सीता-गीता की हत्या का था केस, वो जिंदा निकलीं, लव मैरिज कर दोनों के थे एक-एक बच्चे, ऐसे खुला राज

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Delhi News: दिल्ली के बेलघाट इलाके से एक परिवार की दो लड़कियों के अचानक गायब होने की घटना एक साल पहले हुई थी. इस गुमशुदगी के पीछे का कारण एक घटना बताई गई जिसमें भाई के दुश्मनों में से एक पर हत्या का आरोप लगाया गया था.

दोनों बहनें मिलीं जिंदा

पुलिस ने मामले की जांच शुरू की, लेकिन बाद में पता चला कि दोनों लड़कियां जीवित थीं और उन्होंने अलग-अलग राज्यों में अपने प्रेमियों से शादी कर ली है. इससे परिवार को राहत मिली, क्योंकि उन्हें अब मामले में आरोपी के रूप में नहीं देखा गया.

एक-एक बच्चे की मां

बेलघाट के त्रिलोकपुर गांव के रहने वाले अजय प्रजापति के परिवार ने इस मामले को लेकर पुलिस से संपर्क किया था. अजय ने दर्ज कराया कि उसकी दो बहनें सीता और गीता लापता हो गई हैं. पुलिस जांच में पता चला कि ये दोनों लड़कियां गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराने दिल्ली गई थीं.

ADVERTISEMENT

इसी बीच पता चला कि गांव के ही जयनाथ मौर्य ने इन बहनों से प्रेम संबंध बना लिया था. इसकी जानकारी होने पर अजय गांव में उसके घर पहुंचा और आरोप लगाया कि जयनाथ और उसके परिवार ने उसे धमकी देते हुए कहा- जो हाल तुम्हारी बहनों का हुआ है, वही हाल तुम्हारा भी होगा.

कोर्ट के आदेश पर मामला दर्ज किया गया है

अजय प्रजापति जनवरी 2023 से जयनाथ के खिलाफ मामला दर्ज कराने के लिए दौड़ रहे थे, लेकिन सबूतों के अभाव में पुलिस मामला दर्ज नहीं कर रही थी. तभी जयनाथ कोर्ट में पहुंच गये. कोर्ट के आदेश पर आठ जनवरी 2024 को बेलघाट थाने में मुकदमा दर्ज किया गया.

ADVERTISEMENT

पुलिस जांच में खुला राज

पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू की और चार महीने बाद पता चला कि दोनों लड़कियां जीवित हैं. पुलिस ने दोनों से मोबाइल फोन पर बात की. तब दोनों ने बताया कि उनके प्रेम संबंध उत्तराखंड और हरियाणा के युवकों से हैं. इसलिए दोनों ने घर से भागकर उससे शादी कर ली. पुलिस के बुलावे पर दोनों लड़कियां अपने बच्चों के साथ सोमवार को बेलघाट थाने पहुंचीं.

ADVERTISEMENT

 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT