रश्मिका मंदाना डीपफेक वीडियो मामला: मृणाल ठाकुर, नागा चैतन्य ने की कार्रवाई की मांग

ADVERTISEMENT

जांच जारी
जांच जारी
social share
google news

Bollywood Crime News: अभिनेत्री रश्मिका मंदाना के, छेड़छाड़ कर बनाए गए वीडियो (डीपफेक वीडियो) के सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद मृणाल ठाकुर, नागा चैतन्य और चिन्मयी श्रीपदा सहित बॉलीवुड की कई हस्तियां उनके समर्थन में आगे आई हैं। तथ्य की जांच करने वाले एक व्यक्ति ने ब्रिटिश-भारतीय सोशल मीडिया हस्ती जारा पटेल के मूल वीडियो के साथ रश्मिका मंदाना का ‘डीपफेक वीडियो’ क्लिप पोस्ट किया और उन्होंने भारत में ‘डीपफेक’ से निपटने के लिए एक कानूनी और नियामक ढांचे की तत्काल आवश्यकता रेखांकित की।

बॉलीवुड की कई हस्तियां उनके समर्थन में

फिल्म ‘गुडबाय’ में मंदाना के सह कलाकार अमिताभ बच्चन ने इस मामले में कानूनी कार्रवाई की मांग की है। बच्चन इस पर प्रतिक्रिया देने वाले पहले व्यक्ति थे। अभिनेत्री मृणाल ठाकुर ने इस मुद्दे पर आवाज उठाने के लिए मंदाना की प्रशंसा की और उन लोगों से इस मुद्दे पर मूक दर्शक न बने रहने का आग्रह किया, जिन्होंने अब तक चुप्पी साध रखी है। ठाकुर ने इंस्टाग्राम पर लिखा, 'इस मुद्दे पर अपनी आवाज बुलंद करने के लिए धन्यवाद रश्मिका, अब तक हमने इसकी (डीपफेक) सिर्फ झलकियां देखी हैं, लेकिन हममें से बहुतों ने चुप रहना ही बेहतर समझा है। हम एक समुदाय, एक समाज के रूप में कहां जा रहे हैं?' 

रश्मिका मंदाना का ‘डीपफेक वीडियो’ 

उन्होंने लिखा, 'हम लोग एक अभिनेत्री होने के नाते सुर्खियों में हो सकते हैं, लेकिन दिन के अंत में हममें से हर कोई इंसान है। हम इसके बारे में बात क्यों नहीं कर रहे हैं? चुप मत रहिए, अब समय नहीं है।' मंदाना ने सोमवार को इंस्टाग्राम के माध्यम से अपनी चिंता व्यक्त की। मंदाना ने कहा कि वह वीडियो देखकर ‘वास्तव में आहत’ हुईं, जिसमें एक लिफ्ट के अंदर कसरत करने के दौरान पहनी जाने वाली काले रंग की पोशाक (वनसी) में एक महिला को दिखाया गया है। कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) का उपयोग करके इस महिला (जारा पटेल) के चेहरे में छेड़छाड़ कर इसे इस तरह बना दिया गया कि वह मंदाना की तरह दिखे।

ADVERTISEMENT

मेरे रक्षक और सपोर्ट सिस्टम

रश्मिका ने लिखा, 'आज एक महिला और एक अभिनेत्री होने के नाते मैं अपने परिवार, दोस्तों और शुभचिंतकों की शुक्रगुजार हूं, जो मेरे रक्षक और सपोर्ट सिस्टम हैं।' उन्होंने कहा, 'लेकिन अगर ऐसा कुछ उस वक्त हुआ होता जब मैं स्कूल या कॉलेज में थी, तो सच में मैं कल्पना नहीं कर सकती कि तब मैंने इसका कैसे सामना किया होता। इससे पहले कि हममें से और लोग इससे प्रभावित हों, हमें एक समुदाय के रूप में और तत्परता से इस पर ध्यान देने की आवश्यकता है।' ‘डीपफेक’ एक डिजिटल विधि है जिसके तहत कृत्रिम बुद्धिमत्ता (एआई) का इस्तेमाल करके उपयोगकर्ता किसी व्यक्ति की छवि को किसी दूसरे व्यक्ति की छवि से आसानी से बदल सकता है। 

मंदाना के चेहरे के साथ छेड़छाड़ 

जारा पटेल ने भी मंदाना के डीपफेक वीडियो की निंदा की और कहा कि क्लिप से उसका कोई लेना-देना नहीं है। पटेल के शरीर पर ही मंदाना के चेहरे के साथ छेड़छाड़ कर डीपफेक वीडियो तैयार किया गया था। पटेल ने इंस्टाग्राम पर लिखा, 'नमस्ते, मुझे पता चला कि किसी ने मेरे शरीर और लोकप्रिय बॉलीवुड अभिनेत्री के चेहरे का उपयोग करके एक डीपफेक वीडियो बनाया है। डीपफेक वीडियो से मेरा कोई लेना-देना नहीं है, और जो कुछ भी हो रहा है उससे मैं बहुत परेशान और निराश हूं।' उन्होंने लिखा ‘‘मैं उन महिलाओं और लड़कियों के भविष्य को लेकर और भी चिंतित हूं जो खुद को सोशल मीडिया पर लाने से और भी डरेंगी। ’’

ADVERTISEMENT

जो कुछ हो रहा है मैं उससे बहुत परेशान हूं

पटेल ने कहा कि इंटरनेट पर जो भी आप देखते हैं, उसकी तथ्य-जांच करें। इंटरनेट पर सब कुछ वास्तविक नहीं है। ‘‘जो कुछ हो रहा है मैं उससे बहुत परेशान हूं।’’ अभिनेता नागा चैतन्य ने कहा कि यह बहुत निराशाजनक है कि तकनीक का किस तरह दुरुपयोग किया जा रहा है और भविष्य में क्या ये और बढ़ सकता है, इसके बारे में सोचना और भी डरावना है। चैतन्य ने मंदाना की 'एक्स' पोस्ट के जवाब में लिखा, 'कार्रवाई की जानी चाहिए और उन लोगों की सुरक्षा के लिए किसी तरह का कानून लागू किया जाना चाहिए, जो इसका शिकार हुए हैं और आगे भी हो सकते हैं।' गायिका चिन्मयी श्रीपदा ने अपने सोशल मीडिया पोस्ट में डीपफेक को भारत में लड़कियों को निशाना बनाने और ब्लैकमेल करने का 'हथियार' बताया। 

ADVERTISEMENT

ब्लैकमेल करने का हथियार

उन्होंने लिखा, 'लोन एप्स महिला उधारकर्ताओं को अश्लील तस्वीरों के साथ उनके चेहरों की फोटोशॉप्ड तस्वीरें दिखाकर परेशान करते हैं और वे इससे निपट नहीं सकतीं। सामान्य अप्रशिक्षित लोगों के लिए डीपफेक को पहचानना कठिन हो जाएगा। हर किसी के पास उच्च-क्षमता वाला डिस्पले नहीं होता।' चिन्मयी ने लिखा, 'मुझे सच में उम्मीद है कि यह एक राष्ट्रव्यापी जागरूकता अभियान है, जो लड़कियों के लिए डीपफेक के खतरों के बारे में आम जनता को शिक्षित करने और मामलों को अपने हाथों में लेने के बजाय घटनाओँ की रिपोर्ट करने के लिए तत्काल शुरू हो सकता है।' मंदाना ने बाद में अमिताभ बच्चन को उनके समर्थन में खड़े होने के लिए धन्यवाद दिया और कहा, 'मैं आप जैसे नेताओं के साथ देश में सुरक्षित महसूस करती हूं।' उन्होंने चैतन्य और चिन्मयी को भी धन्यवाद दिया। उन्होंने 'एक्स' पर लिखा, 'धन्यवाद... इस मुद्दे पर जागरूकता पैदा करने के लिए, उम्मीद है कि सख्त कार्रवाई की जाएगी और विनियमित दिशानिर्देश लागू किए जाएंगे।'

(PTI)

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...