''एक साल के लिए रख लो...दे देना..6-7 लाख रुपया'', बेटियों के जिस्म का होता है एग्रीमेंट, इन गांवों में एक साल के सौदे की ये है कीमत

ADVERTISEMENT

Prostitution Racket: राजस्थान और मध्य प्रदेश में युवतियों की तस्करी को लेकर एक अहम खुलासा हुआ है.

social share
google news

Minor girls trafficking: राजस्थान और मध्य प्रदेश में युवतियों की तस्करी को लेकर एक अहम खुलासा हुआ है. Aajtak द्वारा हाल ही में किए गए एक अंडरकवर ऑपरेशन, जिसका कोडनेम "प्रोजेक्ट डॉटर मार्केट" है, ने कई चौंकाने वाले तथ्य सामने लाए हैं. इस गुप्त जांच से इन क्षेत्रों में कम उम्र की लड़कियों को देह व्यापार में धकेलने की परेशान करने वाली प्रथा का खुलासा हुआ है.

जांच टीम ने राजस्थान के तीन गांवों में अपना ऑपरेशन शुरू किया और अवैध गतिविधियों को कैमरे में कैद किया. सामने आया है कि राजस्थान के इन गांवों में कम उम्र की लड़कियां शोषण का शिकार हो रही हैं और इन लड़कियों का एक बाजार खड़ा हो गया है. इस बाज़ार में इन मासूम लड़कियों की तस्करी बड़े पैमाने पर होती है.

sting exposed prostitution: जहां बेटियों की सुरक्षा और शिक्षा की वकालत करने वाला राष्ट्रव्यापी नारा है, वहीं देश के कुछ हिस्सों में युवा लड़कियों के शोषण को देखना निराशाजनक है. इन इलाकों में खुलेआम बेटियों का व्यापार किया जा रहा है और "आजतक" की जांच टीम ने इन लड़कियों से जुड़े मानव तस्करी और देह व्यापार उद्योग की भयावह वास्तविकताओं पर प्रकाश डाला है.

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

मामूली पैसों के बदले अपनी बेटियों को बेचने 

आइए राजस्थान के बूंदी जिले के एक गांव से शुरुआत करते हैं. रामनगर नाम का यह गांव हर तरफ गरीबी से घिरा हुआ है. यहां लोग मामूली पैसों के बदले अपनी बेटियों को बेचने का सहारा ले रहे हैं. इस गाँव में, लाखन नाम का एक लड़का बताता है कि यहाँ बहुत सारी लड़कियाँ हैं, जिनमें से कम से कम 50 से 60 हैं. वह हमें ये लड़कियाँ दिखाने का प्रस्ताव रखता है. यहां रिपोर्टर और इन लड़कियों की तस्करी में शामिल लाखन के बीच हुई बातचीत के कुछ अंश दिए गए हैं.

बिचौलिया लाखन: लड़कियां चाहिए, हां भेज देंगे. बहुत सारी लड़कियां हैं गांव में... कम से कम 50 से 60 लड़किया हैं.

ADVERTISEMENT

लाखन: अभी चल सकते हैं, लड़कियां दिखा दूंगा आपको. जो पसंद आए बताना. लड़की के मां-बाप से बात कर लेंगे.

रिपोर्टर: लड़की की कितनी उम्र होगी?

लाखन: कम से कम 14 साल या 15 साल 

आजतक के इस स्टिंग ऑपरेशन में साफ हो गया कि कैसे बिचौलिये लड़कियों को बरगलाकर वेश्यावृत्ति के धंधे में धकेलने की कोशिश करते हैं. आमतौर पर माता-पिता अपनी बेटियों को बेचने के लिए अनुबंध करते हैं.

अगले दिन, आजतक की जांच टीम को जितेंद्र नाम के एक व्यक्ति से मिलवाया गया, जिसने दो कम उम्र की लड़कियों को पेश किया. रिश्ते की बात करें तो जितेंद्र उनके चाचा होने का दावा करते था. उसने एक कम उम्र की लड़की की कीमत छह से सात लाख रुपये बताई और एक साल के कॉन्ट्रैक्ट पर चर्चा की. यहां जितेंद्र और रिपोर्टर के बीच हुई बातचीत के कुछ अंश दिए गए हैं.

रिपोर्टर: क्या उम्र है?

लाखन: 15 या 16 साल होगी.

जितेंद्र: कोई दिक्कत की बात नहीं है, अदालत से नोटरी करवा लेना. एक साल के लिए रख लो. छह से सात लाख रुपये दे देना.

रिपोर्टर:  अच्छा, एक साल का छह से सात लाख रुपया. लड़की एक साल बाद वापस आ जाती है? 

जितेंद्र:  हां, आ जाती है. जैसे ही आपका टाइम पूरा हुा. लड़की घर आ गई. 

जितेंद्र: एक साल बाद दूसरी लड़की खरीद देंगे. एक साल में विश्वास हो ही जाएगा. आप जितनी बोलोगे, उतनी भिजवा देंगे. 

Report  By: मो. हिज्बुल्लाह/जयकिशन शर्मा 

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...