गाजियाबाद के डासना में स्लॉटर हाऊस पर बड़ी रेड, स्लॉटर हाउस में बच्चे काट रहे थे मांस, रेस्क्यू किए गए 57 बच्चे

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Ghaziabad: गाजियाबाद के डासना में बड़ा स्लॉटर हाऊस चल रहा था। यहां नाबालिग बच्चो से अमानवीय तरीके से मांस कटवाने का काम करवाया जा रहा था। राष्ट्रीय बाल संरक्षण आयोग को ये शिकायत मिली थी जिसके बाद पुलिस प्रशासन की मदद से रेड की गई और यहां से 31 नाबालिग लड़कियों और 26 नाबालिग लड़कों को रिहा कराया गया। इस तरह कुल 57 नाबालिग रिहा कराए गए।

मीट फैक्टरी में मासूमों से कराया जा रहा काम

जानकारी के मुताबिक एनसीपीसीआर, पुलिस, लेबर विभाग और कई एजेंसियों की टीम ने एक साथ इंटरनेशनल एग्रो फूड नाम की कंपनी में छापेमारी की कार्रवाई की। इस स्लॉटर हाऊस में नाबालिग लड़के लड़कियों से मीट कटिंग और पैकेजिंग का काम कराया जा रहा था। पुलिस के मुताबिक पश्चिम बंगाल और बिहार से 300 रूपए की दिहाड़ी पर नाबालिगों को यहां लाकर काम कराया जा रहा था। 

पुलिस ने मारी रेड-57 नाबालिग रिहा

एडीसीपी क्राइम गाजियाबाद सच्चिदानंद ने बताया राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली को यह शिकायत मिली थी कि गाजियाबाद में स्लॉटर हाउस में बिहार, पश्चिम बंगाल राज्य से लगभग दर्जनों बच्चों को अमानवीय हालत में काम करने के लिए मजबूर किया जा रहा है। मामले की नजाकत को देखते हुए 29 मई को राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली के टीम के साथ बच्चों की रिहाई के लिए रेस्क्यू ऑपरेशन किया गया। जानकारी के मुताबिक इंटरनेशनल एग्रो फूड्स का मुख्य कारोबार मीट प्रोसेसिंग फ्रीजिंग एक्सपोर्ट का है। पूरे मामले की जांच की जा रही है। 

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT