीप में बनाना था DJ

हत्या के बाद धर्मवीर की लाश को गड्ढा खोदकर दफना दिया। है। पुलिस ने उसके निशानदेही पर घटना स्थल पर पहुची और गड्ढे से धर्मवीर की लाश को बरामद किया। आरोपी ने पूछताछ में बताया की उसके पास डीजे नहीं है धर्मवीर के पास एक पिकअप गाड़ी थी। यही वजह है कि आरोपी ने अपने साथियों के साथ योजना बनाई की धर्मवीर को मारकर इसकी पिकअप गाड़ी को डीजे बनाकर लोगों के शादी विवाह में बुकिंग की जा सकेगी। पुलिस ने आरोपी चचेरे भाई अमरदीप, गुड्डू सरोज और दीपक सरोज को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया है।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...