Crime news Hindi: कानपुर में लूट अमेरिका में ऐसे दिखी LIVE, फिर पुलिस-बदमाशों में 3 घंटे चली गजब वाली मुठभेड़

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Kanpur LIVE CCTV Loot : घर की चौकीदारी करने का ये तरीका तो पूरा का पूरा ढिंचैक वाला निकला. घर को चोर उच्चकों से बचाने के लिए चौकीदारी कराने के लिए खुफिया कैमरा लगाया था. इस कैमरे से 10 या 20 किलोमीटर दूर से नहीं बल्कि दूर देश अमेरिका में बैठकर नजर रखे हुए थे.

घर में जैसे ही कुछ बदमाश घुसने का प्रयास करने लगे तभी अमेरिका में बैठे इंजीनियर को इसकी भनक लग गई. अब अमेरिका से बैठकर तो वो बदमाशों को भगा नहीं सकते थे. और ना ही डंडा मारकर भगा सकते थे.

लेकिन ये तरीका जरूर अपनाया. वो फिर से वही हाईटेक तरीका था. कैमरे में लगे माइक पर बोलने लगे. बदमाशों से कहा कि...

ADVERTISEMENT

तुम लोग सीसीटीवी में रिकॉर्ड हो रहे हो. यहां से भाग जाओ. अगर नहीं भागे तो पुलिस को बुला देंगे.

लेकिन बदमाश भी कम नहीं थे. घर के मालिक अमेरिका से उन्हें देख रहे थे. तो ये थे देसी कनपुरिये एकदम. भागे नहीं. बल्कि कैमरे पर ही भिड़ गए. सबसे पहले तो बदमाशों ने यही सोचा कि फसाद की जड़ कैमरा ही है. इसलिए पहले तो CCTV कैमरे को ही तोड़ दिया. ताकी अब वो अमेरिका वाला देख ही नहीं सके.

इसके बाद घर का ताला तोड़कर अंदर घुस गए. इसके बाद लगे अपने अंदाज में सामान लूटने. अब इसी बीच, इंजीनियर ने पुलिस को सूचना दी. पुलिस भी तुरंत तत्पर हो गई. मौके पर पहुंची. और फिर शुरू होता है बदमाशों और पुलिस के बीच एनकाउंटर. आखिर ये पूरी घटना है क्या. इसे जरा तसल्ली से समझ लेते हैं.

ADVERTISEMENT

कानपुर की है पूरी घटना

ADVERTISEMENT

ये पूरी घटना है उत्तर प्रदेश के कानपुर की. यहां एक कॉलोनी है. उसका नाम है श्याम नगर. इसके डी-ब्लॉक के एक फ्लैट में सॉफ्टवेयर इंजीनियर विजय अवस्थी और आशुतोष अवस्थी का परिवार रहता है. ये एसचीएल में सॉफ्टवेयर इंजीनियर हैं. पिता की मौत के बाद दोनों भाई अमेरिका में सेटल हो गए.

अमेरिका के न्यू जर्सी में. लेकिन वो जानते थे कि घर की सुरक्षा भी जरूरी है. ऐसे में किसी चौकीदार या गार्ड को नहीं रखा. अब सॉफ्टवेयर इंजीनियर थे. इसलिए हाईटेक CCTV कैमरे लगा दिए. उस कैमरे को इंटरनेट से जोड़ दिया और उसके फुटेज को अमेरिका से ही अपने मोबाइल फोन पर देखने लगे.

ये तकनीक हम और आप भी इस्तेमाल कर सकते हैं. काफी संख्या में लोग आज भी इसका इस्तेमाल कर रहे हैं. इसकी मदद से आप देश या दुनिया में कहीं भी रहें फिर भी आप मोबाइल फोन पर ही अपने घर पर कैमरे की मदद से नजर बनाए रख सकते है.

रात 12 बजे हुई घटना, अमेरिका में दिन के डेढ़ बज रहे थे

ये घटना है सोमवार रात यानी 17 जनवरी की. देर रात करीब 12 बजे के आसपास में कुछ बदमाश एक बंद घर में घुसने लगे. अब भले ही कानपुर में आधी रात थी. लेकिन अमेरिका में तो दिन था. उस समय अमेरिका में दोपहर के डेढ़ बज रहे थे. ऐसे में जैसे ही दरवाजे पर खटपट की आवाज हुई वैसे ही विजय अवस्थी को इसकी भनक लग गई. वो तुरंत अमेरिकी से ही अपने घर के बाहर होने वाली ताकझांक को देखने लगे.

उसी दौरान देखा कि 4 से 6 बदमाश घर के बाहर हैं. दरवाजे पर लगे ताले को तोड़ने में जुटे हैं. इसे देखते ही विजय चौकन्ने हो गए. जिस डर की वजह से वो कैमरे लगाए थे और पल-पल की नजर रखते थे आखिर में वही डर सच साबित हुआ.

बदमाशों को घर में घुसते और ताला तोड़ते देखा तो विजय ने कैमरे के साथ लगे माइक से ही कह दिया कि तुम लोगों को मैं देख रहा हूं. अच्छा होगा यहां से भाग जाओ. अगर नहीं भागे तो पुलिस को बुला देंगे. लेकिन वो बदमाश कहां मानने वाले थे. घर में घुसकर लूटने से पहले बदमाशों ने CCTV को ही तोड़ डाला. इसके बाद मकान में घुसे.

इसे देखते ही विजय ने इसकी सूचना सबसे पहले अपने पड़ोसी को दी. और फिर उन्होंने चकेरी थाना पुलिस को जानकारी दी. सूचना मिलते ही चकेरी पुलिस तुरंत मौके पर भागते हुए पहुंची. पुलिस ने भी सोचा कि आज बदमाशों को पकड़ ही लेंगे. पुलिस वहां पहुंची और घर को चारों तरफ से घेर लिया.

पुलिस ने बदमाशों को बाहर आने के लिए तो वो छुपकर फायरिंग करने लगे. इसके बाद तो करीब डेढ़ घंटे तक पुलिस और बदमाशों के बीच फायरिंग करने का खेल चलता रहा. आखिरकार 5 बदमाश तो पुलिस को चकमा देकर फिर भी भाग निकले. लेकिन एक बदमाश पुलिस के हत्थे चढ़ ही गया. पड़ोसियों ने बताया कि देर रात 12 से 3 बजे तक पुलिस और बदमाशों के बीच मुठभेड़ हुई.

बदमाशों को सरेंडर के लिए कहती रही पुलिस, वे भाग निकले


इस घटना में पुलिस की लापरवाही की भी पोल खुल गई. क्योंकि पुलिस के पहुंच जाने और घेराबंदी करने के बाद भी बदमाश पुलिस को चकमा देकर छत से भाग निकले. और पुलिस खाक छानती रही गई. बस एक बदमाश ही पुलिस की गिरफ्त में आ सका.

पुलिस का कहना है कि इस मकान में किरायेदार और एक केयरटेकर भी था. लेकिन कुछ दिन पहले ही सभी अपने-अपने काम से कहीं चले गए थे. इस तरह घर बंद था. इसी बीच बदमाशों ने इस वारदात को अंजाम दिया. पुलिस अब फरार बदमाशों की तलाश कर रही है.

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...