लखीमपुर खीरी से मोदी के मंत्री 'टेनी' की हार! टेनी के बेटे पर थार से चार किसानों को कुचलने का आरोप

ADVERTISEMENT

Lok Sabha Election Result 2024 Live: 
Lok Sabha Election Result 2024 Live: 
social share
google news

Lok Sabha Election Result 2024 Live: यूपी की 80 सीटों पर मतगणना जारी है, जिसमें लखीमपुर खीरी सीट पर मतगणना खत्म हो गई है. इस सीट से सपा उम्मीदवार उत्कर्ष वर्मा ने जीत हासिल की है. वहीं अजय मिश्रा टेनी हार गए हैं.

543 लोकसभा सीटों के लिए मतगणना जारी है. अब तक 7 सीटों का परिणाम घोषित हो चुका है. केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी उत्तर प्रदेश की लखीमपुर खीरी सीट से चुनाव हार गए हैं. 2021 में टेनी के बेटे पर प्रदर्शन कर रहे किसानों पर अपनी थार जीप चढ़ाने का आरोप लगा था. इस घटना में 8 लोगों की मौत हो गई थी.

लखीमपुर खीरी में कृषि कानून के खिलाफ किसान संगठन आंदोलन कर रहे थे. इस दौरान हिंसा भड़क उठी और इसमें 4 किसानों की मौत हो गई थी. ऐसा आरोप लगा था कि केंद्रीय मंत्री के बेटे ने अपनी गाड़ी से किसानों को रौंद डाला था. इस मामले में कुछ महीने के बाद आशीष मिश्रा को जमानत मिल गई थी.

ADVERTISEMENT

कृषि कानून के विरोध में हुई थी हिंसा

केंद्र के (निरस्त) कृषि कानूनों के खिलाफ देशभर में विरोध प्रदर्शन चल रहे थे. इसी दौरान उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले में आंदोलन के दौरान हिंसा भड़क गई. 3 अक्टूबर 2021 को हुई इस हिंसा में चार किसानों समेत आठ लोगों की मौत हो गई. किसान संगठनों ने आरोप लगाया है कि केंद्रीय गृह राज्य मंत्री अजय मिश्रा टेनी के बेटे आशीष मिश्रा ने अपनी गाड़ी से प्रदर्शनकारियों के एक समूह को टक्कर मार दी. मंत्री के बेटे की गाड़ी से किसानों को कुचलकर मार डाला गया.

 यूपी पुलिस की एफआईआर में कहा गया है कि एक एसयूवी ने चार किसानों को कुचल दिया. आशीष मिश्रा एसयूवी में बैठे थे. इसके बाद एसयूवी चला रहे व्यक्ति और दो भाजपा कार्यकर्ताओं की कथित तौर पर गुस्साए किसानों ने पीट-पीटकर हत्या कर दी. एफआईआर में कहा गया है कि हिंसा में एक पत्रकार की भी मौत हो गई.

ADVERTISEMENT

खालिस्तान समर्थक अमृतपाल आगे

वहीं वारिस पंजाब दे संगठन के प्रमुख अमृतपाल फिलहाल राष्ट्रीय सुरक्षा कानून (NSA) के तहत असम की डिब्रूगढ़ जेल में बंद हैं. अमृतपाल ने निर्दलीय के तौर पर चुनाव लड़ा था. पंजाब की 13 लोकसभा सीटों के लिए मंगलवार सुबह 8 बजे कड़ी सुरक्षा के बीच वोटों की गिनती शुरू हो गई.

ADVERTISEMENT

इंदिरा गांधी के हत्यारे का बेटा आगे

दूसरा बड़ा उलटफेर फरीदकोट सीट पर हो रहा है. यहां निर्दलीय उम्मीदवार सरबजीत सिंह खालसा करीब 32 हजार वोटों से आगे चल रहे हैं. सरबजीत बेअंत सिंह के बेटे हैं, जिन्होंने दिवंगत प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की हत्या की थी. इस सीट पर भाजपा के हंसराज हंस और आम आदमी पार्टी (आप) के करमजीत अनमोल भी चुनाव लड़ रहे हैं. सरबजीत सिंह की मां बिमल कौर 1989 में रोपड़ से सांसद थीं.

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT