जयपुर में 50 हजार की रिश्वत लेते हुए थानेदार गिरफ्तार, 6 अन्य को भी एसीबी ने दबोचा

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Jaipur News : राजस्थान के जयपुर में रिश्वतखोरी के मामलों में कई लोगों पर कार्रवाई हुई है. एंटी करप्शन ब्यूरो ने एक थाना प्रभारी समेत 7 लोगों को गिरफ्तार किया. इसमें एक सहायक सब इंस्पेक्टर भी शामिल है. बताया जा रहा है कि थाना प्रभारी को 50 हजार रुपये की रिश्वत लेते हुए रंगेहाथ गिरफ्तार किया गया था.

एसीबी की ओर से जारी बयान के अनुसार, जयपुर शहर (दक्षिण) के अधीन आने वाले कोटखावदा थाने के थानाधिकारी जगदीश तंवर के खिलाफ सबसे पहले कार्रवाई की गई. उसे 50 हजार रुपये की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया.

परिवादी द्वारा शिकायत दी गई कि उसके खिलाफ दर्ज प्रकरण में उसकी गिरफ्तारी के वक्त उससे रिश्वत की मांग की गई तथा अब उसके अन्य परिजनों की गिरफ्तारी होने पर उनका पुलिस रिमांड नहीं लेने तथा तुरन्त न्यायालय में पेश करने की एवज में आरोपी थानाधिकारी 50 हजार रूपये रिश्वत मांग कर परेशान कर रहे हैं ।

ADVERTISEMENT

एसीबी की टीम ने सोमवार को कार्रवाई करते हुए आरोपी थानाधिकारी जगदीश तंवर को गिरफ्तार कर लिया। वहीं एसीबी की एक अन्य टीम ने करौली जिले के पुलिस थाना नादौती में तैनात सहायक उपनिरीक्षक निहाल सिंह को परिवादी से 10 हजार रूपये की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया।

इसमें कहा गया है कि बूंदी में बिजली विभाग के कनिष्ठ अभियन्ता राजेन्द्र कुमार मीणा व ठेकेदार कन्हैयालाल को परिवादी से 20 हजार रूपये की रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किया गया।

ADVERTISEMENT

एंटी करप्शन ब्यूरो के अनुसार आरोपी, परिवादी से 10 हजार रूपये की रिश्वत राशि शिकायत की सत्यापन प्रक्रिया के दौरान भी ले चुके थे। बयान में कहा गया है कि एक अन्य मामले में अलवर में नगर विकास न्यास यू.आई.टी. के कनिष्ठ लिपिक मुकेश कुमार सहित दो संविदाकर्मी 32 हजार रूपये की कथित रिश्वत लेते रंगे हाथ गिरफ्तार किए गए। आरोपियों के निवास व अन्य ठिकानों पर भी तलाशी ली गई है।

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT