Ritika Murder : दीवानगी, शक और 50 लाख, आगरा की ब्लॉगर रितिका मर्डर की पूरी कहानी

Agra Blogger Ritika Case : यूपी के आगरा की ब्लॉगर रितिका की हत्या (Murder) क्यों हुई. पति आकाश (Ritika Aakash) ने क्या सिर्फ गुस्से में मर्डर किया. Live-in-Partner विपुल की क्या है भूमिका.
Agra Blogger Ritika Murder Story in hindi
Agra Blogger Ritika Murder Story in hindi

Agra Blogger Ritika Story : इसे प्यार तो नहीं कहेंगे. इसे जानलेवा दीवानगी ही कह सकते हैं. यूपी के आगरा में ब्लॉगर रितिका (Blogger Ritika) की मौत. पति का सनकीपन. उसकी एकतरफा दीवानगी. बेरोजगारी. और बीवी पर शक करना. ऐसी तमाम वजहें जो रितिका की हत्या की वजह बनीं. आज क्राइम की कहानी (Crime Stories in Hindi) में जानेंगे रितिका मर्डर (Ritika Murder) की इनसाइड स्टोरी.

Ritika Murder Full story
Ritika Murder Full story

Agra Ritika Murder kahani : रितिका. 30 साल की खूबसूरत लड़की. काम फूड और फैशन पर वीडियो बनाना. टीचर की नौकरी. सोशल मीडिया पर एक्टिव रहना. इंस्टाग्राम पर 45 हजार से ज्यादा फॉलोवर्स. तमाम वीडियो में खुशी-खुशी हंसकर फैशन और फूड ब्लॉगिंग करने वाली रितिका अचानक खामोश हो गई. लेकिन उसकी खामोशी ने आगरा की एक सोसायटी में काफी शोर मचाया. अचानक पूरी सोसायटी में हड़कंप मच गया.

ये सोसायटी है ओम श्री प्लैनिटम अपार्टमेंट. जगह आगरा का ताजगंज एरिया. तारीख 24 जून 2022. समय सुबह के तकरीबन 11 बजे के आसपास का वक्त. उसी समय सोसायटी के चौथी मंजिल के एक फ्लैट से लड़की नीचे गिरती है. चीखती हुई. हाथ-पैर रस्सी से बंधे थे.

असल में ये लड़की चौथी मंजिल से गिरती नहीं बल्कि गिराई गई थी. गिरने के कुछ देर बाद ही उस लड़की की सांसें थम जाती हैं. सोसायटी का गार्ड इसे देखता है. और फिर माजरा समझ जाता है. सोसायटी का गेट बंद कर देता है. ऊपर से ताला लगा देता है. ताकी कोई अंदर से बाहर ना जा सके.

इसके बाद तो देखते ही देखते सोसायटी में हड़कंप मच जाता है. लोग उस शोर की तरफ आते हैं जहां लड़की गिरी होती है. तब तक घनी दाढ़ी और भारी-भरकम वजन वाला एक शख्स उस लड़की के हाथ-पैर में बंधी रस्सी को खोल रहा होता है. उस समय तक इधर गार्ड आगरा पुलिस को सूचना दे देते हैं. कुछ देर बाद पुलिस भी पहुंच पाती है. पुलिस ने आकाश गौतम और दो लड़कियों को हिरासत में लिया.

फिर पता चला है कि मरने वाली लड़की रितिका थी. आरोपी लड़का आकाश उसका पति है. लेकिन वो उससे काफी समय से अलग रह रही थी. आगरा की सोसायटी में रितिका लिव-इन पार्टनर विपुल के साथ रही थी. दो से 3 महीने पहले ही किराये पर फ्लैट लिया था. लेकिन सवाल यही कि आखिर पूरी घटना क्यों और किस वजह से हुई.

Ritika Murder Accused Aakash
Ritika Murder Accused Aakash

शादी से पहले रितिका को अगवा किया था आकाश ने

रितिका मूलरूप से दिल्ली से सटे यूपी के गाजियाबाद की रहने वाली थी. यहीं पर उसके माता-पिता रहते हैं. पिता नोएडा की एक कंपनी में नौकरी करते हैं. बेटी शुरुआत में कॉन्वेंट स्कूल में पढ़ी. फिर इग्नू से साइंस में ग्रेजुएशन किया. रितिका का नानी गांव टुंडला में है. रितिका बचपन से ही नानी गांव जाती थी. वहां पड़ोस में आकाश रहता था. वो रितिका को जब देखा तो उसका दीवाना हो गया.

आकाश एकतरफा आशिकी करने लगा. पर ये रितिका को उतना पसंद नहीं था. अब धीरे-धीरे दोनों की उम्र बढ़ने लगी. रितिका करीब 21 साल की थी. साल 2013.

उस समय ऐसा हुआ कि रितिका अपने नानी गांव आई थी. पड़ोस में रहने वाले आकाश पर ऐसा पागलपन चढ़ा कि उसने रितिका पर पहले शादी करने का दबाव बनाया. उसने इनकार कर दिया. फिर प्यार करने की कसमें खाईं. लेकिन रितिका ने सीधे मना कर दिया. फिर वो आकाश उस समय रितिका की ना को स्वीकार नहीं कर सका. इसके बाद उसने रितिका को अगवा कर लिया. करीब एक हफ्ते तक अपने साथ रखा.

Blogger Ritika Murder Case
Blogger Ritika Murder Case

इधर, रितिका के परिवार की शिकायत पर पुलिस ने खोजबीन शुरू की. आरोपी को गिरफ्तार कर लिया. रितिका को बरामद कर लिया था. लेकिन कल तक आकाश को खरी-खोटी सुनाने वाली रितिका की बातें अब पहले से जुदा थीं. कल तक उसके प्यार को ठुकराने वाली रितिका अब आकाश की दीवानगी को प्यार समझ बैठी. परिवार से कह दिया कि अब वो उसी से शादी करेगी.

परिवार ने विरोध किया. ये सवाल किया कि वो कुछ करता नहीं है. तब आकाश ने दावा किया कि उसकी रेलवे में नौकरी लग चुकी है. फिर इसी दावे पर परिवार ने भी हामी भर दी. फिर अजीब दीवानगी से शुरू हुई ये कहानी लव मैरिज तक पहुंच गई. दोनों की शादी हो गई. शादी के बाद दोनों गाजियाबाद में रहने लगे. लेकिन कुछ समय बाद ही साफ हो गया कि आकाश की कोई रेलवे में नौकरी नहीं लगी है. बस उसने झूठा दावा किया था.

अब 2014 से तकरीबन 2 साल तक दोनों साथ में रहे. पर इसी दौरान से आकाश की असलियत सामने लगी. वो रितिका को प्रताड़ित करने लगा. अब कई बार रितिका अपना ये दर्द घरवालों को भी खुलकर नहीं बता पाती थी. क्योंकि अपनी मर्जी से शादी की थी.

इसके बाद रितिका पति आकाश के साथ आगरा में चली गई. वहां आकाश लगातार पत्नी पर जुल्मों सितम करता रहा. यहां रितिका की सैलरी से ही खर्च चलता रहा. वो आगरा में आकर एक स्कूल में नौकरी करने लगी. पर आकाश के काम करने और दोस्तों से बात करने से आकाश उस पर शक करने लगा था.

इस कारण एक बार तो रितिका को नौकरी छोड़नी पड़ी. इसके बाद उसने फिरोजाबाद के एक स्कूल में नौकरी करने लगी. इसी बीच, रितिका की मुलाकात करीब 2018 में विपुल से हुई थी. इधर, आकाश की नफरत से परेशान रितिका को विपुल से इमोशनल सहारा मिला. और फिर धीरे-धीरे दोनों में अच्छी दोस्ती हो गई. फिर ऐसा हुआ कि कुछ समय से दोनों कई बार साथ में भी रहने लगे.

Blogger Ritika Murder Case
Blogger Ritika Murder Case

रितिका मर्डर में 50 लाख रुपये का आखिर मामला है क्या?

अब रितिका पूरी तरह से आकाश से दूर रहने लगती है. लेकिन कानूनन वो आकाश की पत्नी थी. इस घटना को लेकर मामले की जांच कर रहे आगरा के थाना ताजगंज के एसएचओ ने क्राइम तक (Crime Tak) को बताया कि हाल में ही रितिका ने पति आकाश से कानूनी तौर पर भी अलग होने के लिए तलाक की अर्जी दी थी. तलाक के दौरान रितिका ने करीब 50 लाख रुपये के मुआवजे की मांग की थी.

आरोपी आकाश ने पूछताछ में बताया कि पिछले काफी समय से वो पता लगा रहा था कि आखिर रितिका कहां रह रही है. जब उसे विपुल और रितिका के रिश्तों के बारे में जानकारी मिली तो उसके पीछे लग गया था.

अभी तक की पूछताछ में उसने बताया कि कोर्ट में आकाश ये सबूत देना चाहता था कि रितिका अपने दोस्त विपुल के साथ लिव-इन पार्टनर के साथ रह रही है. अगर उसका वीडियो बनाकर उसने कोर्ट में पेश कर दिया तो शायद उसे 50 लाख रुपये का मुआवजा भी देना नहीं पड़ेगा. क्योंकि पत्नी अपनी मर्जी से पहले ही पति को छोड़ चुकी है किसी और के लिए.

अब कोर्ट में किसी तरह कोई पेंच ना फंसे कि वीडियो बनाने के लिए उसने किसी तरह का दबाव बनाया या फिर जबर्दस्ती की. इसलिए वो दो लड़कियों और एक लड़के को अपने साथ रितिका और विपुल के फ्लैट पर ले गया था.

आकाश ने इन दोनों लड़कियों को कुछ पैसे और नौकरी दिलाने का लालच दिया था. इसके अलावा दो अन्य युवकों को भी साथ में ले गया था. साथ में आकाश एक बैग भी ले गया था. उस बैग में पहले से 2-3 रस्सियां और कुछ कपड़े ले गया था. ताकी दोनों को साथ में रहते हुए कोई विरोध करे तो वो रस्सी से हाथ-पैर बांध सके.

फ्लैट नंबर-601 का पता लिखवाया, घुसे 404 नंबर में, फिर किया मर्डर

अब आखिर में 24 जून की सुबह सोसायटी में रितिका के फ्लैट में जाने से पहले वो उसका सही फ्लैट नंबर नहीं बताना चाहता था ताकि पहले ही वो अलर्ट नहीं हो जाए. इसलिए सोसायटी की चौथी मंजिल के फ्लैट नंबर-404 में रहने वाली रितिका के बजाय आकाश ने गलत फ्लैट नंबर 601 बताया.

इसके बाद दो लड़कियों के साथ कुल 4 लोग सोसायटी में घुसते हैं. लिफ्ट से छठी मंजिल पर जाने की बजाय चौथी मंजिल पर उतर गया. इसके बाद दोनों लड़कियों ने फ्लैट का गेट इसलिए खुलवाया ताकि सामने आकाश को देखकर दरवाजा नहीं खुलेगा.

अब दोनों लड़कियों को सामने देखकर विपुल ने दरवाजा खोला तो तुरंत आकाश भी घुस गया. इसके बाद रितिका-विपुल और आकाश के बीच कहुसनी होने लगी थी. अब लड़ाई में दोनों महिलाएं रितिका को क़ाबू करती हैं. जबकि आकाश और उसका साथी इस दौरान विपुल के हाथ पांव बांध कर उसे बाथरूम में बंद कर देता है.

इससे पहले दोनों विपुल की पिटाई भी करते हैं. विपुल को बंद करने के बाद अब आकाश और उसका साथी रितिका की पिटाई शुरू कर देते हैं. इसके बाद चारों मिल कर रितिका के हाथ पैर बांधते हैं. फिर उसे पकड़ कर बालकनी तक ले जाते हैं. इसी बीच इनके बीच ऐसा कुछ होता है कि रितिका को चौथी मंजिल से नीचे फेंक दिया जाता है.

इधर, नीचे अपार्टमेंट के गेट पर मुन्ना नाम के गार्ड की ड्यूटी थी. मुन्ना को अचानक किसी चीज़ के गिरने की ज़ोर से आवाज सुनाई देती है. ख़तरा भांपते हुए मुन्ना अपार्टमेंट का मेन गेट फ़ौरन बंद कर देता है. उधर, गिरने की तेज़ आवाज़ सुन कर अपार्टमेंट के बहुत सारे लोग भी नीचे पहुंच जाते हैं. तभी उनकी नज़र चार लोगों पर पड़ती है.

जो नीचे पड़ी, रितिका की लाश के हाथ पैर की रस्सियों को खोलने की कोशिश कर रहे थे. लाश देख कर लोग पूरा माजरा समझ जाते हैं. उधर, चौथी मंज़िल से विपुल अब मदद के लिए लगातार चीख़ रहा था. उसकी चीख़ भी लोगों को सुनाई दे जाती है. इसी के बाद अपार्टमेंट के लोग गार्ड की मदद से भागते हुए उन चारों को अपार्टमेंट के अंदर ही पकड़ लेते हैं. फिर पुलिस को फ़ोन किया जाता है.

अब तक लाश की शिनाख़्त चौथी मंज़िल पर फ़्लैट नंबर 404 में रहनेवाली ब्लॉगर रितिका की शक्ल में हो चुकी थी. पुलिस की टीम अब अपार्टमेंट के लोगों के साथ चौथी मंज़िल पर पहुंचती है. वहां उन्हें बंधा हुआ विपुल मिलता है.

अब पुलिस के पास रितिका की लाश, विपुल और चारों आरोपी भी थे. यानी साज़िश और कहानी का हर सिरा और किरदार बड़ी आसानी से पुलिस के हाथ लग चुका था. अब बस पुलिस को क़त्ल की कहानी समझनी थी. थोड़ी सी कोशिश के बाद वो कहानी भी सामने आ गई.

इस पूरे केस और कहानी में रितिका के दोस्त विपुल की भी क्या कोई भूमिका है? पुलिस इस एंगल से भी मामले की जांच कर रही है। हालांकि विपुल शादीशुदा है। उसकी वाइफ़ डेंटिस्ट है। दस साल का उसका एक बेटा भी है। लेकिन पिछले कुछ वक़्त से वो रितिका के साथ ही रह रहा था।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in