त्रिपुरा में नाबालिग से चलती कार में गैंगरेप, गैंगरेप के बाद कार से फेंका, एक गिरफ्तार

ADVERTISEMENT

जांच में जुटी पुलिस
जांच में जुटी पुलिस
social share
google news

Tripura Crime News: दक्षिण त्रिपुरा में एक नाबालिग के साथ सामूहिक दुष्कर्म किए जाने और इसके बाद चलती कार से उसे फेंके जाने का मामला सामने आया है। पुलिस ने शुक्रवार को यह जानकारी देते हुए बताया कि घटना बुधवार को तेपानिया इको पार्क में हुई। इस मामले में 21 वर्षीय युवक को पूर्व गोकुलपुर स्थित उसके घर से गिरफ्तार किया गया है। पुलिस के मुताबिक, वह मुख्य आरोपी है और उसके तथा पीड़ित के बीच फेसबुक के जरिए दोस्ती हुई थी। दो आरोपी फरार हैं।

उदयपुर के उप मंडलीय मजिस्ट्रेट निरुपम दत्ता ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया, ‘‘ मुख्य आरोपी ने लड़की पर तेपानिया पार्क में मिलने का दबाव बनाया और वहां लड़की की आपत्ति के बावजूद उसकी कुछ तस्वीरें खींची।’’ उन्होंने बताया, ‘‘जब लड़की को लगा कि उसे ब्लैकमेल किया जा रहा है तो उसने वहां से भागने का प्रयास किया, लेकिन उसे सफलता नहीं मिली।’’

रेप के बाद चलती कार से फेंका

दत्ता ने बताया कि मुख्य आरोपी 17 वर्षीय लड़की को जंगल में ले गया और वहां उसके साथ दुष्कर्म किया। उसके दो और साथी वहां पहुंचे और उन्होंने भी लड़की के साथ दुष्कर्म किया। उन्होंने बताया, ‘‘ घर लौटते वक्त तीनों आरोपियों ने पीड़िता को राजरबाग इलाके में चलती कार से फेंक दिया और फरार हो गए।’’ लड़की ने घर पहुंच कर आपबीती अपने परिजनों को सुनाई जिसके बाद बृहस्पतिवार को आरके पुर महिला पुलिस थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई।

ADVERTISEMENT

सोशल मीडिया से नाबालिग को फंसाया

उन्होंने बताया कि लड़की और मुख्य आरोपी पिछले छह महीने से फेसबुक के जरिए दोस्त थे और उस युवक ने लड़की से अपनी पहचान छिपाई थी। दत्ता ने कहा, ‘‘ मामले में जांच की जा रही है और दो फरार आरोपियों को गिरफ्तार करने का प्रयास किया जा रहा है।’’ त्रिपुरा महिला आयोग की अध्यक्ष बरनाली गोस्वामी ने घटना की निंदा की है। उन्होंने कहा, ‘‘हम देख रहे हैं कि सोशल मीडिया मंच के जरिए नाबालिग लड़कियों को फंसाया जा रहा है। हमें स्कूल और कॉलेज जाने वाली लड़कियों को सोशल मीडिया के जरिए होने वाली दोस्ती के बुरे प्रभावों के बारे में जागरुक करना होगा।’’

(PTI)

ADVERTISEMENT

    यह भी पढ़ें...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT