Shraddha Murder: सुलझ गया श्रद्धा हत्याकांड, पुलिस को मिले हत्या से जुड़े 80 फीसदी सबूत

Shraddha Murder Case: दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को बताया कि इस केस में करीब 80 फीसदी जांच पूरी हो चुकी है। बाकी की जांच और साइंटिफिक इंवेस्टिगेशन के पहलुओं को जोड़ना अभी बाकी है।
Shraddha murder case today Update
Shraddha murder case today Update

Shraddha Murder Case: दिल्ली पुलिस (Delhi Police) के अधिकारियों को श्रद्धा का जबड़ा (Jaw) मिला है आखिर ऐसा क्या है उस जबड़े में कि दिल्ली पुलिस केस (Case) को 80 फ़ीसदी (80 Percent) सुलझाने का दावा कर रही है। ये राज की बात जानकर आप भी हैरान रह जाएंगे! जी हां दिल्ली पुलिस ने अदालत में कहा है कि पुलिस की जांच सही दिशा में चल रही है।

दिल्ली पुलिस ने कोर्ट को बताया कि इस केस में करीब 80 फीसदी जांच पूरी हो चुकी है। बाकी की जांच और साइंटिफिक इंवेस्टिगेशन के पहलुओं को जोड़ना अभी बाकी है। अब सवाल यह है कि पुलिस क्यों पूरी तरह आश्वस्त है कि केस सुलझ गया है। दरअसल दिल्ली पुलिस को आफताब के घर के बाथरुम से जो खून के धब्बे मिले हैं।

वो बेहद अहम सबूत है। यह खून के धब्बे टाइल्स की दरारों से बरामद किए गए हैं। जाहिर पुलिस इन खून के धब्बों और श्रद्धा के परिजनों का डीएनए मिलान करके साबित करेगी कि श्रद्धा की आफताब के फ्लैट में मौजूदगी थी और कत्ल करके शरीर के टुकड़े बाथरुम मे किए गए।

पुलिस को दूसरा सबसे बड़ा सबूत श्रद्धा के जबड़े के रुप में हासिल हुआ है। जाहिर है कि पुलिस को पूरा सिर मिलता तो सुपरइंपोजिशन या फिर फेशियल रिकंस्ट्रक्शन के जरिए चेहरा तैयार कर लिया जाता। अब फिलहाल पुलिस के पास जबड़ा है और जबड़ों में दांत मौजूद हैं। यही वजह है कि पुलिस दांतों के बीच में मौजूद रासायनिक द्रव्यों से श्रद्धा के परिजनों के खून के नमूनों का डीएनए मिलान करेगी। जिससे लाश को जंगल में फेंके जाने की थ्योरी को बल मिलेगा। यह एक बड़ा कनेक्टिंग एविडेंस होगा जो सबूतों में कड़ी का काम करेगा।

सबूतों को जुटाने और आफताब के दिमाग में झांकने के अलावा दिल्ली पुलिस की एक टीम उन गवाहों की भी लिस्ट तैयार कर रही है, जिनकी मदद से अदालत में एक मजबूत केस खडा किया जाएगा। इस सिलसिले में अभी तक पुलिस ने कुल 11 लोगों की सूची तैयार की है। इनमें से ज्यादातर वो गवाह हैं, जो आफताब और श्रद्धा दोनों को जानते हैं।

कुछ गवाह छतरपुर पहाडी के भी हैं। जहां श्रद्धा ने अपने आखिरी दिन गुजारे। गवाहों के अलावा पुलिस अलग-अलग इलाकों के सीसीटीवी कैमरों की तस्वीरों को भी इलेक्टॉनिक एविडेंस के तौर पर जमा करने की कोशिश में जुटी है। सीसीटीवी फुटेज के अलावा आफताब और श्रद्धा की मोबाइल की कॉल डिटेल रिकॉर्ड से भी बहुत सारी जानकारी पुलिस के हाथ लगी है। दोनों के फोन के लोकेशन इस केस में एक अहम सबूत साबित होंगे।

Related Stories

No stories found.
Crime News in Hindi: Read Latest Crime news (क्राइम न्यूज़) in India and Abroad on Crime Tak
www.crimetak.in