बृजभूषण शरण सिंह का कटा टिकट, 40 क्रिमिनल केस, करोड़ों की संपत्ति, राइफल-पिस्टल जैसे हथियार! जानें कौन हैं बृजभूषण शरण सिंह?

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Brij Bhushan Sharan Singh: भारतीय जनता पार्टी ने पिछले कुछ हफ्तों से जारी अटकलों पर विराम लगाते हुए कैसरगंज लोकसभा सीट से मौजूदा सांसद बृजभूषण शरण सिंह का टिकट काट दिया और उनकी जगह उनके बेटे करण भूषण सिंह को इस सीट से उम्मीदवार घोषित किया है. बृजभूषण शरण सिंह महिला पहलवानों के यौन उत्पीड़न के आपराधिक आरोपों का सामना कर रहे हैं.

इसलिए बीजेपी ने काटा बृजभूषण का टिकट

हाल ही में भारतीय कुश्ती महासंघ के पूर्व अध्यक्ष बृजभूषण ने अपने ऊपर लगे आरोपों को खारिज कर दिया था। आपको बता दें कि बजरंग पुनिया, साक्षी मलिक, विनेश फोगाट जैसे रेसलर ने रेस्लिंग फेडरेशन ऑफ इंडिया के चीफ बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ मोर्चा खोल दिया था उन्हें महिला पहलवानों के साथ यौन शोषण करने के आरोप लगे हैं.

क्यों है बृजभूषण शरण सिंह विवादों में?

सात महिला पहलवानों ने बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ यौन उत्पीड़न का आरोप लगाया, जिसमें एक नाबालिग भी शामिल थी. देश के कई पहलवान स्टार जंतर-मंतर पर धरने पर बैठे थे. 18 जनवरी 2023 को देश के प्रमुख पहलवान विनेश फोगाट, साक्षी मलिक और बजरंग पुनिया ने दिल्ली के जंतर-मंतर पर रेसलिंग फेडरेशन के पूर्व अध्यक्ष बृज भूषण शरण सिंह पर कई गंभीर आरोप लगाए थे. इस मामले में, खिलाड़ियों ने अपने बुनियादी सुविधाओं की कमी, वित्तीय अनियमितताएं, खिलाड़ियों और फेडरेशन के बीच अस्पष्ट संवाद, बुरा बर्ताव और बृजभूषण शरण सिंह का मन-माना रवैया जैसे कई आरोप लगाए गए.

ADVERTISEMENT

बृज भूषण शरण सिंह पर कई गंभीर आरोप

उनमें सबसे गंभीर आरोप यौन शोषण से जुड़े थे. विनेश फोगाट ने रोते हुए कहा कि बृजभूषण सिंह और कोच, नेशनल कैंप में महिला रेसलर्स का यौन उत्पीड़न करते हैं. खिलाड़ियों के धरने के बीच, खेल मंत्रालय ने कुश्ती संघ से 72 घंटे के अंदर आरोपों पर जवाब देने के लिए नोटिस भेजा था. 21 जनवरी को भारतीय कुश्ती महासंघ ने अपनी जवाबी चिट्ठी में पहलवानों के आरोपों को ख़ारिज करते हुए कहा था कि उनके पास यौन उत्पीड़न का एक भी आरोप नहीं आया है और न ही कभी इस पर शिकायत मिली है.

बृजभूषण शरण सिंह लग्जरी कारों के शौकीन

बृजभूषण शरण सिंह करोड़ों की संपत्ति के मालिक हैं और पिछले 11 सालों से कुश्ती संघ WFI के अध्यक्ष थे. उनकी पत्नी के पास भी कई संपत्ति है. इनमें से उनके पास 1,57,96,317 रुपये की चल संपत्ति है. बृजभूषण सिंह के अलावा उनकी पत्नी के नाम पर भी दो गाड़ियां हैं. बीजेपी सांसद बृजभूषण शरण सिंह के पास करोड़ों की संपत्ति है. साल 2019 में दाखिल चुनावी हलफनामे के मुताबिक बृजभूषण शरण सिंह के पास 10 करोड़ से अधिक की संपत्ति है. उनके पास 9,89,05,402 करोड़ की चल-अचल संपत्ति है. इसके अलावा वो लग्जरी कारों के शौकीन हैं. उनकी कार कलेक्शन में एंडेवो, महिंद्रा स्पोर्पिंयो जैसी गाड़ियां शामिल हैं.

ADVERTISEMENT

बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ 40 मामले दर्ज

बृजभूषण सिंह के अलावा उनकी पत्नी के पास 63,444,541 की संपत्ति है. इसमें से उनके पास 1,57,96,317 रुपये की चल संपत्ति है। उनके पास दो लग्जरी कार और उनकी पत्नी के नाम पर दो गाड़ियां हैं. सुप्रीम कोर्ट में पहलवानों के वकील कपिल सिब्बल ने महिला पहलवानों की सुरक्षा की मांग की थी. उन्होंने कहा था कि 'बृजभूषण शरण सिंह के खिलाफ 40 मामले दर्ज हैं, इसलिए मैं याचिका देने वाली महिलाओं की सुरक्षा को लेकर चिंतित हूं और कोर्ट से अपील करता हूं कि वे याचिकाकर्ताओं को स्पेशल सुरक्षा प्रदान करें.'

ADVERTISEMENT

बृजभूषण शरण सिंह के 5 हथियार

बृजभूषण सिंह के पास संपत्ति और गाड़ियों के अलावा 5 हथियार भी हैं. उनके नाम पर 1 पिस्टल, 1 राइफल, 1 रैपिटर हैं. उनकी पत्नी के नाम पर भी 1 राइफल और 1 रैपिटर हैं. उनके पास करीब 1 करोड़ रुपये की खेतीहर जमीन है. उनके नाम पर 2 करोड़ रुपये का नॉन-एग्रीकल्चर लैंड है. उनकी पूर्णिया में 25 लाख रुपये की कॉमर्शियल बिल्डिंग भी है. उनके नाम पर 2 करोड़ रुपये की रेजिडेंशियल प्रॉपर्टी भी है. बृजभूषण सिंह विवादों से घिरे रहते हैं. साल 2019 में उन्होंने चुनाव प्रचार के दौरान बसपा सुप्रीमो मायावती के लिए अश्लील शब्दों का इस्तेमाल किया था. उन्होंने रांची में एक नेशनल अंडर-15 कुश्ती चैंपियनशिप के दौरान मंच पर एक पहलवान को थप्पड़ मारा था.

ये है बृजभूषण शरण सिंह का दबदबा

बताया जाता है कि बीजेपी ने भाजपा के कद्दवार नेता के रूप में बृजभूषण शरण सिंह को पहली बार 1991 में टिकट दिया था जब उनके ऊपर करीब 34 आपराधिक मामले दर्ज थे. बृजभूषण शरण सिंह गोंडा जिले के कैसरगंज लोकसभा सीट से MP हैं और वे 6 बार सांसद रह चुके हैं. उनकी पत्नी केतकी देवी भी एक बार एमपी चुनी गई थीं. उनके बेटे प्रतीक भूषण सिंह भी गोंडा की सदर सीट से विधायक हैं और वे इस सीट पर दो बार से जीत रहे थे.

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT