आर्यन-अनन्या की ड्रग्स चैट वायरल होने के बाद इस राज्य की पुलिस राहगीरों को रोक फोन में तलाश रही है ड्रग्स, ऐसे चला रही है अभियान

ADVERTISEMENT

CrimeTak
social share
google news

HYDERABAD CRIME NEWS: मुंबई क्रूज ड्रग्स मामले में आर्यन खान और अनन्या पांडेय के बीच ड्रग्स को लेकर वॉट्सऐप चैट का वायरल होने हैदराबाद पुलिस के लिए नया हथियार बन गया. दरअसल, मीडिया रिपोर्ट्स में ये सामने आया है कि हैदराबाद पुलिस अब मोबाइल फोन पर चैट चेक कर रही है. ये पता लगाने के लिए कहीं किसी ने ड्रग्स को लेकर चैट तो नहीं की है.

आर्यन खान (ARYAN KHAN) के केस के चलते मीडिया-सोशल मीडिया में ‘ड्रग्स-ड्रग्स’ छाया हुआ है. ऐसे में मुंबई से करीब 700 किलोमीटर दूर हैदराबाद में ड्रग्स ढूंढने की पुलिस नें अलग ही मुहिम चला दी है. यहां पुलिस सड़क पर आने जाने वाले वाहनों को रोककर पहले उनकी तलाशी लेती है, फिर गाड़ियों पर सवार लोगों की मोबाइल फोन दिखाने को कहती है और उसमें ड्रग्स ढूंढने लगती है.

पुलिस फोन में ऐसे ढूंढ रही है ड्रग्स

ADVERTISEMENT

आजकल सोशल मीडिया पर हैदराबाद पुलिस का एक वीडियो वायरल (Viral) हो रहा है इसमें पुलिसवाले सड़क पर जा रहे लोगों को रोककर उनके मोबाइल फोन की जांच कर रहे हैं. पुलिसवाले ऐसा इसलिए कर रहें है ताकि अगर किसी की चैट में गांजा या ड्रग्स के बारे में कोई भी शब्द हो तो उसके बारे में पता लगाया जो सके और कार्रवाई की जाए.

क्या है पूरा मामला ?

ADVERTISEMENT

HYDERABAD CRIME NEWS: हैदराबाद पुलिस ने ड्रग्स का सेवन कम करने के लिए एंटी ड्रग्स ड्राइव चलाया है. दावा है कि पिछले 2 महीने से यह अभियान चलाया गया है. वाइरल वीडियो में दिख रहा है कि पुलिसवाले सड़क पर जा रहे लोगों, खासकर बाइक और स्कूटी वालों को रोकते हैं, उनका सामान चेक करते हैं. साथ ही उनके मोबाइल भी खंगालते हैं और चैट में ड्रग्स जैसे गांजा,हैश या माल जैसे शब्द खोजते हैं.

ADVERTISEMENT

कईं लोग इस अभियान का साथ दे रहें है वहीं ऐसे भी लोग हैं जो इस अभियान के खिलाफ़ है और इससे व्यक्ति की प्राइवेसी खत्म होती है.

पुलिस का पक्ष

साउथ जोन के डीसीपी(DCP) गजराव भूपाल ने कहा कि, बहादुरपुरा थाना क्षेत्र के असदबाबा नगर इलाके में 100 से ज्यादा पुलिसकर्मियों ने तलाशी अभियान में हिस्सा लिया था. अब तक अभियान के दौरान 58 वाहनों की तलाशी ली गई है.

शांति भंग करने के आरोप में 10 आरोपियों को हिरासत में भी लिया है. उन्हें आपराधिक गतिविधियों से दूर रहने की सलाह दी गई है. पिछले दो महीनों से हम हैदराबाद कमिश्नरेट में ड्रग्स, गांजा के खिलाफ एक विशेष अभियान चला रहे हैं. कानून का उल्लंघन करने वालों को बख्शा नहीं जाएगा.

लोगों ने ट्वीट कर जताई नाराज़गी

CRIME NEWS: मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, हैदराबाद पुलिस द्वारा लोगों की चेकिंग की जा रही विडियो को पोस्ट करते हुए एक्टिविस्ट श्रीनिवास कोडाली ने ट्वीटर पर लिखा - हैदराबाद पुलिस लोगों को रोककर उनकी फोन चैट सर्च कर रही है. वो लोगों के फोन में गांजा जैसे शब्द तलाश कर रही है. इंतजार करें जब तक वे शब्दों को NRC, मोदी या भाजपा से बदल दें.

वहीं, एक यूजर ने पुलिस से पूछा कि किस नियम के अंतर्गत आप राहगीरों की जांच कर रहे हैं ? क्या आपके पास कोई ड्रग्स इंटेलिजेंस टीम है या नहीं ?

कुछ एक्टिविस्ट ने पुलिस की निंदा करते हुए कहा है कि यह ना केवल अवैध है, बल्कि असंवैधानिक भी है. उनके मुताबिक 2017 में सुप्रीम कोर्ट साफ कर चुका है कि प्राइवेसी (Right to Privacy) एक मौलिक अधिकार है.

NOTE : ये ख़बर क्राइम तक के साथ इंटर्नशिप कर रहे नवीन कौशिक ने लिखी है.

कोर्ट ऑर्डर से रिहाई तक की ये है पूरी प्रक्रिया, संतरी ये कह कर बुलाएगा आर्यन को, फिर ऐसे होगी पहचान, अंत में दिलाई जाएगी ये 'कसम'ARYAN KHAN : जेल से बाहर आने के बाद कोर्ट की माननी होंगी ये शर्तें; वकील की वो 10 दलीलें जो बनीं आर्यन की जमानत का आधार

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT