बीच सड़क पर अपने बच्चों को क्यों बेच रहा है ये पाकिस्तानी पुलिसवाला?

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

PAKISTANI POLICEMAN SELLING CHILDREN

वो कह रहा था कि उसके बच्चे पचास हजार रुपये में बिकाऊ हैं और कोई भी उन्हें पैसे देकर खरीद सकता है। उसका अंदाज कुछ ऐसा था जैसे वो बच्चे नहीं बलकि भाजी-तरकारी बेच रहा हो।

ये वाक्या पाकिस्तान के सिंध राज्य के घोटकी का है। वीडियो बहुत तेजी से वायरल हो गया और हर कोई जानना चाहता था कि आखिर इस पुलिसवाले की ऐसी क्या मजबूरी है कि ये बीच सड़क अपने बच्चों की बोली लगा रहा है।

ADVERTISEMENT

अपने दो बच्चों को सड़क पर बेच रहे इस पुलिसवाले का इल्जाम था कि वो अपने बच्चों को बेचने को इसलिए मजबूर हुआ है क्योंकि उसे अपने बच्चों को बेचकर रिश्वत का इंतजाम करना है।

इस पुलिसवाले का नाम नीसार लशारी बताया जा रहा है और ये पाकिस्तान के सिंध राज्य की घोटकी की जेल में तैनात है। निसार का आरोप है कि उसके बच्चों की तबीयत ठीक नहीं रहती।

ADVERTISEMENT

जब उसने अपने सुपरवाइजर से छुट्टी मांगी तो उसने छुट्टी देने के एवज में पचास हजार रुपये की मांग कर डाली। निसार के मुताबिक उसने आला अधिकारियों को भी बताया कि उसके एक बच्चे की तबीयत खराब है और उसके इलाज के लिए उसे छुट्टी चाहिए लेकिन अधिकारियों ने भी उसकी कोई मदद नहीं करी। सुपरवाइजर तो पहले से ही छुट्टी देने के एवज में पचास हजार रुपये मांग रहा था।

ADVERTISEMENT

जब ये वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हुआ तो अनुशासन का हवाला देते हुए निसार का तबादला घोटकी से लरकाना कर दिया गया जो वहां से 120 किलोमीटर दूर है। लोगों ने सोशल मीडिया पर निसार के पक्ष में कैंपेन चलाया और फिर इस मामले की खबर सिंध के मुख्यमंत्री मुराद अली शाह तक पहुंची।

मुराद अली ने इस मामले में हस्तक्षेप करते हुए निसार का तबादला दोबारा घोटकी कर दिया और उसे अपने बेटे के इलाज के लिए 14 दिन की छुट्टी देने का भी आदेश दिया।

मुख्यमंत्री की इस पहल से निसार खुश है और अब वो अपने बच्चे का इलाज आराम से करा सकेगा लेकिन ये अजीबोगरीब मामला इशारा करता है कि पाकिस्तान में भ्रष्टाचार जड़ों तक फैला हुआ है और भ्रष्टाचार को उखाड़ फेंकने के नाम पर आने वाली इमरान खान की सरकार भी तीन साल में कोई ऐसा कमाल नहीं कर पाई कि पाकिस्तान से भ्रष्टाचार का सफाया हो गया हो।

कर्नल ज़हीर की कहानी : इस वजह से पाकिस्तान ने सुनाई थी मौत की सज़ा; अब भारत में मिला है पद्मश्री सम्मानSUNDAY SPECIAL: पाकिस्तान की फौज पर राज करने वाली “जनरल रानी” की बेटी की वजह से पंजाब में क्यों मचा है हंगामा?वो डाकू जिसे पकड़ने के लिए सेना भेजनी पड़ी, पाकिस्तान के सबसे बड़े डाकू छोटू की कहानी

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT