कनाडा में खालिस्तानी आतंकी की हत्या के बाद जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई ने दोबारा करवाया मर्डर, जानें अब कौन था टारगेट

ADVERTISEMENT

लॉरेंस बिश्नोई ने दोबारा करवाया मर्डर
लॉरेंस बिश्नोई ने दोबारा करवाया मर्डर
social share
google news

अरविंद ओझा की रिपोर्ट

Lawrence Bishnoi News: अमेरिका में बैठे गैंगस्टर गोल्डी बरार और गुजरात जेल में बंद लॉरेंस बिश्नोई ने दोबारा करवाया मर्डर. कनाडा में सुखदुल की हत्या के बाद हरियाणा के सोनीपत में गैंगस्टर दीपक मानजोत की हत्या कर दी गई. दीपक मानजोत उन शूटरों में से एक था जिसने गोल्डी बराड़ के भाई गुरलाल बराड़ की गोली मारकर हत्या कर दी थी.

  गोल्डी बरार ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए सोशल मीडिया पर लिखा

  हमने बंबीहा गैंग के एक और गैंगस्टर को मार गिराया, जैसे हमने कनाडा में सुक्खा को मारा था, अब हमने मान जोत को मार दिया है, मान जोत ने हमारे भाई गुरलाल बराड़ पर गोली चलाकर उसे मार दिया था, अब हमने हिसाब बराबर कर लिया है, हम एक हैं चुन-चुन कर एक को मारेंगे ...रुको और देखो

गोल्डी बरार ने हत्या की जिम्मेदारी लेते हुए सोशल मीडिया पर लिखा

मानजोत का शव हरियाणा के सोनीपत में मिला था, मान जोत बंबीहा गैंग से जुड़ा था, उसके खिलाफ कई मामले दर्ज थे. कनाडा में सुक्खा की हत्या के बाद मान जोत ने फेसबुक पर लिखा था..."सुक्खा को लॉरेंस ने गोली मारकर हत्या कर दी, हमें अपने हाथों से दिखाओ." मान जोत ने फेसबुक पर गोल्डी और लॉरेंस को ये चैलेंज दिया था.

ADVERTISEMENT

गैंगस्टर दीपक मानजोत की हत्या कर दी गई

मानजोत की पोस्ट के कुछ दिन बाद गोल्डी और बिश्नोई ने उसकी हत्या करवा दी.गोल्डी बराड़ के भाई गुरलाल की साल 2020 में पंजाब में हत्या कर दी गई थी. गुरलाल की हत्या का बदला लेने के लिए गोल्डी और बिश्नोई ने सिद्धू मुसावाला की हत्या कर दी थी. गोल्डी बरार और लॉरेंस बिश्नोई लगातार बंबीहा गैंग पर हमले कर रहे हैं, बंबीहा गैंग के ज्यादातर लोग खालिस्तानी आतंकियों से जुड़े हुए हैं....अर्श डाला भी बंबीहा गैंग से जुड़ा हुआ है.

गोल्डी के भाई की हत्या 2020 में हुई

साल 2020 में पंजाब में गोल्डी बराड़ के भाई गुरीलाल की हत्या हुई थी. गोल्डी और बिश्नोई ने गुरीलाल की हत्या के प्रतिशोध में सिद्धु मूसेवाला की हत्या की साजिश रची. गोल्डी बराड और लॉरेंस बिश्नोई लगातार बंबिया गैंग को निशाना बनाते रहे हैं, जिसके ज्यादातर सदस्य खालिस्तानी आतंकियों से जुड़े हुए हैं.

ADVERTISEMENT

अर्श डाला सुक्खा का दाहिना हाथ था

गौरतलब है कि पिछले महीने कनाडा में गैंगस्टर सुखदुल सिंह सुक्खा दुनुके की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. सुक्खा गैंगस्टरों की "ए" श्रेणी का था और भारत के सर्वाधिक वांछित अपराधियों की सूची में शामिल था. गैंगस्टर सुखदुल सिंह सुक्खा डुनुके, जिसे अर्शदीप सिंह के नाम से जाना जाता है.

ADVERTISEMENT

सुक्खा के सिर में नौ गोलियां मारी गईं

कनाडा में स्थानीय समयानुसार सुबह साढ़े नौ बजे हमलावर उसके घर में घुसे और उसके सिर में नौ बार गोली मारी, जिससे उसाका सिर फट गया. पूरा कमरा खून से लथपथ था. हमले को अंजाम देने के बाद हमलावर मौके से फरार हो गए. सुक्खा की हत्या से पहले हमलावरों ने उस पर गोल्डी के भाई गुरीलाल बराड़ की हत्या में शामिल होने का आरोप लगाया था. उन्होंने दावा किया कि इसमें उसका सीधा हाथ था. इसके बाद, उसने उसके सिर में नौ बार गोली मारी. सुक्खा की मां और बहन कनाडा में रहती हैं, जबकि उसके चाचा पंजाब के मोगा में रहते हैं.

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT