Atiq Ahmad Exclusive: अतीक अहमद लेता था चुनाव टैक्स-गुंडा टैक्स, 2 तरह की पर्चीयों से तय होता था रेट, जानिए

ADVERTISEMENT

फेद और गुलाबी पर्ची का तय था रेट
फेद और गुलाबी पर्ची का तय था रेट
social share
google news

Atiq Ahmad Election Tax: माफिया अतीक अहमद चुनाव लड़ने के लिए, बड़े बिल्डर्स और बड़े-बड़े कारोबारियों से लेता था चुनाव टैक्स। अतीक के चुनाव लड़ने पर जारी होती थी गुंडा टैक्स वसूली पर्ची। दो तरह की पर्चियां जारी की जाती थीं, ₹3 लाख से लेकर ₹5 लाख तक था गुलाबी पर्ची का रेट, सफेद पर्ची का रेट ₹5 लाख से ऊपर था। कैश के साथ-साथ एकाउंट में भी जमा कराए जाते थे पैसे.

 

Atiq Ahmad Election Tax

Atiq Ashraf Murder: उमेश पाल हत्याकांड में अब तक का सबसे बड़ा खुलासा. अतीक अहमद पर अब तक का सबसे बड़ा खुलासा. अतीक अहमद का सिंडिकेट साबरमती जेल से भी मोबाइल फोन का इस्तेमाल कर रहा था. अतीक अहमद ने मोहम्मद मुस्लिम नामक निर्माता को धमकी दी थी और 5 करोड़ की मांग की थी. मुठभेड़ में मारे गए अतीक के बेटे को मोहम्मद मुस्लिम ने दिए 80 लाख. इन 80 लाख का इस्तेमाल उमेश पाल की हत्या में किया गया था. 
अतीक के डर से 2007 में प्रयागराज छोड़कर लखनऊ भाग गया एक बिल्डर मोहम्मद मुस्लिम, अतीक जनवरी 2023 से लगातार मोहम्मद मुस्लिम को धमकी दे रहा था और पैसे की मांग कर रहा था, अतीक के जेल से धमकी भरे मैसेज के बाद मोहम्मद मुस्लिम काफी डर गया और मोहम्मद मुस्लिम ने पैसे दे दिए असद को उमेश पाल हत्याकांड में इस्तेमाल किया गया था

चैट्स से यह भी पता चलता है कि वह यूपी पुलिस और ईडी की कार्रवाई से काफी खफा था...अतीक इतना ओवरकॉन्फिडेंट था कि उसने चैट्स में यह भी लिखा कि 'मैं अभी मरने वाला नहीं हूं।'

ADVERTISEMENT

अतीक ने लिखा धमकी भरा मैसेज

    " मेरे कोई लड़के ना डॉक्टर बनेगा और ना वकील बनेगा और सिर्फ हिसाब होना है और इंसाहल्लाह बहुत जल्द हिसाब शुरू कर दूंगा

यूपी पुलिस ने अतीक की पत्नी को लेकर ताबड़तोड़ छापेमारी शुरू कर दी है। कौशांबी से पश्चिम बंगाल तक छापेमारी चल रही है। शाइस्ता के कौशाम्बी, ग्रेटर नोएडा, मेरठ, दिल्ली, ओखला, मुम्बई और पश्चिम बंगाल में छिपे होने की आशंका है।

ADVERTISEMENT

अतीक ने लिखा धमकी भरा मैसेज

ADVERTISEMENT

मैं आपको आखिरी बार कह रहा हूं, आप मेरे बेटे से ED, ED कर रहे रहे ED ने अभी आपका पैसा सीज तो नहीं किया, बेहतर ये है की हमारे बेटे उमर को जो हिसाब है और असद ने जो पैसा दिया है वो हमे इलेक्शन में जरूरत है तो हमारी आपसे कोई दुश्मनी तो नही आपके घर ने अपनी किस्मत और अक्ल से कमाया लेकिन हमारे जो पैसे है उसको तुरंत दे दे तो वो इस वक्त हमारे बहुत काम आएगा और शायद आपके तरफ से ध्यान हाथ जयकम लफ्जों में ज्यादा समझ लो मैं अभी मरने वाला नहीं हूं, इंसाह अल्लाह exercise करता हूं दौड़ता हूं, बेहतर है हमसे आपके मिल लो
 

शाइस्ता के 20 से ज्यादा ऐसे मददगारों को चिह्नित किया गया है जिनसे उसको मदद मिल सकती है। इस सिलसिले में प्रयागराज का एक बिल्डर, शाइस्ता की करीबी एक महिला डॉक्टर, बनारस में रहने वाले अतीक के बहनोई से भी पुलिस पूछताछ कर रही है।

उधर, गुड्डू मुस्लिम को अभी तक पुलिस तलाश रही है। अतीक अहमद का खास शूटर गुड्डू मुस्लिम ही उसका सारा नेटवर्क संभालता था, लेकिन अभी तक उसकी कुछ भी अता-पता नहीं है। वो आईएसआई से मंगवाए गए हथियार पंजाब के रास्ते लाने में गुड्डू मुस्लिम ही मैनेज करता था।

गुड्डू मुस्लिम उमेश पाल हत्‍याकांड में पांच लाख का इनामी है। शूटआउट के बाद आखिरी बार वो मेरठ में अतीक की बहन आयशा नूरी के घर नजर आया था जहां आयशा के पति अखलाक ने गले लगाकर उसका स्वागत किया था। उमेश पाल मर्डर केस के वायरल सीसीटीवी फुटेज में गुड्डू मुस्लिम झोले से बम निकालकर फेंकता नजर आ रहा है।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT