नोएडा में हनीट्रैप गैंग का ख़ौफ, जाल में फँसाती हैं हसीनाएँ और फिर…

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Greater Noida: ये वो चक्रव्यूह है जिसमें जो एक बार फंसा कभी निकल नहीं पाया. इश्क और हुस्न का ये वो जाल है जिसके फंदे में इंसान फंस ही जाता है. और इस जाल में जो फंसा वो काम से भी गया और नाम से भी. इस चक्कर में अब तक न जाने कितने अपनी जिंदगी का जंजाल बना चुके हैं. जी हां, हम बात कर रहे हैं ग्रेटर नोएडा (Greater Noida) के हनीट्रैप गैंग की. वो गैंग जो हुस्न के जाल में फंसा कर न जाने कितनों की जिंदगी बर्बाद कर चुका है।

हनी ट्रैप गैंग का पर्दाफाश

ग्रेटर नोएडा के थाना बीटा-2 पुलिस टीम ने हनी ट्रैप (Honey Trap) गैंग का पर्दाफाश करते हुए 2 महिलाओं समेत 6 लोगों को गिरफ्तार किया है. ये गैंग लोगों को बहला फुसलाकर बुला लेता था और उसके बाद उन्हें बंधक बनाकर झूठे रेप के केस में फंसाने के नाम पर उनसे रुपयों की उगाही करता था. इनके कब्जे से पुलिस ने घटना में इस्तेमाल की जाने वाली एक स्कॉर्पियो गाड़ी, 5 आधार कार्ड, 4 एटीएम कार्ड, इनकम टैक्स कार्ड और फर्जी रेजिस्ट्रेशन सर्टिफिकेट बरामद किये हैं. 

एक कॉल में फंसाया लड़की ने

दरअसल बीती 10 जून को आरोपियों ने अपनी महिला मित्र रिफा के जरिए मुरादाबाद निवासी असदुर्रहमान को अपने जाल मे फंसाकर ग्रेटर नोएडा के पी-3 गोल चक्कर के पास बुलाया था. असदुर्रहमान अपने एक दोस्त निजाम के साथ रिफा से मिलने तय जगह पर पहुंचा तो आरोपी महिला रिफा ने इसकी जानकारी अपने साथियों को दे दी.

ADVERTISEMENT

कार में बंधक बनाकर लूटे पैसे

हैनीट्रैप का मास्टरमाइंड राज चौधरी प्लान के मुताबिक अपनी स्कॉर्पियो गाड़ी से अपनी दोस्त संजना और साथी भूपेन्द्र, फैजान और राहुल के साथ गोल चक्कर के पास बने बस स्टॉप पर आया और गाड़ी से उतरकर असदुर्रहमान की गाड़ी में बैठ गया और फिर उसी गाड़ी में रिफा और निजाम को भी बैठने को कहा. इसके बाद आरोपियों ने असदुर्रहमान और उसके दोस्त निजाम को उसी की गाड़ी में बंधक बनाकर डराना धमकाना शुरु कर दिया. चौधरी का गैंग इन दोनों के साथ गाली गलौज और मारपीट पर उतर आया. इन लोगों ने फिर असदुर्रहमान से पांच लाख रुपये की मांग की. पैसे ना देने पर लड़की से दोस्ती वाली बात परिवार को बताने और रेप के झूठे केस मे फंसाने की धमकी भी दी. मरता, क्या न करता.. बुरी तरह डरे हुए असदुर्रहमान ने अपनी गाड़ी में रखे 50 हजार रुपये निकाल कर आरोपियों को दे दिए. 

पहले भी ऐसे ही फंसाया लोगों को

इसके बाद आरोपी पीड़ित को छोड़कर फरार हो गए, पीड़ित ने घटना की सूचना थाना बीटा 2 पुलिस को दी जिसके बाद पुलिस ने आरोपियों को गिरफ्तार कर लिया. आरोपियों से पुलिस ने पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि तकरीबन 20 दिन पहले भी उन्होंने नोएडा सेक्टर-135 के एक फार्म हाउस के पास एक शख्स के साथ इसी तरह की घटना को अंजाम दिया था. फिलहाल पुलिस ने सभी को जेल भेज दिया है और आगे की कार्रवाई में जुट गई है.

ADVERTISEMENT

    और देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...