लाश मिली मंगेतर की, मर्डर हुआ पत्नी का, देश में पहली बार नाइट्रोजन गैस से हुए कत्ल की कहानी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Crime Story in hindi : क़ातिल कोई क़त्ल कर दे और सुराग़ भी ना मिले. ऐसा चाहता तो हर क़ातिल है. और अंजाम भी दे देता है. लेकिन सच ये भी है कि उसके ग़ुनाह से पर्दा एक ना एक दिन उठ ही जाता है. एक शख्स जो पेशे से टीचर लेकिन शातिर इतना कि उसके सामने हॉलीवुड की बड़ी से बड़ी सस्पेंस थ्रिलर फिल्मों (Thriller Film) की स्क्रिप्ट भी फेल हो जाए. एक हथियार से दो-दो क़त्ल.

क़त्ल के बाद ऐसी साज़िश कि सामने वाले को शक़ भी ना हो. और ऐसा हुआ भी. आज शम्स की जुबानी (Shams ki Jubani) में ऐसे खौफनाक नाइट्रोजन किलर की जिसने एक हथियार से दो-दो मर्डर किए और हत्या को लोग सामान्य मौत समझते रहे.

Crime Ki kahani : ये क्राइम की कहानी पंजाब से है. कातिल एक महीने पहले ही प्रेग्नेंट बीवी का क़त्ल कर देता है. लेकिन फिर भी वो दुनिया की नजरों में बेगुनाह रहता है. क्योंकि उसकी बीवी की मौत को लोग साधारण मौत समझते थे. ऐसा इसलिए क्योंकि उसके शरीर पर ना तो कोई चोट के निशान थे. और ना ही किसी तरह की जबर्दस्ती के. और ना ही फांसी लगाने का या फिर कोई और निशान.

ADVERTISEMENT

लोगों ने ये मान लिया था कि अचानक उसे दिल का दौरा पड़ा और मौत हो गई. उस रहस्य पर तो पर्दा आज भी पड़ा था लेकिन दूसरे क़त्ल में जब आरोपी टीचर पुलिस के हत्थे चढ़ा तब पता चला कि वो घटना भी हत्या की थी.

आखिर कौन है वो क़ातिल? कैसे करता था वो क़त्ल? आखिर कौन सी ऐसी वजह थी कि जिससे वो क़त्ल भी कर दे तो दुनिया की नजरों में वो साधारण मौत साबित हो जाती थी.

ADVERTISEMENT

Punjab Patiala Fiance Murder Mystery: ख़ौफ़नाक साज़िश करने वाले इस किलर की कहानी 22 अक्टूबर 2021 को सामने आई. कातिल का नाम नवनिंदरप्रीत पाल सिंह. उम्र तकरीबन 40 साल. इल्ज़ाम बीवी और मंगेतर की हत्या का. दोनों की हत्या का तरीका एक जैसा. लेकिन कोई सुराग नहीं. एक क़त्ल 19-20 सितंबर 2021 की रात में. पहली बीवी का और दूसरा क़त्ल मंगेतर का 13 अक्टूबर की रात.

ADVERTISEMENT

दरअसल, नवनिंदरप्रीत पाल सिंह ने पुलिस रिमांड के दौरान कबूल किया कि उसने अपनी मंगेतर का कत्ल किया था. उसने बताया कि उसने अपनी मंगेतर छपिंदरपाल कौर से सगाई से पहले भी दो शादी की थी.

अपने रिश्तों से परेशान होकर उसने पहली बीवी सुखदीप और फिर मंगेतर छपिंदरपाल कौर की हत्या की प्लानिंग की थी. उसने कई हॉलीवुड फिल्में देखी और नाइट्रोजन सिलेंडर का इस्तेमाल कर हत्या करने के तरीकों के बारे में इंटरनेट से जानकारी इकट्ठा की.

Punjab Crime News : मामला है पंजाब के पटियाला का. आरोपी नवनिंदरप्रीत पाल सिंह ने अपनी मंगेतर की हत्या की साजिश रचने की बात कबूल की. इसकी जानकारी तब हुई जब बठिंडा की छपिंदरपाल कौर (28) की हत्या की जांच हो रही थी. दरअसल, आरोपी ने 11 अक्टूबर को अपनी मंगेतर को शादी की शॉपिंग के लिए पटियाला बुलाया था. 11 अक्टूबर से 13 अक्टूबर तक पीड़िता ने अपने परिवार से फोन पर बात भी की थी. इसके बाद जब घरवालों ने छपिंदरपाल कौर को कॉल किया तो फोन उसके होने वाले पति नवनिंदरप्रीत पाल ने उठाया.

उसने ये बताया कि 14 अक्टूबर को शॉपिंग के दौरान दोनों में झगड़ा हो गया था. इसके बाद मंगेतर घर से कहीं चली गई. जल्दबाजी और गुस्से में वो अपना मोबाइल फोन भी ले जाना भूल गई. इसलिए वो भी संपर्क नहीं कर पा रहा है.

Murder Mystery : मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, पीड़िता के पिता सुखचैन सिंह ने बताया कि 13 अक्टूबर को उनकी आखिरी बार अपनी बेटी से बात हुई. उसके बाद फोन पर बेटी के होने वाले पति से ही बात हुई. लेकिन उसके जवाब से वो संतुष्ट नहीं हैं. इसलिए वो 15 अक्टूबर को पटियाला आए. सुखचैन सिंह ने बताया कि नवनिंदरप्रीत और छपिंदरपाल कौर की सगाई 2020 में हो गई थी. तब से वो शादी टाल रहा था.

आखिर में अब 20 अक्टूबर को शादी तय हुई थी. लेकिन ऐन मौके पर उस डेट पर भी शादी को उसने कोई ना कोई बहाना बनाकर टाल दिया. इस बात से छपिंदरपाल कौर बहुत परेशान थी. उसी को समझाने के लिए आरोपी ने उसे शॉपिंग के बहाने पटियाला बुलाया था. जब 15 अक्टूबर को भी बेटी नहीं मिली तो सुखचैन सिंह को नवनिंदरप्रीत पाल सिंह पर शक हुआ. तो उन्होनें उसके खिलाफ पुलिस में शिकायत दर्ज कराई.

आरोपी ने पुलिस को दिया चकमा

शुरुआती जांच के दौरान आरोपी ने पुलिस को अपनी झूठी कहानी से गुमराह किया. उसने पुलिस को बताया कि पीड़िता उससे शॉपिंग करने के लिए साथ चलने के मामूली झगड़ा कर घर से कहीं चली गई थी और मोबाइल फोन भी उसके पास ही छोड़ गई थी.

पुलिस को भी उसकी बातों में गड़बड़ी नजर आ रही थी. लिहाजा, पुलिस ने उसके बैकग्राउंड के बारे में पता लगाया. इस दौरान सामने आया कि वो पहले से शादीशुदा है. लेकिन इस बारे में उसने किसी को कोई जानकारी नहीं दी थी.

इसके अलावा, ये भी पता चला कि एक महीने के भीतर ही उसकी पत्नी की रहस्यमय हालात में मौत हो गई थी. लेकिन इस बात को भी उसने सबसे छुपाई रखी थी. यहां तक की जिनसे शादी करने वाला था उसके परिवार से भी ये बात छुपाई थी. इससे पुलिस को उस पर शक और गहरा गया.

इसके बाद पुलिस ने मंगेतर की हत्या कर शव को छुपाने का मामला दर्ज किया. पुलिस ने पीड़िता के पिता की शिकायत पर 22 अक्टूबर 2021 को गिरफ़्तार कर लिया. कोर्ट ने पुलिस को नवनिंदरप्रीत पाल सिंह का 6 दिन का रिमांड दिया जिसमें आरोपी ने दिल दहलाने वाले खुलासा किया.

रिमांड में सामने आया हैरान करने वाला सच

आरोपी ने पुलिस रिमांड में जो खुलासा किया वो बेहद ही चौंकाने वाला था. उसने कहा कि मंगेतर छपिंदरपाल कौर की नाइट्रोजन गैस के जरिए पहले हत्या की और फिर उसके शव को अपने घर में ही फर्श खोदकर छुपा दिया है. इस वारदात को उसने 13 अक्टूबर की रात को ही अंजाम दे दिया था.

आरोपी ने पुलिस को बताया कि वो हत्या को ऐसे अंजाम देना चाहता था जिससे किसी को शक ना हो. वो ये भी नहीं चाहता था कि उसे मारपीट करनी पड़े या फिर गला दबाना पड़े. या फिर किसी चाकू या दूसरे हथियार का इस्तेमाल करना पड़े. ऐसे में आखिर कौन सी तरकीब है जिससे हत्या भी कर दें और कोई सबूत नहीं मिले.

इसलिए उसने काफी पहले ही हॉलीवुड और साउथ की कई सस्पेंस थ्रिलर फिल्में देखीं थीं. इन फिल्मों से उसे ये बात पता चली कि अगर किसी को ऑक्सीजन की जगह नाइट्रोजन गैस सुंघा दी जाए तो जाहिर है शरीर को ऑक्सीजन ही नहीं मिलेगी. और जब ऑक्सीजन की कमी हो जाए तो मौत स्वाभाविक है.

फिर क्या था. इस शख्स ने भी वही तरीका अपनाया लेकिन अब सवाल ये था कि आखिर वो अपनी मंगेतर को क्या कहकर ऑक्सीजन की जगह नाइट्रोजन गैस सुंघाता. लिहाजा, इसके लिए भी उसने एक नई तरकीब निकाली. उसने अपनी मंगेतर से कहा कि शादी से पहले चेहरे पर चमक लाने के लिए ऑक्सीजन गैस लेनी पड़ेगी.

ऐसा करने से चेहरे पर ग्लो आ जाएगी. और भी कई बहाने बनाकर गैस लेने के लिए उसने मंगेतर को तैयार करा लिया. इसके बाद चालाकी से ऑक्सीजन सिलिंडर में नाइट्रोजन गैस भरवाकर घर ले आया और मंगेतर को दे दी. मंगेतर ने ऑक्सीजन की जगह नाइट्रोजन गैस से भरे सिलिंडर का मास्क लगा लिया और कुछ देर बाद ही दम तोड़ दिया.

क़त्ल के बाद शव को भी फिल्मी तरीके से छुपाया

क़ातिल ने अपना जुर्म छुपाने के लिए कोई कमी नहीं छोड़ी. उसने मंगतेर के शव को छुपाने के लिए भी फिल्मी तरीके से ताना-बाना बुना. आरोपी छपिंदरपाल कौर को मारने के बाद उसकी लाश को अपनी अर्बन एस्टेट फेज-1 की कोठी के बेडरूम में ही दफ़नाया था.

आरोपी ने देर रात गड्‌ढा खोदने के लिए बाकायदा ग्लबस पहने और पत्थर टूटकर टुकड़ा आंख में ना जाए, इसके लिए चश्मा भी पहना. गड्‌ढा खोदते वक्त शोर न हो, इसलिए टीवी की आवाज तेज कर दी. कई घंटे तक लगातार खुदाई करने के बाद लाश को ठिकाने लगाया. इसके बाद आरोपी ने गड्‌ढे को प्लास्टर से बराबर किया और मैट बिछाकर बेड लगा दिया. ताकि किसी को उसके बारे में कोई भनक ही ना लग सके.

गर्भवती पत्नी की भी नाइट्रोजन गैस से की थी हत्या

पुलिस की जांच में पता चला कि आरोपी ने 12 फरवरी 2018 को गांव बिशनपुरा तहसील सुनाम की रहने वाली सुखदीप कौर के साथ भी शादी की थी. शादी कुछ साल बाद ही आरोपी सुखदीप को भी मारने में जुट गया था. आरोपी ने उसकी भी 19 सितंबर 2021 की देर रात नाइट्रोजन गैस सुंघाकर हत्या कर दी थी.

उसने बताया कि जब हत्या की उस समय सुखदीप प्रेग्नेंट थी. ऐसे में उसने बहाना बनाया कि अगर वो आक्सीजन लेगी तो बच्चे का विकास बेहतर होगा. उसके बाद उसने नाइट्रोजन गैस सुंघाकर अपनी पत्नी को मार दिया था. वारदात के बाद उसने पत्नी के परिवारवालों को बताया था कि हार्ट अटैक आने से उसकी मौत हो गई. चूंकि सुखदीप के शरीर पर कोई चोट के निशान नहीं थे और ना ही कोई खून निकला था. इसलिए घरवाले भी उसे हार्ट अटैक मानकर शांत हो गए थे.

पुलिस ने ऐसे बरामद किया शव

पुलिस ने बताया कि पीड़िता की लाश को आरोपी ने बेडरूम में चार फीट गहरे गड्‌ढे में गाड़ दिया था. पुलिस ने नायब तहसीलदार की मौजूदगी में लाश को निकाला और पोस्टमार्टम के लिए भेजा.

पुलिस ने बताया कि क्राइम सीन रीक्रिएट करने के लिए पुलिस की टीम आरोपी को 22 अक्टूबर की सुबह 7 बजे उसके घर गई. उसके पिता रिटायर्ड लेफ्टिनेंट कर्नल बलवंत सिंह को उसके साथ घटनास्थल पर बिठाया गया. घटना के समय आरोपी के माता-पिता कहां गए हुए थे, इस बात का खुलासा अभी पुलिस ने नहीं किया है.

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT