राजस्थान के दौसा में बच्ची का बलात्कारी दरोगा नौकरी से बर्खास्त, दुष्कर्म का आरोपी उपनिरीक्षक गिरफ्तार

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

Rajasthan Big Crime: राजस्थान के दौसा जिले में एक बच्ची से कथित दुष्कर्म के मामले में आरोपी पुलिस उपनिरीक्षक को गिरफ्तार कर लिया गया है और उसे सेवा से बर्खास्त कर दिया गया है। पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी। राज्य के पुलिस महानिदेशक उमेश मिश्रा ने एक बयान में कहा कि दुष्कर्म की घटना की जानकारी मिलने पर शुक्रवार को ही आरोपी पुलिसकर्मी को सेवा से बर्खास्त करने के निर्देश दिए गए थे। इसके अनुसार, जयपुर रेंज के पुलिस महानिरीक्षक उमेश दत्ता ने शनिवार को बर्खास्तगी का आदेश जारी किया।

पुलिसकर्मी को सेवा से बर्खास्त

मामला सामने आने पर मुख्य विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने राज्य सरकार पर निशाना साधा। वहीं, राज्यपाल कलराज मिश्र ने पुलिस को सख्त कार्रवाई के निर्देश दिए हैं। दौसा की पुलिस अधीक्षक वंदिता राणा ने बताया, ‘‘आरोपी के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर ली गई है। मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रैंक के अधिकारी कर रहे हैं। पीड़ित लड़की का बयान दर्ज कर लिया गया है और आगे की कार्रवाई की जा रही है।’’ उन्होंने कहा कि आरोपी उपनिरीक्षक को कल ही निलंबित कर दिया गया था। 

उपनिरीक्षक को कल ही निलंबित कर दिया गया

पुलिस ने बताया कि पीड़िता की मेडिकल जांच कराई गई है और उसकी हालत स्थिर है। पुलिस के मुताबिक लालसोट क्षेत्र में आरोपी उपनिरीक्षक भूपेन्द्र सिंह शुक्रवार दोपहर करीब चार वर्षीय पीड़िता को बहला-फुसलाकर अपने कमरे में ले गया और उसने उसके साथ कथित तौर पर दुष्कर्म किया। पुलिस के अनुसार, पीड़िता के माता-पिता की शिकायत के बाद आरोपी के खिलाफ भारतीय दंड संहिता, पॉक्सो अधिनियम और अजा/जजा अधिनियम की सम्बद्ध धाराओं के तहत प्राथमिकी दर्ज की गई है तथा मामले की जांच अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक रैंक के अधिकारी को सौंपी गई है।

ADVERTISEMENT

आरोपी उपनिरीक्षक गिरफ्तार

घटना के बाद बड़ी संख्या में स्थानीय लोगों ने सम्बद्ध थाने का घेराव कर पुलिस के खिलाफ नारेबाजी की थी। स्थानीय लोगों द्वारा आरोपी उपनिरीक्षक की पिटाई का एक वीडियो भी सोशल मीडिया पर वायरल हुआ है। भाजपा सांसद किरोड़ी लाल मीणा भी कल पीड़िता के लिए न्याय की मांग करते हुए घटनास्थल पर गए थे। विपक्षी दल भाजपा के नेताओं ने राज्य में कानून-व्यवस्था के मुद्दे पर एक बार फिर कांग्रेस पर निशाना साधा है। शनिवार को एक संवाददाता सम्मेलन में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शहजाद पूनावाला ने आरोप लगाया कि राजस्‍थान में ‘‘दुष्कर्मियों का हौसला बुलंद है।’’ 

आरोपी किराये के मकान में रहता था

पूनावाला ने आरोप लगाया कि दौसा के प्रकरण में भी विरोध प्रदर्शन के बाद ही मामला दर्ज किया गया। राज्यपाल मिश्र ने पुलिस महानिदेशक मिश्रा से फोन पर बात की और मामले में दोषी के खिलाफ त्वरित और सख्त कार्रवाई करने के निर्देश दिए। उन्होंने कहा कि इस तरह की घटनाएं पूरे समाज को शर्मसार करती हैं।आरोपी किराये के मकान में रहता था दरअसल, चुनाव के मद्देनजर राहुवास थाने में भूपेन्द्र सिंह की ड्यूटी थी. आरोपी सब इंस्पेक्टर भूपेन्द्र सिंह उसी गांव में एक मकान में किराये पर रहता था. इसी बीच उसके कमरे के पास खेलते हुए 4 साल की बच्ची आ गई, जिसे भूपेन्द्र बहला-फुसलाकर कमरे में ले गया। आरोप है कि लड़की के साथ बेरहमी से रेप किया गया.

ADVERTISEMENT

बीजेपी हमलावर हो गई

राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री परसादी लाल मीणा ने इस मामले पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा, 'पूरा थाना लाइन हाजिर रहेगा. आरोपी सब इंस्पेक्टर को गिरफ्तार कर लिया गया है. पीड़ित परिवार को आर्थिक सहायता दिलाने के लिए सीएम से बात की जाएगी. बीजेपी नेता वसुंधरा राजे ने सोशल मीडिया पर पोस्ट कर लिखा, ‘कांग्रेस ने पिछले पांच साल में राजस्थान को जो कुशासन दिया, उसका नतीजा है कि बेटियों से दरिंदगी की घटनाएं नहीं रुक रही हैं. दौसा में चार साल की मासूम बच्ची से दुष्कर्म की घटना ने एक बार फिर राजस्थान को शर्मसार कर दिया है. इस बेटी की चीखें प्रदेश की जनता के कानों में तब तक गूंजती रहेगी जब तक अपराधियों को सजा नहीं मिल जाती. जब तक इस निष्क्रिय सरकार की विदाई नहीं हो जाती!’

ADVERTISEMENT

(PTI)

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT