शिकारी खुद शिकार हो गया! पत्नी ने रची पति की हत्या की साजिश, प्रेमी ने किया डबल क्रास, पति ने पत्नी को दे दी खौफनाक मौत

ADVERTISEMENT

UP Noida Crime News: राजकुमारी ने जितेन्द्र उर्फ जित्तू से एक साल पहले अपने पति को रास्ते से हटाने व जीतू के साथ रहने की बात कही थी।

social share
google news

UP Noida Crime News: 26 सितंबर की सुबह तकरीबन 8:30 बजे दादरी थाना इलाके के सरस्वती विहार कॉलोनी में राजकुमारी को गोली मार कर हत्या कर दी गई। राजकुमारी की उम्र लगभग 40 साल थी। राजकुमारी को उस वक्त गोली मारी गई जब वो काम पर जा रही थी। दो बाइक सवार बदमाश राजकुमारी को गोली मारकर फरार हो गए। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने महिला को घायल अवस्था में अस्पताल में पहुंचाया जहां पर डॉक्टरों ने महिला को मृत घोषित कर दिया। पुलिस की पांच टीमें इस हत्याकांड को सुलझान में जुटी थीं। 

प्रेमी ने किया डबल क्रास

दो दिन पहले ही नोएडा पुलिस ने हत्याकांड को अंजाम देने वाले दो शूटरों को गिरफ्तार किया। कान्ट्रेक्ट किलर अरविन्द उर्फ मोनू गुर्जर और अनिकेत ने राजकुमारी को गोली मारकर हत्या की थी। दोनों ने पुलिस पूछताछ में चौंकेने वाला खुलासा किया। खुलासा ये हुआ कि राजकुमारी की हत्या की सुपारी उसके पति ने दी थी। दरअसल पुलिस की पांच टीमें दादरी, सूरजपुर, कासना, खेडी, तिलपता, जारचा तथा सीमावर्ती जनपद बुलन्दशहर, गाजियाबाद, हापुड, दिल्ली, पलवल हरियाणा एवं अन्य तमाम सम्भावित स्थानों पर अभियुक्तों की तलाश में दबिश दे रही थीं। साइबर एवं सर्विलांस की मदद से मृतका के मोबाइल नंबर की सीडीआर की जांच की गई। शुरुआती जांच में सम्पर्क मे आये 1000 से अधिक लोगों को जीरो इन किया गया और फिर जाकर राजकुमारी के संपर्क मे आए 35 मोबाइल नंबर धारकों से अलग-अलग पूछताछ की गयी। 

पुलिस की गिरफ्त में आरोपी

पति ने पत्नी को दे दी खौफनाक मौत

जांच के मध्य यह तथ्य प्रकाश मे आया कि मृतका रूपये उधारी पर दिया करती थी और उसके हिसाब किताब की डायरी अपनी बेटी से बोल बोल कर तैयार कराती थी परन्तु वह गायब थी। साइकलोजिकल एनालेसिस व कालर फ्रिकवेनसी चेंज के आधार पर मृतका के पडोसी कपिल गुर्जर की संदिग्धता सामने आई। जिसके आधार पर लूरे उर्फ कुशलपाल व जितेन्द्र उर्फ जित्तू और मृतका का पति पुष्पेन्द्र के नाम सामने आए। जांच में पता चला कि इन लोगों ने ही यानि कपिल गुर्जर, लूरे उर्फ कुशलपाल, जितेन्द्र उर्फ जित्तू , पुष्पेन्द्र (मृतका का पति) ने ही कान्ट्रेक्ट किलर अरविन्द उर्फ मोनू गुर्जर व अनिकेत को हायर कर राजकुमारी की हत्या कराई थी। दबिश के बाद पुलिस ने कुशलपाल उर्फ लूरे, जितेन्द्र, पुष्पेन्द्र, कपिल कुमार उर्फ कपिल गुर्जर को सरस्वती विहार कालोनी दादरी से गिरफ्तार किया गया है। 

ADVERTISEMENT

ADVERTISEMENT

हायर किए गए सुपारी किलर

पति व उसके साथियों की गिरफ्तारी से खुलासा हुआ कि मृतका अपने पति के शराब पीने और लोगो से कर्जा लेने की आदतों से परेशान थी। ये भी पता चला कि राजकुमारी ने जितेन्द्र उर्फ जित्तू से एक साल पहले अपने पति को रास्ते से हटाने व जीतू के साथ रहने की बात कही थी। राजकुमारी की ये काल रिकार्डिंग जितेन्द्र उर्फ जित्तू ने राजकुमारी के पति पुष्पेन्द्र को सुना दी थी। जिससे पुष्पेन्द्र कुंठित हो गया और उसने अपनी पत्नी को ठिकाने लगाने की प्लानिंग करने लगी। पुष्पेंद्र ने अपने चाचा कुशलपाल उर्फ लूरे को साजिश में शामिल किया। चूंकि जितेन्द्र उर्फ जित्तू पर मृतका का एक लाख रूपया तथा कुशलपाल उर्फ लूरे पर मृतका का 2 लाख 50 रूपये उधार थे इसलिये दोनों भी राजकुमारी के पति पुष्पेन्द्र की योजना में शामिल हो गए। इतना ही नहीं तीनों ने अपने पडोसी कपिल गुर्जर जिस पर मृतका के 25 हजार रूपये उधार थे उसको भी अपनी योजना में शामिल कर लिया। 

पति ने रची हत्या की साजिश

मृतका के पति पुष्पेन्द्र को जानकारी थी कि मृतका के 6 लाख रूपये उसके लाकर में रखे हुए हैं। लॉकर की डुप्लीकेट चाबी पुष्पेन्द्र ने बनवा ली थी। सरस्वती विहार स्थित मकान मृतका के नाम था। राजकुमारी का मकान व लॉकर में रखे 6 लाख रूपये हडपने के मकसद से मृतका के पति पुष्पेन्द्र द्वारा अपने सहयोगी कपिल गुर्जर, कुशलपाल उर्फ लूरे, जितेन्द्र उर्फ जित्तू को यह बताकर अपनी योजना में शामिल किया गया कि उनका उधार महिला  के मरने पर खत्म हो जायेगा। इस योजना के तहत कपिल गुर्जर द्वारा पुष्पेन्द्र , लूरे उर्फ कुशलपाल तथा जितेन्द्र उर्फ जित्तू से 2 लाख 30 हजार रूपये में महिला की हत्या के लिये अपने चचेरे भाई अरविन्द उर्फ मोनू तथा उसके मित्र अनिकेत को तैयार किया। कपिल गुर्जर ने मृतका की हत्या के लिये एडवान्स के रूप में कान्ट्रेक्ट किलर अरविन्द उर्फ मोनू व अनिकेत को 13000/- कैश व आनलाइन ट्रान्जक्शन के माध्यम से दिये गये। शेष रूपये मृतका की हत्या के बाद देना तय हुआ। 26 सितबर को कपिल गुर्जर ने राजकुमारी की रैकी कर उसकी खबर अरविन्द उर्फ मोनू तथा अनिकेत को दी गयी एवं अरविन्द उर्फ मोनू तथा अनिकेत ने सरस्वती विहार कालोनी दादरी में महिला की हत्या की घटना को अंजाम दिया। 

ADVERTISEMENT

    follow on google news
    follow on whatsapp

    ADVERTISEMENT

    यह भी देखे...