ड्रग्स की लत लगाकर बेटे से करवाती थी चोरी, फिर उन्हीं पैसों से मां करती थी अय्याशी

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Mumbai: आमतौर पर यहीं सुना या कहा जाता है कि एक मां ही अपने बच्चे में संस्कार डालती है और उसे सही गलत का पाठ भी पढ़ाती है. एक मां अपने बच्चे को हर गलत आदत से दूर रखने की कोशिश करती है. लेकिन ये सभी के साथ हो ऐसा जरूरी नहीं है, क्योंकि ऐसा ही एक मामला मुंबई से सामने आया है जहां पर पुलिस ने एक सनसनीखेज खुलासा किया है. सीरियल चोरी को अंजाम देने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार किया गया है, लेकिन जो बड़ी बात पता चली वो ये कि इस आरोपी की मां ही अपने बेटे को चोरी या कोई भी अपराध करने से पहले उसे ड्रग्स दिया करती थी. इसके बाद नशे में आकर उसका बेटा वारदात को अंजाम दिया करता था. 

मां अपने बच्चे को देती थी ड्रग्स

आरोपी की पहचान 24 साल के कृष्णा रवि महेसकर के रूप में हुई है. उसके खिलाफ मुंबई के कई पुलिस स्टेशन में चोरी के 22 से ज्यादा मामले दर्ज हैं. पूरे मामले की जांच हुई तो पता चला की वारदात को अंजाम देने से पहले खुद आरोपी की मां उसे ड्रग्स देती थी ताकि वो आसानी से चोरी कर सके. 

पुलिस ने क्या बताया?

कालाचौकी थाने के उप-निरीक्षक राजेंद्र चव्हाण ने बताया कि, "महेसकर एक आदतन अपराधी है. उसकी मां विजेता महेसकर का सभी अपराधिक गतिविधियों में अहम रोल है. वो चोरी से पहले उसे ड्रग देती है, और चोरी करके लाए हुए सामान को अपने पास ही रखती है. पुलिस ने आरोपी कृष्ण रवि महेसकर को गिरफ्तार कर लिया है, लेकिन आरोपी की मां विजेता महेसकर फिलहार फरार चल रही है.  

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT