महिला की लाश संग बर्बरता, 'अल्लाह हू अकबर' के नारों के बीच आतंकियों ने अर्धनग्‍न घुमाया लड़की का शव

ADVERTISEMENT

Crime News
Crime News
social share
google news

German Tattoo Artist Killed in Israel: शनिवार सुबह इजराइल में सामने आए घटनाक्रम से दुनिया हिल गई. हमास के आतंकवादियों ने कुछ ही मिनटों के भीतर लगभग 5000 रॉकेट दागे. बड़ी संख्या में हथियारबंद आतंकवादियों ने दक्षिणी इज़राइल में घुसपैठ की, जहाँ उन्होंने महिलाओं और बच्चों सहित नागरिकों का अपहरण कर लिया. सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर भयावह दृश्यों को दर्शाने वाले वीडियो की बाढ़ आ गई, जिसमें रक्तपात के बीच संकट में फंसी महिलाएं भी शामिल थीं, जबकि हमास के आतंकवादियों ने अपनी आक्रामकता जारी रखी.

एक खास वीडियो ने दुनिया को हैरान कर दिया है. इसमें एक ट्रक पर एक युवा लड़की की डेड बॉडी रखी हुई दिखाई दी, जिसके आसपास आतंकवादी मौजूद हैं. उन्होंने इज़राइल पर अपने हमलों का जश्न मनाते हुए "अल्लाहु अकबर" का नारा लगाते हुए उसके कपड़े उतार दिए. यह माना गया कि उन्होंने एक इजरायली महिला सैनिक को पकड़ लिया है, लेकिन अब इस लड़की की पहचान की पुष्टि हो गई है, जिससे उसका पूरा परिवार गहरे दुःख में डूब गया है.

German Tattoo Artist Killed in Israel | Shani Louk

पीड़ित की पहचान शनि लॉक के रूप में हुई है, जो एक जर्मन टैटू कलाकार थी, जो एक संगीत समारोह में भाग लेने के लिए इज़राइल गई थी. हमास के विद्रोहियों ने इज़राइल में घुसपैठ की और अन्य व्यक्तियों के साथ शनि का अपहरण कर लिया. दुख की बात है कि इन दर्दनाक घटनाओं के दौरान 30 साल की शनि की जान चली गई.

ADVERTISEMENT

डेली मेल की एक रिपोर्ट के अनुसार, शनि की चचेरी बहन, थॉमसिना वेंट्राब-लौक ने उसकी पहचान की पुष्टि करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी. उन्होंने बताया कि परिवार ने शनि को उसके टैटू और बालों से पहचाना. थॉमसिना ने कहा, "हम ज्यादा कुछ नहीं जानते हैं. हम किसी सकारात्मक खबर की उम्मीद कर रहे हैं. वह वास्तव में शनि थी. वह एक शांतिपूर्ण संगीत समारोह में गई थी. यह हमारे परिवार के लिए एक बुरा सपना है."

German Tattoo Artist Killed in Israel | Shani Louk

हमास का यह हमला पिछले पचास वर्षों में इजराइल पर सबसे बड़े हमले का प्रतिनिधित्व करता है, जिससे इजराइल बुरी तरह हिल गया है. द टाइम्स ऑफ़ इज़राइल के अनुसार, हमास के हमलों में 300 से अधिक इज़राइली नागरिकों की जान चली गई है, जबकि 1500 से अधिक अन्य घायल हुए हैं. हमास ने इज़राइल पर सभी दिशाओं से हमले शुरू कर दिए है. कई लोगों का अपहरण कर लिया है और सामूहिक हत्याएं की हैं. लोगों को सड़कों से उठा लिया गया और बेरहमी से मार डाला गया. ये हमले यहूदियों की छुट्टियों के दौरान हुए जब कई यहूदी लोग छुट्टियों पर थे.

ADVERTISEMENT

 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...