Delhi Crime: शहीद की पत्नी से 20 लाख की ठगी में 11 महीने बाद एफआईआर

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

Delhi Crime News: साल 2016 में पंपोर में हुए आतंकी हमले (Terror Attack) में सीआरपीएफ के शहीद (Martyr) हुए जवान की पत्नी (Wife) ने दिल्ली के नेब सराय थाने में ठगी की एफआईआर (FIR) दर्ज कराई है। पुलिस ने दो लोगो के खिलाफ जिसमे एक ज्वेलर भी शामिल है के खिलाफ एफआईआर धोखाधडी (Cheating) के तहत एफआईआर दर्ज की है।

2016 में आतंकियों ने पुलवामा के पंपोर में सीआरपीएफ के जवानों पर बड़ा आतंकी हमला किया था। आतंकी हमले में नीतू सिंह के पति संजय सिंह समेत 8 जवान शहीद हो गए थे। सरकार की तरफ से 20 लाख रुपए की मदद नीतू सिंह को मिली थी। मूलता जौनपुर की रहने वाली नीतू अपने पति की मौत के बाद अपने दो नाबालिग बच्चों के साथ दिल्ली के संगम विहार में रहने लगी थी।

नीतू सिंह अपने पति की पेंशन से अपना खर्च चला रही थी। आरोपी ज्वैलर नीतू सिंह के परिवार को जानता था। नीतू सिंह की शिकायत्वके मुताबिक वो अक्सर छोटा मोटा ज्वेलरी का सामान लेने ज्वैलर की दुकान पर जाया करती थी। इस दौरान ज्वैलर को इस बात की जानकारी मिली कि नीतू सिंह को 20 लाख रुपयों की सरकारी मदद मिली है।

ADVERTISEMENT

आरोप है कि इन्हीं रुपयों के लिए ज्वेलर ने नीतू सिंह को झांसे में लिया। और उनको समझाया कि अगर वह इस पैसे को सोने में इन्वेस्ट कर देती हैं तो पैसा बड़ी तेजी से बढ़ जाएगा और उन्हें ज्यादा मुनाफा होगा। ज्वैलर के जानकार होने की वजह से नीतू सिंह को उस पर शक नहीं हुआ। और लगातार समझाने की वजह से उन्होंने 20 लाख रुपए इन्वेस्ट कर दिए। जानकारी के मुताबिक ये सारे पैसे ऑनलाइन ट्रांसफर किए गए थे।

आरोप है कि ज्वेलर ने सारे पैसे अपने अकाउंट में ट्रांसफर करा दिए लेकिन 1 साल बीत जाने के बाद भी जब नीतू सिंह को कोई रिटर्न नहीं मिला तो उन्होंने अपने पैसे मांगे जिस पर ज्वेलर ने कहा कि सोने के दाम गिर गए हैं नुकसान हो गया है और वह पैसे देने में भी आनाकानी करने लगा। जिसके बाद नीतू सिंह अपने भाई के साथ ज्वेलर के पास गई तो उसने उन्हें धमका कर भगा दिया।

ADVERTISEMENT

जिसके बाद नीतू सिंह पुलिस के पास पहुंची लेकिन आरोप है कि पुलिस ने एफ आई आर दर्ज करने में कई महीनों का वक्त लगा दिया। 19 अगस्त को दिल्ली पुलिस ने इस मामले में धोखाधड़ी और जान से मारने की धमकी देने की धाराओं में दो आरोपियों के खिलाफ एफ आई आर दर्ज कर ली है।

ADVERTISEMENT

पुलिस का कहना है कि एफ आई आर दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है और पता लगाया जा रहा है कि किन परिस्थितियों में और किस तरीके से नीतू सिंह ने किन शर्तों पर पैसे ज्वैलर को दिए थे। इस मामले में जल्द कार्रवाई की जाएगी।

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT