UP News : एक रसमलाई की कीमत तुम क्या जानो लड़की वालों!

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

UTTAR PRADESH RASMALAI NEWS: क़िस्सा यूपी के सम्भाल ज़िले का है जहां एक दूल्हे और उसके दोस्तों की डिमांड ने अच्छा ख़ासा हंगामा ही खड़ा कर दिया. दरअसल बीती 15 जून को सम्भालज़िले में एक बारात आई. सब कुछ ठीक था. बाराती आए, नाचे, गाए, और फिर थकान और नशे में चूर होकर खाना खाने बैठ गए।

लड़की के घरवालों ने अपने मेहमानों के लिए अपने पलक पावड़े बिछा दिए. ख़ातिरदारी में कोई कसर नहीं छोड़ी. लेकिन हर बारात में कोई न कोई अनैठ तो हो ही जाती है...तो बस दूल्हे के दोस्तों ने ऐसी अनैठ की कि बात शादी के टूटने की कगार तक जा पहुँची.

Crime ajab gajab : RASMALAI NEWS: हुआ ये कि दोस्तों को कुछ ज्यादा ही लग गई थी. सिर पर सुरूर सवार था...और दूल्हे का दोस्त होने की अलग से ऐंठन...बस फिर क्या था...लड़की के घरवालों पर अपनी चलानी शुरू कर दी. और ऊल जलूल हरकतों के बीच बेफिजूल की डिमांड भी करने लगे.

ADVERTISEMENT

इसी बीच पता नहीं किस शराबी दोस्त को रसमलाई की सनक सवार हो गई. उसने इसी रसमलाई पर कलेश की चाशनी टपकानी शूरू कर दी। और देखते ही देखते हंसी खुशी के माहौल में गर्मागर्मी की हालत पैदा हो गई.

RASMALAI NEWS: डिमांड ये थी कि दूल्हे को रसमलाई नहीं दी गई इसलिए अब बारात लौटेगी. अपने दरवाजे से बारात लौटने की बात को सुनकर लड़की के घरवालों के पैरों तले ज़मीन ही खिसक गई. लोकलाज के डर से दिमाग सुन्न पड़ गया. तो सारे के सारे जनाती मिलकर बारातियों के आगे मिन्नतें करने लगे कि कुछ भी कर लें लेकिन ऐसा न करें जिससे शादी टूटने की बात हो और समाज में उनके नाम पर हंसी उड़े. लेकिन दूल्हे के दोस्तों के सिर पर तो अंगूर की बेटी का नशा तारी था. लिहाजा वो ऐंठने लगे.

ADVERTISEMENT

और बात फिर बातों की हदों को लांघने भी लगी. मेहमानों के बीच अचानक मां बेटी के रिश्तों को दावत देने जैसी बातें भी होने लगीं. अब मामला दूल्हे के दोस्तों का था लिहाजा दूल्हा भी दोस्तों के पाले में जा कर खड़ा हो गया. इधर फेरों का महूर्त निकल रहा था. लिहाजा बारातियों को यूं बिदकता देखकर लड़की के घरवालों ने शराफत का चोला उतार फेंका और फिर आर पार के रंग में आ गए. और मामले को सीधे इलाके के थाने में ले गए.

ADVERTISEMENT

RASMALAI NEWS: थाने में पुलिस अफसर ने जब पूरा क़िस्सा सुना तो मुंसिफ बनकर उन्होंने लड़की वालों का ही पक्ष लिया और पुलिसिया तरीक़े से मामले को सुलटाया.

सबसे पहले दोनों पक्षों को आमने सामने बिठाया. दूल्हे को क़ायदे से समझाया और दूल्हे के दोस्तों को सिपाहियों के हवाले करके उनकी अलग से ख़ातिरदारी करवाने का बंदोबस्त किया.

पुलिस को अपने रंग में आता देख, दूल्हा और उसके घरवालों के रंग फीके पड़ गए। और फौरन पुलिस अफसर की बात को मानकर वो लोग बिना किसी तामझाम के शादी करने को राजी भी हो गए.

अगले रोज फिर बारात आई, बारात की बाकायदा खातिरदारी हुई, इस बार खाने में रसमलाई भी थी! दूल्हा दुल्हन के फेरे हुए और फिर लड़की की विदाई हो गई.

NOTE : ये खबर CRIME TAK के साथ इंटर्नशिप कर रहीं Shruti Upadhyay ने लिखी है.

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT