रामपुर जेल से रिहा की गईं सपा नेता आज़म ख़ान की पत्नी, कहा- इंसाफ अभी जिंदा है!  

ADVERTISEMENT

तजीन फातिमा ने कहा कि यह एक सुनियोजित षड्यंत्र किया गया। जिसमें सभी लोग बराबर से शामिल रहे हैं यानी कि पुलिस प्रशासन, सरकार यहां तक कि मुझे मीडिया से भी शिकायत है कि उन्होंने कभी सच्चाई को सामने लाने की कोशिश नहीं की।

social share
google news

Video: समाजवादी पार्टी के नेता मोहम्मद आजम खान की पत्नी और पूर्व सांसद डॉ तज़ीन फातिमा रामपुर ज़िला जेल से रिहा हो गईं। रामपुर के एमपी एमएलए कोर्ट ने पूर्व विधायक बेटे अब्दुल्लाह आजम खान के दो अलग-अलग जन्म प्रमाण पत्र के मामले में सजा सुनाई थी। इसी केस में तजीन फातिमा 18 अक्टूबर 2023 से रामपुर जेल में बंद थी। जबकि आजम खान और अब्दुल्ला आजम खान सीतापुर और हरदोई जेल में बंद है।

इंसाफ जिंदा है और इंसाफ मिला

जेल से रिहाई के बाद डॉ तजीन फातिमा ने मीडिया से कहा कि नाइंसाफी की हार हुई है और कोर्ट में कहीं ना कहीं इंसाफ जिंदा है और इंसाफ मिला है। आजम खान और अब्दुल्ला आजम अभी जेल में है उनसे क्या उम्मीद रखती हैं? इस पर तजीन फातिमा ने कहा, देखिए हमें जो सजा दी गई हैं वह एक सुनियोजित षड्यंत्र किया गया। जिसमें सभी लोग बराबर से शामिल रहे हैं यानी कि पुलिस प्रशासन, सरकार यहां तक कि मुझे मीडिया से भी शिकायत है कि उन्होंने कभी सच्चाई को सामने लाने की कोशिश नहीं की।

ये एक सुनियोजित षड्यंत्र है

यह पूछे जाने पर की जहां आज आपको जेल से रिहाई मिली है वहीं डूंगरपुर मामले में आजम खान को दोषी करार दिया है? इस पर तजीन फातिमा ने कहा, मैं यह कहना चाहूंगी कि डूंगरपुर में जो मकान बनवाए गए वह सरकारी जमीन पर बनवाए गए और सरकारी पैसे से बनाए गए और सरकार ने बनाए हैं उसमें आजम खान साहब या मेरा या किसी का कोई लेना-देना नहीं है। 

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

(रामपुर से आमिर खान की रिपोर्ट)

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...