शादी में म्यूज़िक पर गुस्साया तालिबान, कर दिया क़त्ल-ए-आम!

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

अफगानिस्तान में जब से तालिबानियों का कब्जा हुआ है, आम लोगों की ज़िंदगी मुश्किल में पड़ गई है। आए दिन लोगों की निजी जिंदगी में तालिबानी हुकूमत खलल डाल रही है। अब नांगरहार सूबे के स्रा रोड जिले में शनिवार को एक निकाह भी इनका शिकार बना जिसमें तालिबानियों की वजह से खुशी का मौका गम में बदलते देर न लगी।

दरअसल निकाह में गाने बजाना तालिबानियों की नजर में गुनाह हो गया और वे इसे बंद कराने के लिए आ धमके। वहां मौजूद कुछ लोगों से बहस हुई लेकिन हथियार के साथ वहां पहुंचे तालिबानी लड़ाकों ने ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी जिसके कारण 13 लोगों की मौत हो गई। इसपर अफगानिस्‍तान के पूर्व उपराष्ट्रपति अमरुल्लाह सालेह ने ने ट्वीट कर रोष व्‍यक्‍त किया और पाकिस्‍तान को भी जमकर खरी-खोटी सुनाई।

सालेह ने अपने ट्वीट में कहा, 'तालिबान लड़ाकों ने नांगरहर प्रांत में निकाह के एक कार्यक्रम के दौरान चल रहे संगीत को बंद करने के लिए 13 लोगों की हत्या कर दी। हम सिर्फ इस घटना निंदा करके अपना क्रोध नहीं जा सकते।' पाकिस्‍तान को आड़े हाथों लेते हुए उन्‍होंने कहा, '25 साल तक पाकिस्तान ने उन्हें अफगान संस्कृति को खत्म करने और हमारी धरती पर कब्जा करके ISI (पाकिस्‍तान की खुफिया एजेंसी) के कट्टर शासन की स्थापना के लिए ट्रेनिंग दी। अब यह अपना काम कर रहा है।' सालेह ने एक अन्‍य ट्वीट में लिखा, 'यह शासन लंबे समय तक नहीं चलेगा। लेकिन दुर्भाग्य से इसके अंत तक अफगानों को लगातार इसकी कीमत चुकानी होगी।'

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT