'कपड़े उतरवाए, उल्टा लटकाकर गर्म चिमटे से दागा...', अनाथालय में 21 लड़कियों साथ हुई बर्बरता की कहानी

ADVERTISEMENT

Crime Tak
Crime Tak
social share
google news

MP News: मध्य प्रदेश के इंदौर स्थित अनाथालय की लड़कियों ने स्टाफ सदस्यों पर गंभीर आरोप लगाए हैं. यहां 4 से 16 साल की लड़कियों ने जब पुलिस को आपबीती सुनाई तो अधिकारी भी हैरान रह गए. इस मामले में शिकायत के आधार पर इंदौर पुलिस ने अनाथालय के 4 स्टाफ सदस्यों के खिलाफ मामला दर्ज किया है. पुलिस इस पूरे मामले की गंभीरता से जांच कर रही है.

जानकारी के मुताबिक इंदौर के अनाथालय की 21 लड़कियों ने स्टाफ पर प्रताड़ित करने का आरोप लगाया है. उनके कपड़े उतार दिए गए और उन्हें लोहे के चिमटे से जला दिया गया. उन्हें लाल मिर्च जलाने, धुएं में रखने और रेलिंग से उल्टा लटकाने के लिए मजबूर किया गया।

आपको बता दें कि 13 जनवरी को बाल कल्याण समिति (सीडब्ल्यूसी) की एक टीम ने इंदौर में वात्सल्यपुरम जैन ट्रस्ट द्वारा संचालित अनाथालय में औचक निरीक्षण किया था. इसके बाद एक चौंकाने वाला खुलासा हुआ.

ADVERTISEMENT

अनाथालय की लड़कियों ने जब अधिकारियों को आपबीती सुनाई तो वे दंग रह गए. शिकायत के आधार पर पुलिस ने वात्सल्यपुरम जैन ट्रस्ट के चार कर्मचारियों के खिलाफ किशोर न्याय अधिनियम और POCSO के तहत मामला दर्ज किया है.

अपर पुलिस उपायुक्त ने कहा- मामला दर्ज कर कार्रवाई की जा रही है

इंदौर के अतिरिक्त पुलिस उपायुक्त अमरेंद्र सिंह ने बताया कि लड़कियों ने अपने बयान में उत्पीड़न की बात कही है. इसके आधार पर पुलिस ने वात्सल्यपुरम जैन ट्रस्ट के चार कार्यकर्ताओं के खिलाफ मामला दर्ज किया है. आरोपियों की पहचान आयुषी, सुजाता, सुमन, आरती और बबली के रूप में हुई है.

घटना पर इंदौर कलेक्टर ने क्या कहा?

इंदौर कलेक्टर आशीष सिंह ने बताया कि अनाथालय में रहने वाली लड़कियां अलग-अलग जिलों की हैं. निरीक्षण के दौरान पता चला कि इन लड़कियों के साथ दुर्व्यवहार किया गया है. हमने इस मामले की व्यापक जांच शुरू कर दी है. सीडब्ल्यूसी की रिपोर्ट के बाद उचित कानूनी कार्रवाई की गई है. मामले में आगे की जांच जारी है.

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...