हनीमून पर डॉक्टर ने काट दिया पत्नी का 'प्राइवेट पार्ट'

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

(GERMANY) जर्मनी के एक स्त्री रोग विशेषज्ञ पर अपनी ही पत्नी का प्राइवेट पार्ट करने के आरोप दर्ज किए गया है, आरोप हैं कि इस डॉक्टर ने अपने हनीमून पर सामान्य कैंची से ही पत्नी का ऑपरेशन कर दिया। हेल्मश्टेट शहर में अदालत के अधिकारियों ने पुष्टि की है कि डॉक्टर पर मारपीट और जोर-जबर्दस्ती करने का मुकदमा दर्ज करने की प्रतिक्रिया शुरू की गई है। आरोप है कि इस डॉक्टर ने होटल के कमरे में ही ये सर्जरी की, इसके लिए अनस्थीसिया तक इस्तेमाल नहीं किया गया। इस वजह से महिला को भयंकर पीड़ा सहनी पड़ी और बहुत मात्रा में खून भी बहा।

बताया जा रहा है कि महिला 31 साल की है और वो इस सर्जरी के लिए इसलिए राजी हुई क्योंकि उसे तलाक की धमकी दी गई थी, जिसका मतलब उसके लिए सामाजिक बहिष्कार होता। जब महिला ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई तो अधिकारियों ने जांच शुरू की, आरोपी डॉक्टर ने इस मामले पर फिलहाल कोई टिप्पणी नहीं की है। दरअसल जर्मनी के कुछ समुदाय में आज भी महिला के प्राइवेट पार्ट का कुछ हिस्सा काटने की प्रथा है, जिसे आप ख़तना भी कह सकते हैं। (Female Genital Mutilation)

कड़वी हकीकत है महिला खतना दुनियाभर में कई संस्कृतियों में है, हालांकि कई सरकारें इस परंपरा को खत्म करने के लिए कानूनी और अन्य तरीके आजमा रही हैं। जर्मनी में अगर कोई महिला खतने का दोषी पाया जाता है तो उसे कम से कम एक साल की जेल हो सकती है। फीमेल जेनिटल म्यूटिलेशन (एफजीएम) या आसान भाषा में कहें तो महिला खतना पर अंतरराष्ट्रीय स्तर पर रोक के बावजूद दुनिया के कई देशों में यह एक हकीकत है।

ADVERTISEMENT

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इस परंपरा के खिलाफ लंबा अभियान चलाया है, इसके बावजूद दुनिया भर में लगभग 20 करोड़ महिलाओं और लड़कियों का खतना हुआ है। माना जाता है कि अफ्रीका में हर साल तीस लाख लड़कियों पर इसका खतरा मंडरा रहा है।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT