सैलरी कम थी इस वजह से झपटमार बन गया सिविल इंजीनियर, झपटमारी से बनाई करोड़ों की संपत्ति!

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

CRIME NEWS MAHARASHTRA :

पुलिस की पकड़ में आए 27 साल के सिविल इंजीनियर का नाम उमेश पाटिल है। उमेश पाटिल नौकरी कर रहा था लेकिन वो अपनी सैलरी से खुश नहीं था। इस वजह से उसने पार्ट टाइम झपटमारी को अपना प्रोफेशन बना लिया।

चेन झपटमारी से आने वाली रकम को उमेश अपनी गर्लफ्रेंडों पर उड़ाया करता था। वो उन्हें नासिक के बाहरी इलाकों में बनी वाइनरी में ले जाया करता था।

ADVERTISEMENT

पाटिल ने झपटमारी की शुरुआत तुषार ढिकले नाम के शख्स के साथ की, उसने चेन झपटमारी की 20 वारदात को उसके साथ अंजाम दिया लेकिन फिर उसे लगने लगा कि वो अगर अकेले वारदात करेगा तो पकड़ जाने के चांस बेहद कम है।

नवंबर 2020 से ही उमेश ने तुषार का साथ छोड़ दिया और अकेले ही झपटमारी करना शुरु कर दिया। नवंबर 2020 से लेकर अब तक वो अकेले 36 चेन झपटमारी की वारदात को अंजाम दे चुका है।

ADVERTISEMENT

पुलिस ने पहले 21 अक्टूबर को उमेश पाटिल को गिरफ्तार किया । उमेश से पूछताछ के बाद पुलिस ने उसके साथी तुषार को भी गिरफ्तार कर लिया। इन दोनों के साथ ही पुलिस ने चार ज्वैलर को भी गिरफ्तार किया है। इनसे भी पूछताछ की जा रही है कि ये अब तक इनसे झपटमारी का कितना माल खरीद चुके हैं।

ADVERTISEMENT

ऐसे आया पकड़ में

झपटमारी की बढ़ती वारदात पुलिस के लिए सिरदर्द बन गई थीं। पुलिस ने कई टीम बनाईं और गंगापुर इलाके में लगा दी । ऐसे जगहों की निशानदेही की गई जहां पर झपटमारी की वारदात ज्यादा हो रही थीं। सादा वर्दी में भी पुलिस की टीम को तैनात किया गया, इसी दौरान जब दो पुलिसवाले सादा वर्दी में बाइक पर पेट्रोलिंग कर रहे थे तब उन्हें उमेश पाटिल जाता हुआ दिखा।

पुलिस को उस पर शक हुआ जिसके बाद दोनों पुलिसवालों ने उसका पीछा शुरु कर दिया। उमेश शिकार की तलाश में घूम रहा था तभी उसे एक बुजुर्ग महिला नजर आई। उमेश ने अपनी बाइक मोड़ी और वो उस महिला की ओर बढ़ने लगा। उमेश की हरकत पुलिसवाले भांप गए और उन्होंने उमेश का पीछा शुरु कर दिया।

इससे पहले उमेश चेन झपटमारी की वारदात को अंजाम दे पाता, पुलिसवालों ने उसकी बाइक में टक्कर मार दी जिसकी वजह से वो गिर पड़ा । पुलिसवाले भी गिरे लेकिन उन्होंने उमेश को मौके से भागने नहीं दिया।

दो-दो जैकेट पहनकर करता था वारदात

जब पुलिसवालों ने उमेश की तलाशी ली तो उसने टी-शर्ट के ऊपर दो जैकेट पहन रखी थीं। पुलिस ने जब उमेश की एक जैकेट उतारी तो उसके कंधे पर एक बैग लटका हुआ था। इस बैग में उमेश ने नंबर प्लेट और पेंच रखे हुए थे, साथ ही तीन मास्क भी मिले। वो हर वारदात के बाद नंबर प्लेट बदल देता था ताकि पुलिस की आंखों में धूल झोंक सके।

कर रहा था सोने के दाम बढ़ने का इंतजार

उमेश पाटिल के घर की तलाशी ली गई तो पुलिस को वहां से 2.5 लाख रुपये कैश और 27 सोने की चैन मिलीं जिनकी कीमत 29.32 लाख रुपये है। पाटिल ने पुलिस को पूछताछ में बताया कि वो सोने के दाम बढ़ने का इंतजार कर रहा था, एक बार दाम बढ़ने के बाद वो इन सोने की चेन को बाजार में बेचने वाला था।

पुलिस के मुताबिक चेन झपटमारी से उमेश पाटिल ने 48 लाख का एक फ्लैट, एक कार और लाखों रुपये कमाए हैं। पुलिस को उमेश के दो बैंक खातों में बीस लाख रुपये मिल हैं जो उसने चेन झपटमारी कर कमाए थे।

वायरल वीडियो: साड़ी वाली आंटी के साथ बीच सड़क कुछ ऐसा हुआ कि वो सरपट भागने लगीं , पुलिस भी खड़ी बस देखती रह गईलोग दिल्ली की दुकान में खरीद रहे थे मिठाई, अचानक चलने लगी गोलियां देखिए Viral Video!मियां के गुटखा खाते ही गायब हो गई बीवी!

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT