Video: 9 साल का बच्चा बना यूपी पुलिस का ADG, पुलिस की जिप्सी में की पेट्रोलिंग, पुलिसवालों ने दी सलामी

ADVERTISEMENT

ब्रेन ट्यूमर से पीड़ित बच्चे को वाराणसी में एक दिन के लिए आईपीएस अधिकारी बनाया गया, बच्चे को एडीजी बनाकर पुलिसकर्मियों ने सलामी दी।

social share
google news

Varanasi: उत्तर प्रदेश के वाराणसी की एक दिल को छू लेने वाली कहानी देखने को मिली। यहां 9 साल के प्रभात ने आई. पी. एस. अधिकारी बनने के अपने सपने को पूरा किया। हालांकि ये 9 साल का बच्चा महज़ एक दिन के लिए ये ख्वाब सच कर सका। महामना कैंसर अस्पताल में ब्रेन ट्यूमर से बहादुरी से जूझ रहे प्रभात की यह इच्छा यूपी पुलिस विभाग ने मान ली थी। राणसी के एडीजी जोन पीयूष मोर्डिया ने अपने आधिकारिक एक्स प्रोफाइल पर ये दिल को छू लेने वाला पोस्ट साझा किया। 

कैंसर पीड़ित बच्चा एक दिन के लिए बना ADG जोन

एडीजी ने लिखा कि 9 साल का प्रभात का महामना कैंसर अस्पताल, वाराणसी में ब्रेन ट्यूमर का इलाज चल रहा है। ऐसे में रणवीर ने आईपीएस अधिकारी बनने की इच्छा जताई थी, इसलिए बच्चे की इच्छा ऑफिस एडीजी जोन वाराणसी में पूरी हुई। पोस्ट में रणवीर के खास दिन की तस्वीरें और एक वीडियो शामिल हैं। तस्वीरों में देखा जा सकता है कि 9 साल का प्रभात एक पुलिस केबिन में एडीजी की कुर्सी पर बैठा है। नन्हे प्रभात ने बाकायदा खाकी वर्दी पहन रखी है। सिर पर आईपीएस अफसर की कैप है और हाथों में बैटन मौजूद है।  

पुलिसकर्मियों ने दी सलामी

एडीजी ने एक वीडियो पोस्ट की है जिसमें प्रभात पुलिस कर्मियों के साथ गर्मजोशी से बातचीत करते हुए और उनसे हाथ मिलाता नजर आ रहा है। वीडियो का समापन एक दिल को छू लेने वाली समूह तस्वीर के साथ होता है, जिसमें प्रभात और उनके सपने को सच करने वाले अधिकारियों की मुस्कुराहट कैद है। प्रभात के माता पिता और लोगों ने कैंसर से पीड़ित छोटे बच्चे को कार्यालय में बैठने और उसके सपने को पूरा करने का मौका देने के लिए अधिकारियों को धन्यवाद दिया।

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...