डायमंड सिटी सूरत के फ्लैट से मिले चार बुजुर्गों के शव, हत्या और आत्महत्या में उलझा पेंच, जाँच में जुटी पुलिस

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

सूरत से संजय सिंह राठौड़ की रिपोर्ट

Surat: सूरत के जहांगीरपुरा इलाके में एक फ्लैट से चार लोगों का शव मिलने से सनसनी मच गयी। खबर मिलते ही मौक़े पहुँची पुलिस ने शवों को कब्जे में लेकर तफ्तीश में जुट गई हैं। खाना खाने के बाद एक साथ फ़्लैट में सोने गये एक पुरुष और तीन महिलाओं सहित चार लोगो की मौत की वजह जानने के लिए पुलिस को अब पोस्टमॉर्टम और एफएसएल रिपोर्ट आने का इंतजार है, इसके बाद ही मौत की सही वजह का पता चल पाएगा।

एक फ्लैट से चार लोगों का शव का राज़

सूरत के जहांगीरपूरा इलाके में स्थित राजहंस रेजीडेंसी के ब्लॉक नंबर E के फ्लैट नंबर 101 में देर रात 10 लोगो ने साथ मिलकर खाना खाना खाया था। उसके बाद इसी बिल्डिंग के फ़्लैट नंबर 504 में खाना खाने के बाद हीरा भाई सोलंकी, शान्तु बेन वाढेर, गौरी बेन और जशु बेन सोने चले गये थे। शनिवार की सुबह जब फ़्लैट नंबर 101 में रहने वाला मृतक जशु बेन का बेटा मुकेश चाय लेकर फ़्लैट नंबर 504 पर पहुँचा तो उसने फ़्लैट के अंदर सो रहे लोगो को जगाने की कोशिश की।

ADVERTISEMENT

फ़्लैट नंबर 504 में 4 लाशों का क्या है सच

काफी कोशिश के बाद अंदर से कोई जवाब नहीं मिला। जिसके बाद मुकेश पाँचवें फ़्लोर से उतर कर वह सीधे पहले फ़्लोर पर पहुँचा। मुकेश ने जैसै ही फ़्लैट की चाबी से दरवाजा खोला तो वो हैरान रह गया। फ़्लैट के अंदर सो रहे चार लोग अस्त व्यस्त हालत में पड़े थे। यह देखकर उसने सीधे एंबुलेंस को बुला लिया।  इस मामले की जानकारी अपने परिवार वालों को दी। परिवार के लोग भी मौके पर जुट गये। थोड़ी ही देर में एम्बुलेंस के स्टाफ ने सभी चारों लोगो की मृत घोषित कर दिया। इस बीच पुलिस भी घटनास्थल पर पहुँच गई।

10 लोग चार की मौत

मामला संजीदा था लिहाजा पुलिस ने एफएसएल की टीम को भी मौके पर बुला लिया। मृतक जशु बेन के रिश्तेदार किशोर वाघेला ने बताया कि देर रात इस फ्लैट में रहनेवाली जशुबेन वाढेल अपने रिश्तेदारों के साथ खाना खाकर सोई थीं। उसके बाद आज सुबह सभी का शव बंद फ्लैट से बरामद हुआ है। उनकी मौत कैसे हुई है नहीं पता। ये सुसाइड का मामला नहीं है मरने वाले सभी सीनियर सिटीज़न है उनके परिवार में कोई दिक़्क़त नहीं थी। उनकी मौत कैसे हुई है यह तो एफएसएल और पोस्ट मॉर्टम रिपोर्ट आने के बाद ही पता चलेगा।

ADVERTISEMENT

मौत की वजह जानने में जुटी पुलिस

मरनेवालों में जशुबेन वाढेल के साथ शांता वाढेल, गौरी मेवाड़ा और हीरा मेवाड़ा शामिल हैं। तीनों महिलाएं सगी बहने हैं। जबकि हीरा नामक व्यक्ति गौरी मेवाड़ा के पति थे। बताया जा रहा है कि देर रात 10 लोग एक साथ खाने के लिए इकठ्ठा हुए थे। खाना खाने के बाद बाकी लोग अपने घर चले गए थे। फिलहाल पुलिस को आत्महत्या करने का कोई सबूत अभी तक नही मिला है। ना ही मृतकों के शरीर में किसी तरह के चोट के निशान मिले हैं। अंदेशा जताया जा रहा है कि बाथरूम का गीजर चालू था, गैस रिसाव की वजह से भी मौत हो सकती है। 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...