Video: नौकर के घर में करोड़ों के नोटों का अंबार, ये वीडियो देखकर आंखें फटी रह जाएंगी?

ADVERTISEMENT

Ranchi ED Raid: बताया जा रहा है कि नौकर की सैलरी 15 हजार है, इसी नौकर के घर में अब तक 30 करोड़ कैश मिल चुके हैं, सवाल ये है कि कौन हैं झारखंड के मंत्री आलमगीर, जिनके PA के नौकर के घर अथाह पैसा मिला है?

social share
google news

Viral Video: ईडी ने झारखंड के मंत्री आलमगीर आलम के सचिव के घरेलू सहायक के घर की तलाशी ली। तलाशी के दौरान भारी मात्रा में नगदी बरामद हुई है। अफसरों के मुताबिक अब तक करीब 30 करोड़ रुपए कैश बरामद हो चुके हैं। साझा किए गए वीडियो और तस्वीरों में ईडी के अधिकारियों को गाड़ीखाना चौक में बनी एक इमारत के एक कमरे में से नोटों की गड्डियों को गिनते हुए देखा जा सकता है। छापेमारी के दौरान केंद्रीय बलों के कुछ सुरक्षाकर्मी भी दिखे।

30 करोड़ कैश बरामद

जहां से नकदी बरामद की गई है वहां कथित तौर पर झारखंड के ग्रामीण विकास मंत्री आलम के निजी सचिव संजीव लाल का एक घरेलू सहायक रहता है। आलम ने कहा, ''मुझे अभी तक इस संबंध में कोई आधिकारिक जानकारी नहीं प्राप्त हुई है।'' उन्होंने कहा, 'मैं टीवी देख रहा हूं और इसमें बताया जा रहा है कि यह परिसर सरकार द्वारा मुझे मुहैया कराए गए आधिकारिक पीएस (निजी सचिव) से जुड़ा है।

घर में करोड़ों कैश अधिकारी हैरान

ईडी के सूत्रों ने कहा कि नकदी गिनने के लिए नोट गिनने वाली मशीनें लगाई गई हैं, ताकि बरामद की गई राशि कितनी है इसका पता लगाया जा सके। उन्होंने कहा कि यह राशि 30 करोड़ रुपये से ज्यादा भी हो सकती है। बरामद की गई नकदी में मुख्य रूप से 500 रुपये के नोट हैं और कुछ आभूषण भी बरामद किए गए हैं। आलम (70) कांग्रेस नेता हैं और झारखंड विधानसभा में पाकुड़ सीट से चुनाव लड़ते हैं।

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

कौन हैं झारखंड के मंत्री आलमगीर

यह छापेमारी ग्रामीण कार्य विभाग के पूर्व मुख्य अभियंता वीरेंद्र के. राम के खिलाफ धनशोधन के मामले से जुड़ी है। वीरेंद्र राम को पिछले साल ईडी ने गिरफ्तार किया था। एजेंसी ने पिछले साल जारी एक बयान में कहा था कि रांची में ग्रामीण कार्य विभाग में मुख्य अभियंता वीरेंद्र कुमार राम ने ठेकेदारों को ठेके आवंटित करने के बदले में उनसे रिश्वत के नाम पर अवैध कमाई की थी। एजेंसी ने अधिकारी की 39 करोड़ रुपये की संपत्ति जब्त की थी।

    यह भी देखे...

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT